Skip Navigation Links
15 जून से 5 जुलाई 2010 –  कठिन समय


15 जून से 5 जुलाई 2010 – कठिन समय

जून 2010 को सूर्य मिथुन राशि में प्रवेश करेगा और उसके एक सप्ताह के भीतर ही 22 जून 2010 को बुध भी मिथुन राशि में आकर शनि के साथ दशम- चतुर्थसम्बन्ध बनाएगा। ये एक सप्ताह संसार के विभिन्न देशों के लिए कड़ी परिस्थितियाँ पैदा करेगा। अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, अफगानिस्तान, पाकिस्तान और म्यान्मार में इस दौरान कुछ चौंकाने वाली अप्रिय घटनाएँ होंगी।
19 जून से 5 जुलाई तका बुध का प्रभाव बहुत भयंकर होगा। लोगों में मतभेद, बहसबाजी, लड़ाई-झगड़े होंगे। देश- विदेश में प्राकृतिक आपदाएँ और आतंकी व नक्सली हिंसा पनपेगी। इस दौरान भारत में आतंकी व अत्याचारी ताकतों को बहुत बल मिलेगा और उनके हौंसले और अधिक मजबूत होंगे। ये समय विनाशकारी आतंकी परियोजनाएँ आगे बढ़ाने के लिए श्रेष्ठ है जिसका पूरा फायदा अत्याचारी एवं आतंकी ताकतों को मिलेगा।

इस दौरान कर्मचारी एवं अधिकारी वर्ग कुछ उलझन में ही रहेगा। प्रेम-संबंधों के लिए सुमय शुभ है। सेहत के लिए समय अनुकूल नहीं इसलिए अपने खान-पान और जीवनशैली का ध्यान रखना होगा। धन के मामले में ये समय प्रतिकूल है, खर्चे अधिक और आय कम।





एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

सूर्य ग्रहण 2017 जानें राशिनुसार क्या पड़ेगा प्रभाव

सूर्य ग्रहण 2017 ज...

26 फरवरी को वर्ष 2017 का पहला सूर्यग्रहण लगेगा। सूर्य और चंद्र ग्रहण दोनों ही शुभ कार्यों के लिये अशुभ माने जाते हैं। पहला सूर्यग्रहण हालांकि...

और पढ़ें...
सूर्य ग्रहण 2017

सूर्य ग्रहण 2017

ग्रहण इस शब्द में ही नकारात्मकता झलकती है। एक प्रकार के संकट का आभास होता है, लगता है जैसे कुछ अनिष्ट होगा। ग्रहण एक खगोलीय घटना मात्र नहीं ह...

और पढ़ें...
गुरु चाण्डाल दोष – कैसे बनता है गुरु चांडाल योग व क्या हैं उपाय

गुरु चाण्डाल दोष –...

ज्योतिषशास्त्र कुंडली के अनुसार हमारे भविष्य का पूर्वानुमान लगाता है। इसके लिये ज्योतिषशास्त्री अध्ययन करते हैं ग्रहों की दशाओं का। इन दशाओं ...

और पढ़ें...
धन प्राप्ति के लिये श्री कृष्ण के आठ चमत्कारी मंत्र

धन प्राप्ति के लिय...

भगवान श्री कृष्ण की अपने भक्तों पर विशेष अनुंकपा होती है। वे सखा के रूप में सुदामा का उद्धार करते हैं तो अर्जुन के सारथी बन उन्हें कर्तव्य पा...

और पढ़ें...
आपके माथे पर लिखा है आपका भाग्य, बताती हैं रेखाएं

आपके माथे पर लिखा ...

क्या आपने कभी महसूस किया है कि पहली बार में आप जिस शख्स को देखते हैं और जो धारणा उस समय बनाते हैं आगे चलकर वह उस पर खरा नहीं उतरता। या फिर कई...

और पढ़ें...