Skip Navigation Links
spiritualretreat

भारत के धार्मिक स्थल

भारत भौगोलिक, सामाजिक, सांस्कृति, धार्मिक आदि की विभिन्नताओं का देश है। यहां के लोगों की धर्म में गहरी आस्था होती है, इसकी बानगी इसी से देखी जा सकती है कि हर छोटे-बड़े गांव से लेकर बड़े-बड़े महानगरों तक, लोगों की आस्था का केंद्र बने धार्मिक स्थल सदियों से मौजूद हैं। गाहे-बगाहे इन धार्मिक स्थलों के चमत्कारों की कहानियां भी लोगों की जुबानी सुनी जा सकती हैं। अकेले गंगा नदी के किनारे-किनारे चला जाये तो हमें हरिद्वार, काशी, प्रयाग से लेकर गंगा सागर तक, एक से बढ़कर एक भारतीय धार्मिक एवं दर्शनीय स्थल दिखाई देंगें, और दिखाई देंगें इन तीर्थों की यात्रा करते, अपने तन मन को पवित्र कर मुक्ति की कामना करते श्रद्धालु। कश्मीर की वादियों से लेकर बंगाल की खाड़ियों तक किसी न किसी देवी देवता के अद्भुत मंदिर दिखाई देते हैं। अकेले देवी शक्ति की ही पूरे भारतवर्ष में 52 में से 42 पीठ हैं। बद्रीनाथ, अमरनाथ, जगन्नाथ पुरी और रामेश्वरम चार पवित्र धाम हैं जिनकी प्रसिद्धि जग जाहिर है। 12 ज्योतिर्लिंग भी भारत के धार्मिक स्थलों में श्रेष्ठ स्थान रखते हैं। यहां महाभारत की भूमि है, तो गीता के ज्ञान का प्रसार भी यहीं हुआ। यहां हिंदूओं के मंदिर हैं तो सिखों के प्रसिद्ध गुरुद्वारे भी हैं, मुसलमानों की मस्जिदें, पीर की दरगाहें हैं, शंकराचार्यों की पीठ हैं तो बौद्धों के मठ हैं। ईसाइयों की चर्च हैं तो जैनों के तीर्थ भी यहीं पर हैं। हर धार्मिक स्थल का अपना इतिहास है, कहीं लिखित साक्ष्य हैं तो कहीं जन श्रुतियां ही इतिहास बनी हैं, किसी का इतिहास पौराणिक है तो किसी के चमत्कार आधुनिक विज्ञान की समझ से परे। कई मंदिर अपनी स्थापत्य कला के लिये दुनिया भर में प्रसिद्ध हैं। हर धार्मिक स्थान से कई रोचक कहानियां एवं जानकारियां जुड़ी हैं। हमारा उद्देश्य यही है कि हम अपने पाठकों तक इस तरह की महत्वपूर्ण जानकारियां पंहुचा सकें। हमारे इस खंड में आप भारत के प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों के बारे में जान सकेंगें।