Skip Navigation Links
वृश्चिक व्यक्तित्व

वृश्चिक व्यक्तित्व

वृश्चिक राशि के जातक काफी आकर्षक एवं रहस्यत्मक नजर आते हैं। इनकी राशि का स्वामी मंगल होता है जिस कारण इनका व्यक्तित्व दबंग और क्रोधयुक्त होता है। ये स्वभाव से बहुत गंभीर होते हैं। निडर भी होते हैं साथ ही जिद्दी भी। इनकी तीव्रता का आप अंदाजा नहीं लगा सकते। इनमें अंतर्ज्ञान की एक गहरी भावना होती है। ये बहुत जिज्ञासु प्रवृति के होते हैं और बहुत कम संतुष्ट हो पाते हैं। ये दृढ़-निश्चयी होते हैं और सपष्टवादी भी। इनका व्यक्तित्व काफी संदिग्ध नजर आता है ये एक बहुत अच्छे, गहरे, ईमानदार और वफादार दोस्त की भूमिका निभा सकते हैं तो एक बहुत ही क्रूर, कपटी, धूर्त और खतरनाक दुश्मन भी हो सकते हैं। हालांकि ये बहुत धैर्यवान और प्रतिबद्ध होते हैं रचनात्मक भी होते हैं लेकिन उदारता और मिलनसारता इन्हें रास नहीं आती। इनमें बदले की भावना बहुत भयंकर घर कर लेती है और अपने विरोधी को अचानक जबरदस्त चोट पहुंचाने का ईरादा रखते हैं। हालांकि ये बहुत भावुक और संवेदनशील भी होते हैं लेकिन लेकिन इनकी जटिलता सामने वाले में एक अनिश्चित भय का संचार भी करती है।

खोजी स्वभाव के वृश्चिक जातक कार्यस्थल पर भी बारिकी से काम करने के लिये जाने जा सकते हैं। कार्यक्षेत्र से संबंधित शोध कार्य करने में इनकी रुचि होती है। अपनी इसी प्रवृति के कारण ये काफी जानकारियां जुटा लेते हैं और अपने ज्ञान के बल पर तरक्की हासिल करते हैं। नकारात्मक परिस्थितियों में भी सकारात्मक परिणाम हासिल करने का मादा इनके अंदर होता है। अत: कार्यस्थल पर वरिष्ठ अधिकारियों एवं सहकर्मियों को इनसे काफी उम्मीदें होती हैं।

 

रोमांटिक रुप से देखा जाये तो ये बेहतर प्रेमी साबित हो सकते हैं। ये सामने वाले की नब्ज को बहुत जल्दी पहचान जाते हैं कि सामने वाला चाहता क्या है। लेकिन इनकी सवाल करने की प्रवृति से इनका साथी असहज महसूस कर सकता है साथ ही इन्हें समझना भी टेढ़ी खीर होता है इसलिये इन्हें लेकर असुरक्षा एवं अनिश्चय की भावना भी होती है। लेकिन ये प्यार भी बहुत लुटाते हैं जिससे सब गुनाह माफ हो जाते हैं।

एस्ट्रो जानकारी