पर्व और त्यौहार 2019

पर्व और त्यौहार 2019


त्यौहार हमारे जीवन का अहम हिस्सा हैं, त्यौहारों में हमारी संस्कृति की महकती है। त्यौहार जीवन का उल्लास हैं त्यौहार खुशियों की सौगात हैं। भारत एक ऐसा देश है जहां हर मौसम, हर परंपरा, हर धर्म किसी न किसी पर्व, उत्सव को लेकर आता है। हिंदूओं की होली, दीवाली पर जहां जात और धर्म से ऊपर उठकर सभी धर्मों के लोग आपस में मिलकर मनाते हुए प्रेम भाईचारे का संदेश देते हुए धर्म की अधर्म पर विजय का संदेश देते हैं वहीं रमदान के पाक महीने में लोग धार्मिक मतभेदों को भुलाकर ईद के दिन एक दूसरे के गले लगकर ईद की मुबारकबाद देते हैं। क्रिसमस पर जहां ईसा मसीह द्वारा मानवता के लिये किये गये त्याग को याद किया जाता है तो वहीं महापुरुषों के जन्म और निर्वाण दिवस भी किसी उत्सव से कम नहीं होते।

कुल मिलाकार त्यौहार जहां सबको एकजुट करते हैं वहीं जीवन के तमाम दुखों को भुलाकर सबके लिये खुशियां मनाने का अवसर लेकर आते हैं। त्यौहारों को मनाने के साथ-साथ हम सांस्कृतिक रुप से समृद्ध होते जाते हैं। एस्ट्रोयोगी के इस खंड में आप भारत में मनाये जाने वाले प्रमुख त्यौहारों के बारे में जान पायेंगें। कौनसा त्यौहार किस दिन होगा? त्यौहार के दिन शुभ मुहूर्त किस समय का रहेगा? कैसे त्यौहार को मनाया जाये? किसकी पूजा की जाये? कैसे पूजा की जाये? त्यौहार को मनाने के पिछे की कहानी क्या है? इत्यादि। बहुत सारे सवालों के जवाब आपको हमारे इस खंड में मिल सकते हैं। प्रमुख त्यौहारों के बारे में जहां विस्तृत जानकारी आपको यहां मिलेगी वहीं कलैंडर के जरिये भी आप मासिक रुप से आने वाले त्यौहारों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

बसंत पंचमी

बसंत पंचमी

बसंत पंचमी एक हिन्दू पर्व है| हिन्दू पंचांग के मुताबिक यह पर्व हर साल माघ मास के शुक्ल पक्ष के पांचवे दिन यानि पंचमी तिथि को मनाया जाता है| इस दिन माँ देवी स

महाशिवरात्रि

महाशिवरात्रि

शिव यानि कल्याणकारी, शिव यानि बाबा भोलेनाथ, शिव यानि शिवशंकर, शिवशम्भू, शिवजी, नीलकंठ, रूद्र आदि। हिंदू देवी-देवताओं में भगवान शिव शंकर सबसे लोकप्रिय देवता ह

होली

होली

वैसे तो हर त्यौहार का अपना एक रंग होता है जिसे आनंद या उल्लास कहते हैं लेकिन हरे, पीले, लाल, गुलाबी आदि असल रंगों का भी एक त्यौहार पूरी दुनिया में हिंदू धर्म

नवरात्र

नवरात्र

नवरात्र भारतवर्ष में हिंदूओं द्वारा मनाया जाने प्रमुख पर्व है। इस दौरान मां के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है। वैसे तो एक वर्ष में चैत्र, आषाढ़, आश्विन

गुड़ी पड़वा

गुड़ी पड़वा

गुड़ी पड़वा का पर्व महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और गोवा सहित दक्षिण भारतीय राज्यों में उल्लास के साथ मनाया जाता है। चैत्र मास की शुक्ल प्रतिपदा को गुड़ी पड़वा क

बैसाखी

बैसाखी

बैसाखी वैशाख माह में मनाया जाने वाला त्यौहार है। वैसे तो भारत में साल भर अनेक त्यौहार मनाये जाते हैं। जिनमें कुछ त्यौहार पूरा देश एक साथ मनाता है तो कुछ त्यौ

