एस्ट्रोयोगी पार्टनर्स मीट 2018

21 अप्रैल 2018 (गुरुग्राम) : एस्ट्रोयोगी के तत्वाधान में गुरुग्राम स्थित वेस्टिन होटल में एस्ट्रोलॉजर्स मीट का सफल आयोजन किया गया। ज्योतिषाचार्यों के इस संगम में 2017 के प्रदर्शन के आधार पर ज्योतिष की अलग अलग कैटगरीज़ में बेस्ट एस्ट्रोलॉजर अवार्ड भी दिये गये।

एस्ट्रोयोगी द्वारा संपन्न हुई यह एस्ट्रोलॉजर्स मीट अपनी तरह का पहला ऐसा कार्यक्रम था जिसमें ज्योतिष समुदाय की जानी मानी हस्तियां एक साथ, एक मंच पर, एक दूसरे से मिलीं।

कार्यक्रम के शुभारंभ में एस्ट्रोयोगी की संस्थापक CEO मीना कपूर ने सभी मेहमान ज्योतिषाचार्यों का स्वागत किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि एस्ट्रोयोगी का उद्देश्य हमारी वैदिक परंपराओं और आध्यात्मिक विज्ञान के ज्ञान को उन युवाओं तक पंहुचाना, तार्किक रूप से ज्योतिष विज्ञान के प्रति उनकी समझ को विकसित करना है जो आज के इस भागदौड़ भरे युग में अपनी परंपराओं से विमुख होते जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि एस्ट्रोयोगी के प्लेटफोर्म पर 2000 से ज्यादा एस्ट्रोलॉजर्स 85 से भी अधिक देशों में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों के पास यूके, यूएसए के साथ-साथ सियोल, कोरिया, जेनेवा, स्विट्ज़रलैंड जैसे देशों से भी कॉल आती हैं।

उन्होंने ज्योतिषाचार्यों को संबोधित करते हुए ऑनलाइन गाइडेंस को और बेहतर बनाने के लिये तकनीकी सुझावों सहित अन्य टिप्स भी दिये।


इन्हें मिला बेस्ट एस्ट्रोयोगी एस्ट्रोलॉजर अवार्ड 2017

कार्यक्रम के समापन पर 2017 में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले एस्ट्रोलॉजर्स को एस्ट्रोयोगी अवार्ड 2017 से नवाज़ा गया। इनमें श्रेष्ठ वास्तु विशेषज्ञ का एस्ट्रोयोगी एस्ट्रोलॉजर अवार्ड 2017 डॉ. दीपक जोशी को मिला। श्रेष्ठ टेरो रीडर का अवार्ड जानी-मानी टेरो रीडर मीता भान को दिया गया। वैदिक एस्ट्रोलॉजी में जय प्रकाश ओझा, रंजना पुरी को एक्सीलेंसी अवार्ड के साथ-साथ नीलू पाठक को 2018 में बेस्ट डेब्यू अवार्ड दिया गया। 

कार्यक्रम में शिरकत करने के लिये न सिर्फ दिल्ली एनसीआर बल्कि जयपुर, लखनऊ, इलाहाबाद और गुवाहाटी तक से वैदिक एस्ट्रोलॉजर्स, टेरो रीडर्स, न्यूमेरोलॉजिस्ट, वास्तु विशेषज्ञ इस एस्ट्रोलॉजर मीट में शिरकत करने पंहुचे।

एस्ट्रो लेख

सावन - शिव की प...

सावन का महीना और चारों और हरियाली। भारतीय वातावरण में इससे अच्छा कोई और मौसम नहीं बताया गया है। जुलाई आखिर या अगस्त में आने वाले इस मौसम में, ना बहुत अधिक गर्मी होती है और ना ही बह...

और पढ़ें ➜

गुरु पूर्णिमा 2...

गुरु गोविन्द दोनों खड़े काके लागू पाये, बलिहारी गुरु आपनी, जिन्हे गोविन्द दियो मिलाय। हिन्दू शास्त्रों में गुरू की महिमा अपरंपार बताई गयी है। गुरू बिन, ज्ञान नहीं प्राप्त हो सकता...

और पढ़ें ➜

सावन का दूसरा स...

सावन का पूरा महिना भगवान शिव की अराधना का महिना होता है। इस महिने में शिव पूजा, जलाभिषेक करने से अत्यंत लाभदायक फल इंसान को मिलते हैं। जिनका अपना अपना महत्व होता है। 2019 के सावन क...

और पढ़ें ➜

कितनी बार हो सक...

प्यार एक ऐसा एहसास है जिसे हर कोई महसूस करना चाहता है। एक बार प्यार रूपी इस धन को जो पा लेता है उसे इसे खोने मात्र की सोच ही भय व तनाव हो जाता है। लेकिन यह भी सत्य है कि सब के लिए ...

और पढ़ें ➜