Skip Navigation Links
भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच : ज्योतिष विश्लेष


भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच : ज्योतिष विश्लेष

एकदिवसीय क्रिकेट विश्व कप में यदि भारतीयों दर्शकों को किसी एक मैच का इंतज़ार रहता है तो वह मैच है भारत बनाम पाकिस्तान| इस मैच के लिए न केवल भारतीय बल्कि पाकिस्तानी क्रिकेट प्रेमी भी बहुत उत्साहित रहते हैं| आलम तो यह रहता है कि इस दिन कई लोग अपने काम, ऑफिस से छुट्टी लेकर अपने घर पर टीवी के सामने बैठे रहते हैं|



इन दो देशों के बीच यह मैच किसी भी विश्व कप में सबसे रोमांचक माना जाता है| विश्व कप 2015 में जहां एक तरफ भारत को लगातार दूसरी जीत की ओर ले जाने का जज्बा रखने वाले महेंद्र सिंह धोनी है तो दूसरी तरफ पाकिस्तान की कमान सुलझे हुए, शांत प्रवृति के मिस्बाह-उल-हक के हाथ में हैं| 15 फ़रवरी 2015 को दोनों पड़ोसी देश एक बार फिर जीत और हार तय करने के लिए एक-दूसरें का डट कर सामना करेंगे|


आइयें दोनों देश के कप्तानों की जन्मकुंडली से जानते है 15 फ़रवरी को होने वाले इस एतिहासिक मैच का वैदिक ज्योतिष आंकलन|


महेंद्र सिंह धोनी, भारतीय टीम के कप्तान, का जन्म 07 जुलाई 1981 को झारखंड की राजधानी रांची में हुआ था| इस हिसाब से उनकी चन्द्रराशि कन्या है और स्वामी ग्रह है बुध|

15 फ़रवरी के दिन धोनी की कुंडली में राहू में शुक्र विराजमान है जो उनके आत्मविश्वास में कमी लाएगा और उन्हें कमज़ोर बनाएगा| हालाँकि छठें घर पर सूर्य के होने से जातक यानि धोनी अपने शत्रुओं को परास्त करने में सहायता करता है| लेकिन इसके लिए उन्हें स्वयं पर विश्वास होना चाहिए| तब ही उन्हें सूर्य की इस सुखद दशा का लाभ प्राप्त होगा|

चंद्रमा इस समय धनु में रहेगा जो अपने ज़बरदस्त प्रभाव से धोनी को लाभ पहुंचाएगा| एक खास सितारा भी धोनी के लिए सहायक साबित हो सकता है| यह मैच धोनी के लिए ‘करो या मरो’ हो सकता है| भारतीय टीम की बल्लेबाज़ी उनकी गेंदबाजी से बेहतर रहेगी|


पाकिस्तान के कप्तान मिस्बाह-उल-हक का जन्म 28 मई 1974 को पाकिस्तान के पंजाब क्षेत्र के म़ियावाली में हुआ था| मिस्बाह-उल-हक की चन्द्रराशि सिंह है जिसका स्वामी ग्रह सूर्य है|

15 फ़रवरी को मिस्बाह-उल-हक की कुंडली में सूर्य के कुम्भ में होने के कारण इस समय उन्हें शारीरिक तौर पर परेशानी होगी| उनमें सक्रियता कम होगी|

इस दिन चंद्रमा धनु में होगा जिसके सुखद प्रभाव से मिस्बाह-उल-हक भावनात्मक तौर पर संतुष्ट रहेंगे और बेहतर फैसलें लेंगे| हालाँकि राहू के चौथे घर में होने से आसार है कि मिस्बाह के उनकी टीम के सदस्यों से उतना सहयोग ना मिल पाएं| टीम की बल्लेबाज़ी बेहतर होगी|

एस्ट्रोयोगी ज्योतिषियों के अनुसार यह मैच बहुत ही कांटे का होने वाला है| यह तय कर पाना सही नहीं होगा कि जीत किसकी होगी| धोनी हो या मिस्बाह, जिस व्यक्ति को अपनी टीम से सहयोग मिलेगा वह जीत के करीब होगा|




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

महाशिवरात्रि - देवों के देव महादेव की आराधना पर्व

महाशिवरात्रि - देव...

देवों के देव महादेव भगवान शिव-शंभू, भोलेनाथ शंकर की आराधना, उपासना का त्यौहार है महाशिवरात्रि। वैसे तो पूरे साल शिवरात्रि का त्यौहार दो बार आ...

और पढ़ें...
शिव मंदिर – भारत के प्रसिद्ध शिवालय

शिव मंदिर – भारत क...

सावन का महीना आ चुका है और इस पावन महीने में भगवान शिव की आराधना करने का पुण्य बहुत अधिक मिलता है। शिवभक्तों के लिये तो यह महीना बहुत खास होत...

और पढ़ें...
सूर्य ग्रहण 2017 जानें राशिनुसार क्या पड़ेगा प्रभाव

सूर्य ग्रहण 2017 ज...

26 फरवरी को वर्ष 2017 का पहला सूर्यग्रहण लगेगा। सूर्य और चंद्र ग्रहण दोनों ही शुभ कार्यों के लिये अशुभ माने जाते हैं। पहला सूर्यग्रहण हालांकि...

और पढ़ें...
नटराज – सृष्टि के पहले नर्तक भगवान शिव

नटराज – सृष्टि के ...

भगवान भोलेनाथ, शिव, शंकर, अर्ध नारीश्वर, हरिहर, हर, महादेव आदि अनेक नाम भगवान शिव के हैं। त्रिदेवों में सबसे लोकप्रिय भगवान शिव ही माने जाते ...

और पढ़ें...
सूर्य ग्रहण 2017

सूर्य ग्रहण 2017

ग्रहण इस शब्द में ही नकारात्मकता झलकती है। एक प्रकार के संकट का आभास होता है, लगता है जैसे कुछ अनिष्ट होगा। ग्रहण एक खगोलीय घटना मात्र नहीं ह...

और पढ़ें...