Skip Navigation Links
घटती लोकप्रियता से परेशान, बराक ओबामा


घटती लोकप्रियता से परेशान, बराक ओबामा

अमेरिका के 44 वें राष्ट्रपति, बराक हुसैन ओबामा का जन्‍म 4 अगस्‍त 1961 में हुआ। होनोलूलू में जन्में ओबामा के पिता केन्याई  मूल के हैं और इनकी माता जी अमरीकी मूल की हैं। बराक के पिता और इनकी माता का जब तलाक हुआ था, तब बराक ओबामा बस 2 वर्ष के थे। वर्ष 1982 में इनके पिता की कार दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। विश्वशांति में उल्लेखनीय योगदान के लिए बराक ओबामा को वर्ष 2009 के नोबेल शांति पुरस्कार  प्राप्त हो चुका है।


आगामी 4 अगस्त को बराक ओबामा अपना 54 वां जन्मदिन मनाने जा रहे हैं। पिछले कुछ साल बराक ओबामा के लिए बहुत सही नहीं गये हैं। कभी पारिवारिक कलह तो कभी देश के नागरिकों का गुस्सा भी इनको परेशान कर रहा है। अमेरिका में अभी भी मंदी के विषय पर बहुत अच्छा कार्य, सरकार नहीं कर पा रही है। कुल मिलाकर देखा जाए तो अमेरिकन राष्ट्रपति ओबामा जी पहले की तुलना में अब अपनी लोकप्रियता को भी कम करा चुके हैं। बराक हुसैन ओबामा जी के जन्मदिन के मौके पर, आइये एक नजर डालते हैं कि इनका आने वाला समय इनके लिए कैसा रहेगा-


नाम- बराक हुसैन ओबामा

जन्म तिथि- 04 अगस्त 1961

जन्म स्थान- होनोलुलु

जन्म समय- 19:24:00 

लग्न-मकर, चंद्र राशि- वृष, महादशा- शनि, अंतर दशा- बुध, प्रत्यांतर दशा- बुध।



मकर लग्न के जातक, आगे बढ़ने वाले, नाम और प्रसिद्धि को साथ लेकर जन्म लेते हैं। भागेश(भाग्य का स्थान) और लग्नेश (लग्न का स्थान) दोनों का ही पीरियड में चलना शुभ माना जाता है। इनकी कुंडली में बुध ग्रह ‘भागेश’ में है और शनि ‘लग्नेश’ में है तो यह योग अभी तक बराक ओबामा की काफी जगह पर मदद करता आ रहा है।


यह साल बराक ओबामा के लिए मिला-जुला रहा है। आगामी समय की बात करें तो इस वर्ष इनकी कुंडली में शनि, वृश्चिक लग्न में बैठा हुआ है और यह योग अच्छा नहीं माना जाता है। यह योग धन के साथ-साथ मान-सम्मान में भी हानि करता है।


2 अगस्त 2015 के बाद जब शनि वृश्चिक राशि में ही वक्री से मार्गी हो रहे हैं। इस परिवर्तन का असर इनकी कुंडली पर शुभ होने वाला है। वृष राशि वालों के लिए शनि योग कारक कहे जाते हैं इसलिए इस राशि वालों के लिए भी यह अच्छी शौगात देने वाले सिद्ध होते हैं। इस परिवर्तन का बराक ओबामा जी के जीवन पर शुभ असर हो सकता है। निजी ज़िन्दगी में सुख की प्राप्ति हो सकती है और शत्रुओं से जो हानि अब तक हो रही थीं उसमें भी कमी आएगी।


एस्ट्रोयोगी ज्योतिषों की इनको एक राय है कि बस ओबामा जी अपने स्वास्थ्य का थोड़ा ध्यान रखें। इनकी कुंडली में ब्रहस्पति का छटे घर को देखना यह दर्शाता है कि इस साल स्वास्थ्य सम्बन्धी कुछ दिक्कतों का भी इनको सामना करना पड़ सकता है।


एस्ट्रोयोगी बराक ओबामा को इनके जन्मदिवस की बधाई देता है और उम्मीद करता है कि आगामी समय इनके लिए अच्छा रहेगा।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

अक्षय तृतीया 2017 - अक्षय तृतीया व्रत व पूजा विधि

अक्षय तृतीया 2017 ...

हर वर्ष वैसाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि में जब सूर्य और चन्द्रमा अपने उच्च प्रभाव में होते हैं, और जब उनका तेज सर्वोच्च होता है, उस ति...

और पढ़ें...
बाबा खाटू श्याम - हारे का सहारा बाबा श्याम हमारा

बाबा खाटू श्याम - ...

निर्धन को धनवान का, निर्बल को बलवान और इंसा को भगवान का सहारा मिलना चाहिये। हिम्मत वाले के हिमायती तो राम बताये ही जाते हैं लेकिन हारे हुए बि...

और पढ़ें...
मेंहदीपुर बालाजी – यहां होती है प्रेतात्माओं की धुलाई

मेंहदीपुर बालाजी –...

मेंहदीपुर बाला जी का नाम तो आपने बहुत सुना होगा। हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली व उत्तरप्रदेश में तो बालाजी के भक्तों की बड़ी तादाद आपको मिल जायेग...

और पढ़ें...
वरुथिनी एकादशी 2017 - जानें वरूथिनी एकादशी की व्रत पूजा विधि तिथि व मुहूर्त

वरुथिनी एकादशी 201...

एकादशी के व्रत का हिंदू धर्म में बहुत महत्व माना जाता है। प्रत्येक मास में दो एकादशियां आती हैं और दोनों ही एकादशियां खास मानी जाती हैं। वैशा...

और पढ़ें...
वल्लाभाचार्य जयंती – कौन थे पुष्टिमार्ग के प्रवर्तक वल्लभाचार्य?

वल्लाभाचार्य जयंती...

भारत अनेकता में एकता रखने वाला देश है। यहां पर विभिन्न धर्म, विभिन्न संस्कृतियों के लोग वास करते हैं। यहां तो प्रकृति में भी विविधता देखने को...

और पढ़ें...