रामनवमी

रामनवमी

राम नवमी जैसा कि नाम से ही ज्ञात है कि राम नवमी का संबंध भगवान विष्णु के अवतार मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम से है। भगवान विष्णु ने अधर्म का नाश कर धर्म

महावीर जयंती

महावीर जयंती

जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर का जन्म चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी को 599 ईसवीं पूर्व बिहार में लिच्छिवी वंश के महाराज सिद्धार्थ और महारानी

गुड फ्राइडे

गुड फ्राइडे

ईसाई धर्म में गुड फ्राइडे का दिन एक काले दिवस के रूप में दर्ज है|  गुड फ्राइडे को होली फ्राइडे, ब्लैक फ्राइडे या ग्रेट फ्राइडे भी कहते हैं| इस दिन ईसा म

हनुमान जयंती

हनुमान जयंती

संकट मोचन, अंजनी सुत, पवन पुत्र हनुमान का जन्मोत्सव चैत्र माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है| प्रभु के लीलाओं से कौन अपरिचित अंजान है| हनुमान जयंती के दिन बजरं

रमदान

रमदान

अल्लाह की इबादत या ईश्वर की उपासना वैसे तो किसी भी समय की जा सकती है। उसके लिये किसी विशेष दिन की जरुरत नहीं होती लेकिन सभी धर्मों में अपने आराध्य की पूजा उप

अक्षय तृतीया

अक्षय तृतीया

भारत में धर्म, जाति, भाषा, क्षेत्र के अनुसार सांस्कृतिक विभिन्नताएं मिलती हैं। हर धर्म, हर क्षेत्र में कुछ खास त्यौहार प्रचलित होते हैं। इन्हीं त्यौहारों के

बुद्ध पूर्णिमा

बुद्ध पूर्णिमा

पूरी दुनिया महात्मा बुद्ध को सत्य की खोज के लिये जाना जाता है। राजसी ठाठ बाट छोड़कर सिद्धार्थ सात सालों तक सच को जानने के लिये वन में भटकते रहते हैं। उसे पान

शनि जयंती

शनि जयंती

शनि जयंती हिंदू पंचांग के ज्येष्ठ मास की अमावस्या को मनाई जाती है। इस दिन शनिदेव की पूजा की जाती है। विशेषकर शनि की साढ़े साती, शनि की ढ़ैय्या आदि शनि दोष से

गुरु पूर्णिमा

गुरु पूर्णिमा

हिन्दू धर्म में गुरु को ईश्वर से भी श्रेष्ठ माना जाता है| क्योंकि गुरु ही हैं जो इस संसार रूपी भव सागर को पार करने में सहायता करते हैं| गुरु के ज्ञान और दिखा

हरियाली तीज

हरियाली तीज

हरियाली तीज या श्रावणी तीज का उत्सव श्रावण मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है| यह प्रमुख रुप से उत्तर भारत में मनाया जाता है| पूर्वी उत्तर प्

नाग पंचमी

नाग पंचमी

हिंदू धर्म में देवी देवताओं की पूजा उपासना के लिये व्रत व त्यौहार मनाये ही जाते हैं साथ ही देवी-देवताओं के प्रतिकों की पूजा अर्चना करने के साथ साथ उपवास रखने

रक्षा बंधन

रक्षा बंधन

अपने भाई की कलाई पर राखी बांधने के लिये हर बहन रक्षा बंधन के दिन का इंतजार करती है। श्रावण मास की पूर्णिमा को यह पर्व मनाया जाता है। इस पर्व को मनाने के पिछे

जन्माष्टमी

जन्माष्टमी

देवताओं में भगवान श्री कृष्ण विष्णु के अकेले ऐसे अवतार हैं जिनके जीवन के हर पड़ाव के अलग रंग दिखाई देते हैं। उनका बचपन लीलाओं से भरा पड़ा है। उनकी जवानी रासल

गणेश चतुर्थी

गणेश चतुर्थी

भारत में कुछ त्यौहार धार्मिक पहचान के साथ-साथ क्षेत्र विशेष की संस्कृति के परिचायक भी हैं। इन त्यौहारों में किसी न किसी रूप में प्रत्येक धर्म के लोग शामिल रह

