Skip Navigation Links


मकर राशिफल 2017

मकर राशिफल 2017

वर्ष 2017 आपके लिये एक बेहतर वर्ष साबित हो सकता है। वर्ष की शुरुआत आप काफी धूमधाम से कर सकते हैं। लेकिन इस समय बुध के धनु राशि में वक्री रहने के कारण अपनी वाणी पर ज़रूर आपको नियंत्रण रखने की आवश्यकता होगी। इस समय यदि वर्तमान नौकरी को बदलने का विचार बना रहे हैं या फिर, घर बदलना चाहते हैं या कहीं साक्षात्कार के लिये जाना हो तो यदि संभव हो तो कुछ समय के लिये इसे स्थगित कर दें। यदि जाना ही पड़े तो विद्वान ज्योतिषाचार्यों से वक्री बुध के नकारात्मक प्रभाव से बचने का उपाय अवश्य करें। बुध के मार्गी जो कि जल्द ही जो जायेंगें, होने पर आपको इन कार्यों में सफलता मिल सकती है।

जनवरी के अंत में राशि स्वामी शनि के राशि परिवर्तन के साथ ही आप पर साढ़ेसाती का प्रथम ढ़ैय्या आरंभ होगा। चूंकि शनि आपका राशि स्वामी है इसलिये यह आपके लिये नुक्सान दायक नहीं बल्कि सामान्य रुप से फलदायी ही रहने के आसार हैं।

वहीं फरवरी में बृहस्पति के कन्या राशि में वक्री रहने पर पेट संबंधी रोग होने की संभावना भी बढ़ सकती हैं। अपने खान-पान पर अवश्य ध्यान दें। निर्णयों को लेने में सावधानी रखें, बृहस्पति के वक्री प्रभाव से आपकी बुद्धि नकारात्मक हो सकती है जिससे कुछ गलत निर्णय भी आप ले सकते हैं।

अप्रैल में बुध चूंकि मेष राशि में वक्री होंगे और इसी समय शनि भी वक्री होंगे बुध का वक्री प्रभाव आप पर सामान्य रहने के आसार हैं तो शनि भी आपके लिये आंशिक रुप से इस समय फलदायी होंगें यानि राशि स्वामी भी ज्यादा लाभ आपको इस समय नहीं देंगें।

जून में बृहस्पति के मार्गी होने पर आपकी समस्याओं का समाधान होने के आसार हैं विशेषकर आपके स्वास्थ्य में आयी दिक्कतें इस समय दूर हो सकती हैं और आप एक नई ऊर्जा के साथ कार्यों को अंजाम दे सकते हैं। जुलाई के दूसरे सप्ताहांत के निकट मंगल का कर्क राशि में प्रवेश करना आपके शत्रुओं को सक्रिय कर सकता है जिससे कुछ क्षणिक बाधाएं आपके कार्यों में आ सकती हैं।

सितंबर के दूसरे सप्ताह के मध्य में केतु आपकी राशि में दाखिल होंगे यह समय शुरुआत में थोड़ा कष्टदायक हो सकता है लेकिन कुछ समय उपरांत आपको बड़ी सफलताएं भी इसके प्रभाव से मिल सकती हैं। लेकिन केतु कई बार सर्पदंश का कारण भी बनता है इसलिये अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें। सर्पदंश से बचने के लिये भगवान भोलेनाथ की पूजा कर सकते हैं। इसके साथ ही इसी सप्ताहांत पर बृहस्पति का तुला राशि में आना आपका भाग्योदय कहा जा सकता है। इस समय आपको जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में लाभ मिलने के आसार हैं। करियर और आर्थिक स्तर पर यह समय उन्नति का रहने की संभावना है। धार्मिक कार्यों के प्रति भी इस समय आपका रूझान हो सकता है। प्रेमपाश में बंधे जातक परिणय सूत्र में भी इस समय बंध सकते हैं।

अक्तूबर में शनि का परिवर्तन वर्ष के पूर्वाध में हुए सारे नुक्सान की भरपाई कर सकता है। विद्यार्थियों पर पूरे वर्ष बृहस्पति की अपार कृपा रहने के आसार हैं।

कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि वर्ष 2017 आपके लिये एक बेहतरीन साल रह सकता है। विद्वान ज्योतिषाचार्यों से परामर्श कर ग्रहों के नकारात्मक प्रभाव से बचने का उपाय करें, अपनी सेहत के प्रति सचेत रहें। आर्थिक उन्नति व प्रेम के पथ में सफलता आपके कदम चूम सकती है।