आध्यात्मिकता


Delhi- Wednesday, 08 July 2020
दिनाँक Wednesday, 08 July 2020
तिथि कृष्ण चतुर्थी
वार बुधवार
पक्ष कृष्ण पक्ष
सूर्योदय 5:30:9
सूर्यास्त 19:23:6
चन्द्रोदय 22:1:32
नक्षत्र धनिष्ठा
नक्षत्र समाप्ति समय 25 : 17 : 4
योग प्रीति
योग समाप्ति समय 20 : 0 : 31
करण I बव
सूर्यराशि मिथुन
चन्द्रराशि मकर
राहुकाल 12:26:38 to 14:10:45
आगे देखें
पूजा विधियां

पूजा विधियां

पूजा का किसी भी धार्मिक व्यक्ति के जीवन में बहुत अधिक महत्व होता है। कोई भी व्यक्ति अपने किसी ईष्ट को, अपने किसी देवता को, किसी गुरु को मानता है तो वह उनकी

अन्य पूजा विधियां

भारत के धार्मिक स्थल

भारत के धार्मिक स्थल

भारत भौगोलिक, सामाजिक, सांस्कृति, धार्मिक आदि की विभिन्नताओं का देश है। यहां के लोगों की धर्म में गहरी आस्था होती है, इसकी बानगी इसी से देखी जा सकती है कि हर छोटे-बड़े गांव से लेकर बड़े-बड़े महानगरों तक, लोगों की...

आरती

आरती

आरती जिसे सुनकर, जिसे गाकर श्रद्धालु धन्य समझते हैं। किसी भी देवी-देवता या अपने आराध्य, अपने ईष्ट देव की स्तुति की उपासना की एक विधि है। आरती के दौरान...

वैदिक परम्परा

वैदिक परम्परा

वैदिक काल में वेदों के आधार पर सभी कार्य किये जाते थे। जन्म से लेकर मृत्यु तक के सभी संस्कार वेदों द्वारा निर्धारित होते थे, जो आगे चलकर वैदिक परंपरा के रूप में विद्धमान हुए। सनातन धर्म एक जीवन यापन पद्धति है।

व्रत कथा

व्रत कथा

वैदिक काल में वेदों के आधार पर सभी कार्य किये जाते थे। जन्म से लेकर मृत्यु तक के सभी संस्कार वेदों द्वारा निर्धारित होते थे, जो आगे चलकर वैदिक परंपरा के रूप में विद्धमान हुए। सनातन धर्म एक जीवन यापन पद्धति है।


Title

योग

इस खंड में हम योग (Yoga) के बारे में विस्तार से जानेंगे। जैसा की हम सब जानते हैं। योग हमारे जीवन व शरीर के लिए कितना महत्वपूर्ण है। योग से न केवल हमारी शारीरिक क्षमता का विकास होता है। अपितु यह हमारे ज्ञानेंद्रियों को भी प्रभावित करता है।

Horoscope astrologers

भारत के श्रेष्ठ ज्योतिषाचार्यों से बात करें

अब एस्ट्रोयोगी पर वैदिक ज्योतिष, टेरो, न्यूमेरोलॉजी एवं वास्तु से जुड़ी देश भर की जानी-मानी हस्तियों से परामर्श करें। एस्ट्रोयोगी पर मौजूद सभी ज्योतिषाचार्य अपने क्षेत्र में सुशिक्षित एवं अच्छा खासा कार्यानुभव रखते हैं। ज्योतिषाचार्यों से परार्मश करने के लिये परामर्श करें पर क्लिक करें।

परामर्श करें
मंत्र साधना

मंत्र साधना

वैसे तो मंत्रों के अर्थ इतना महत्व नहीं रखते क्योंकि विशेषज्ञों का मानना है कि मंत्रों के अर्थ में नहीं बल्कि ध्वनि में शक्ति होती है। इसका एक कारण यह भी है कि इन मंत्रों की उत्पति के बारे में कहा जाता है कि ये किसी व्यक्ति विशेष द्वारा नहीं लिखे गए हैं ..

ज्योतिषाचार्यों से फोन पर तुरंत परामर्श करें


loader_image
एस्ट्रो लेख


Support
Chat Now for Support