Skip Navigation Links
Talk to celebrity astrologers

आपका दैनिक राशिफल

अपनी राशि चुनें
panchang

पँचांग

पँचांग सनातन समाज (हिन्दू) द्वारा वैदिककाल से मान्यता प्राप्त एक कैलेंडर है। इसके माध्यम से हम शुभ-अशुभ दिन, समय, महूर्त या व्रत-श्राद, नक्षत्र, करण आदि चीजों की सही एवं सटीक जानकारी प्राप्त करते हैं। यह पँचांग सूर्य और लूनी सोलर कैलेंडर, दोनों पर आधारित होता है।

calender
Mantras

मंत्र साधना

वैसे तो मंत्रों के अर्थ इतना महत्व नहीं रखते क्योंकि विशेषज्ञों का मानना है कि मंत्रों के अर्थ में नहीं बल्कि ध्वनि में शक्ति होती है। इसका एक कारण यह भी है कि इन मंत्रों की उत्पति
और पढ़ें...

मंत्र

समस्याओं के समाधान

ज्योतिष से फ़ोन पर तुरंत बात करे

अन्य एस्ट्रो लेख

श्राद्ध 2016 - पितृपक्ष में करें श्राद्ध कर्म

श्राद्ध 2016 - पितृपक्ष में करें श्राद्ध कर्म

श्राद्ध साधारण शब्दों में श्राद्ध का अर्थ अपने कुल देवताओं, पितरों, अथवा अपने पूर्वजों के प्रति श्रद्धा प्रकट करना है। हिंदू पंचाग के अनुसार वर्ष में पंद्रह दिन की एक विशेष अवधि है जिसमें श्राद्ध कर्म किये जाते हैं इन्हीं दिनों को श्राद्ध पक्ष, पितृपक्ष और...

और पढ़ें...
शारदीय नवरात्र 2016 - किस दिन होगी माता के किस रूप की पूजा

शारदीय नवरात्र 2016 - किस दिन होगी माता के किस रूप की पूजा

मां दुर्गा को शक्ति की देवी माना जाता है। इसलिए सर्व इच्छाओं की पूर्ति करने वाली होने से परम पुरुषार्थ मोक्ष की प्राप्ति के लिए नौ दिन तक उनके अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है। सनातन धर्म का यह एक महत्वपूर्ण पर्व है जिसे उत्तर भारत के साथ-साथ गुजरात, पश...

और पढ़ें...
पितृदोष – पितृपक्ष में ये उपाय करने से होते हैं पितर शांत

पितृदोष – पितृपक्ष में ये उपाय करने से होते हैं पितर शांत

कहते हैं माता-पिता के ऋण को पूरा करने का दायित्व संतान का होता है। लेकिन जब संतान माता-पिता या परिवार के बुजूर्गों की, अपने से बड़ों की उपेक्षा करने लगती है तो समझ लेना चाहिये कि अब घर का बंटाधार होना तय है। इस स्थिति से बचने के लिये अपने पूर्वजों जो जीवित...

और पढ़ें...