Skip Navigation Links
कन्या व्यक्तित्व

कन्या व्यक्तित्व

कन्या राशि के जातक अध्ययनशील प्रवृति के होते हैं, विद्वता इनके व्यक्तित्व की विशेष खासियत होती है। ये बहुत मेहनत करने वाले होते हैं। इनमें गजब की प्रबंधन क्षमता होती है। इनका दृष्टिकोण समीक्षात्मक होता है जिस कारण बाल की खाल निकालना इनके व्यक्तित्व का विशेष गुण बन जाता है। ये अपने जीवन में बहुत व्यवस्थित होकर रहना पसंद करते हैं। ये बहुत कुशल और व्यावहारिक होते हैं। ये बहुत ही निष्पक्ष रुप से और बहुत ही संतुलित निर्णय लेने की क्षमता रखते हैं। अमूमन कन्या जातक ईमानदार और स्पष्टवादी भी होते हैं। हालांकि कई बार इनका व्यवहार इन्हीं के खिलाफ हथियार का काम भी करता है। मसलन मीन मेख निकालने की आदत से कई बार मजाक का पात्र बन जाते हैं। कई बार ये सही होते हैं लेकिन लोग इनके पक्ष को नजरअंदाज करते हैं ऐसे में ये हथियार डाल देते हैं और अवसादग्रस्त होने लगते हैं। कन्या जातकों में कईयों को मनोवैज्ञानिक समस्याओं तक का सामना करना पड़ता है। जीवन के बाल्यकाल में काफी संघर्ष देखने को मिल सकते हैं, लेकिन व्यस्क जीवन की शुरुआत से इनका जीवन स्तर ऊपर उठने लगता है और तमाम सुख-सुविधाओं को जुटाने और भोगने में ये सक्षम हो जाते हैं।

कन्या जातक अध्ययनशील और समीक्षात्मक होते हैं इसिलये इनकी यह प्रवृति कार्यस्थल पर यह इन्हें बहुत मदद करती है। हर चीज का बारीकी से आकलन करना इन्हें कार्य में कुशल बनाता है।  ये चीजों का अच्छे से प्रबंध करते हैं। इन्हें कुर्सी पर बैठ कर करने वाले कार्य करना ज्यादा पसंद होता है।

रोमांटिक जीवन में ये अपने साथी को प्यार करते हैं, उनकी देखभाल करते हैं। इन्हें बहुत व्यवस्थित और संतुलित जीवन जीने वाले साथी पसंद आते हैं। बेवजह के दिखावे में इनका विश्वास नहीं होता। ये अपने साथी में पूर्णता की खोज करते हैं जिससे ये उनकी दूसरों के साथ तुलना करने लग जाते हैं इस कारण कई बार इनके सबंधों में खटास भी पैदा हो जाती है। हर चीज सलीके से हो व्यवस्थित हो इसके लिये इनकी सनक को देखकर इनके साथी कई बार क्रुध हो जाते हैं और इनके साथ जीवन बिताने के बारे में पुनर्विचार कर सकते है।

एस्ट्रो जानकारी