ओणम

ओणम

भारतवर्ष सामाजिक-सांस्कृतिक दृष्टि से विविधताओं वाला देश है इसलिये यहां पर हर समाज, संप्रदाय और पंथ के विभिन्न पर्व हैं| ये अपने तौर-तरीके व रीति रिवाज़ के म

पितृ-पक्ष - श्राद्ध

पितृ-पक्ष - श्राद्ध

हिंदू धर्म में वैदिक परंपरा के अनुसार अनेक रीति-रिवाज़, व्रत-त्यौहार व परंपराएं मौजूद हैं। हिंदूओं में जातक के गर्भधारण से लेकर मृत्योपरांत तक अनेक प्रकार के

दुर्गा पूजा

दुर्गा पूजा

भारत वर्ष में कई पर्व मनाये जाते हैं| इन्हीं में से एक है दुर्गा पूजा| इस उत्सव में शक्ति रुपा माँ भगवती की आराधना की जाती है| देश के अलग-अलग राज्यों में यह

दशहरा

दशहरा

भारत वर्ष में मनाये जाने वाले त्यौहार किसी न किसी रूप में बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश देते हैं लेकिन असल में जिस त्यौहार को इस संदेश के लिये जाना जाता है

करवा चौथ

करवा चौथ

भारत में हिंदू धर्मग्रंथों, पौराणिक ग्रंथों और शास्त्रादि के अनुसार हर महीने कोई न कोई उपवास, कोई न कोई पर्व, त्यौहार या संस्कार आदि आता ही है लेकिन कार्तिक

धनतेरस

धनतेरस

धन तेरस यह पर्व कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन कुछ नया खरीदने की परंपरा है। विशेषकर पीतल व चांदी के बर्तन खरीदने का रिवाज़ है।

दिवाली

दिवाली

दिवाली या कहें दीपावली भारतवर्ष में मनाया जाने वाला हिंदूओं का एक ऐसा पर्व है जिसके बारे में लगभग सब जानते हैं। प्रभु श्री राम की अयोध्या वापसी पर लोगों ने उ

गोवर्धन पूजन

गोवर्धन पूजन

दीपावली के अगले दिन यानि कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को गोवर्धन पूजा का पर्व मनाया जाता है| लोग इस पर्व को अन्नकूट के नाम से भी जानते हैं|  इस

भैया दूज

भैया दूज

रक्षाबंधन पर्व के समान भाई दूज पर्व कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है|  इसे यम द्वितीया भी कहा जाता है| भाई दूज क

छठ पूजा

छठ पूजा

नवरात्र, दूर्गा पूजा की तरह छठ पूजा भी हिंदूओं का प्रमुख त्यौहार है। क्षेत्रीय स्तर पर बिहार में इस पर्व को लेकर एक अलग ही उत्साह देखने को मिलता है। छठ पूजा

तुसली विवाह

तुसली विवाह

तुलसी विवाह कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष में एकादशी के दिन किया जाता है। इसे देवउठनी या देवोत्थान एकादशी भी कहा जाता है। यह एक श्रेष्ठ मांगलिक और आध्यात्मिक पर्

गुरु नानक जयंती

गुरु नानक जयंती

कार्तिक पूर्णिमा के दिन गुरु नानक जी का जन्मदिन मनाया जाता है| 15 अप्रैल 1469 को पंजाब के तलवंडी जो कि अब पाकिस्तान में हैं और जिसे ननकाना साहिब के नाम से भी

क्रिसमस

क्रिसमस

क्रिसमस दुनिया के अधिकतर देशों में मनाया जाने वाला त्यौहार। मानवता का संदेश देने वाले, प्रार्थना और क्षमा में विश्वास करने वाले एक संत, एक फरिश्ते, ईश्वर के

नव वर्ष

नव वर्ष

1 जनवरी के मध्यरात्रि 12:00 बजे प्रतिवर्ष हम नया साल मनाते हैं| इस पर्व के अवसर पर हम जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए संकल्प लेते हैं| कुछ नया करने की ब

मकर संक्रांति

मकर संक्रांति

भारत एक धर्म निरपेक्ष और सांस्कृतिक विविधताओं वाला देश है| जिसमें अनेक पर्व मनाए जाते हैं, व्रत उपवास रखे जाते हैं| यही कारण है कि भारत में पूरे साल हर्षोल्ल