Skip Navigation Links


कन्या प्रेम राशिफल 2017

कन्या प्रेम राशिफल 2017

कन्या राशि के जातकों के लिये वर्ष 2017 प्रेम के मामले में अच्छा रहने के आसार हैं। वर्ष का आरंभ काफी चहल-पहल के साथ होने के आसार हैं। इस समय साथी का भरपूर सहयोग मिलने के आसार हैं। अविवाहित और प्रेम से वंचित जातकों के जीवन में प्यार का कमल खिल सकता है। वहीं जो जातक पहले से ही किसी के ख्वाबों में खोये हैं उनके संबंधों में नया मोड़ आ सकता है।

जनवरी के अंत में साथी की दृष्टि आपके लिये संदेहपूर्ण हो सकती है। इस समय आपके लिये सलाह है कि अपने साथी के साथ संवाद बनाये रखें व जितना हो सके उतना समय भी उनके साथ व्यतीत करें। फरवरी में गुरु के वक्री हो जाने से कुछ जातक अपने संबंधो को लेकर असमंजस की स्थिति में हो सकते हैं। इनमें से भी कुछ जातक अपने संबंधों पर पुनर्विचार करने की स्थिति में भी पंहुच सकते हैं। वहीं विवाहित जातकों के संबंध इस समय और प्रगाढ़ होने के आसार हैं।

अप्रैल में बुध व शनि के वक्री होने पर कन्या जातक संतान पक्ष को लेकर चिंतित हो सकते हैं। जो विवाहित जातक इस समय संतान पैदा करने का मन विचार बना रहे हैं उनके लिये सलाह है कि अच्छे से विचार-विमर्श करने के बाद ही अंतिम निर्णय पर पंहुचे यह समय अनुकूल नहीं कहा जा सकता। इस समय साथी के साथ किसी छोटी मोटी यात्रा पर जाने की योजना भी बना सकते हैं हालांकि इसमें थोड़ी बहुत रुकावटें आने के भी आसार हैं लेकिन अंतत: आपके प्रयास सफल हो सकते हैं।

मई में बुध व जून में बृहस्पति के मार्गी होने से आपके संबंध लगातार बेहतर व मधुर होने के आसार हैं सितंबर में राहू-केतु के राशि परिवर्तन आपके संबंधों में एक नई ताजगी लेकर आ सकता है। केतु का परिवर्तन आपके लिये विशेष रुप से लाभकारी हो सकता है क्योंकि पंचम स्थान पर केतु के आने से संतान योग बनेगा जिसके बाद आप संतानोत्पत्ति को लेकर पुनर्विचार कर सकते हैं। इस समय यदि आप प्रयास करेंगें तो सफलता मिलने के पूरे-पूरे आसार हैं। सितबंर के महीने में ही बृहस्पति का राशि परिवर्तन कर आपकी राशि से दूसरे स्थान पर आना पुराने संबंधों में नई जान डालने का काम कर सकता है। नई दोस्ती की शुरुआत के लिये भी यह बेहतर समय कहा जा सकता है। अविवाहित जातकों के लिये विवाह के योग भी इस समय बन सकते हैं। कुल मिलाकर वर्ष के बाकि समय में आपका प्रेमजीवन काफी अच्छा रहने के आसार हैं।