विश्व कप 2015 - भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका – ज्योतिषी विश्लेषण

आई.सी.सी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2015 के पूल बी की वर्तमान में दो टॉप टीम भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच इस रविवार 22 फ़रवरी 2015 को होने वाला मैच बहुत ही दिलचस्प होगा| दोनों टीम अपने पहले मैच जीत चुकी हैं| अंक तालिका में भले ही भारत पहले स्थान पर है किन्तु दक्षिण अफ्रीका बहुत ही मज़बूत टीम है| दोनों के बीच खेले गए गत विश्व कप मैचों का अगर विवरण देखा जाए तो अब तक भारत और दक्षिण अफ्रीका ने विश्व कप में तीन मैच खेले हैं और तीनों ही बार दक्षिण अफ्रीका ने भारत को शिकस्त दी है| लेकिन गत विश्व विजेता भारत अपने सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में एबी डेविलिएर्स की कप्तानी में दक्षिण अफ्रीका को मात दे पाएगा या दक्षिण अफ्रीका चौथी बार भी भारत को नाकों चने चबवाएगा?


दोनों कप्तान की जन्मकुंडली के ज्योतिष विश्लेषण से आइयें जानते है कि सितारे किस टीम के हित में प्रबल दिखाई दे रहे हैं|


महेंद्र सिंह धोनी का जन्म 07 जुलाई 1981 में झारखण्ड की राजधानी रांची में हुआ था| धोनी की चन्द्र राशि कन्या है और स्वामी ग्रह है बुध| जन्मतिथि के अनुसार धोनी की सूर्य राशि कर्क है| ऑस्ट्रेलिया के मेलबोर्न शहर में 22 फ़रवरी 2015 को मैच के आरंभ समय दोपहर के 2 बजकर 30 मिनट पर अगर धोनी की कुंडली में चन्द्र की स्थिति देखी जाए तो चन्द्रमा उनकी चंद्रराशि से आठवें घर पर स्थित है जो एक बहुत ही लाभकारी स्थिति होती है| इसके सुखद प्रभाव से जातक यानी धोनी को सफलता की ओर बढ़ते रहने का उत्साह मिलता है| उनकी कुंडली में भाग्य ग्रह शुक्र के उच्च होने से उनके आत्मविश्वास में वृद्धि आएगी| और वर्तमान में राहु की दशा से भी धोनी को सहायता मिलेगी| यह दशा जातक को उनके जन्मस्थान से दूर ले जाकर सफलता प्राप्त करवाती है| चूँकि यह मैच ऑस्ट्रेलिया में हो रहा है, धोनी को इसका लाभ अवश्य मिलेगा| उनके स्वामी ग्रह बुध के मैत्री स्थान में विराजमान होने से धोनी का पराक्रम भी बढेगा|


लेकिन यदि धोनी और टीम को जीत हासिल करनी है तो उन्हें कड़ी मेहनत करनी होगी और खुद पर विश्वास बनाए रखना है क्योंकि चन्द्र के साथ केतु के होने से उनकी जीत की राह में मुश्किलें आ सकती हैं|


दक्षिण अफ्रीका के कप्तान एबी डेविलिएर्स का जन्म 17 फ़रवरी 1984 को दक्षिण अफ्रिका के प्रेटोरिया में हुआ था| उनकी चन्द्र राशि सिंह और स्वामी ग्रह सूर्य है| डेविलिएर्स की सूर्य राशि कुम्भ है|


22 फ़रवरी को डेविलिएर्स की कुंडली के अनुसार चंद्रमा उनकी चन्द्र राशि से आठवें घर पर विराजमान रहेगा जो कि मीन है| यह स्थिति डेविलिएर्स और उनकी टीम के लिए सही नहीं है| पर चूँकि उनके स्वामी ग्रह सूर्य की उनकी चंद्रराशि सिंह पर कृपा रहेगी इसलिए डेविलिएर्स से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है| डेविलिएर्स और टीम में विपक्षी टीम भारत को चिंता में डालने की क्षमता है| दक्षिण अफ्रीका पहले भी कई अवसरों पर भारतीय टीम को पराजित कर चुका है लेकिन यह भी सच है कि दक्षिण अफ्रीका आजतक एक बार भी विश्वकप विजेता नहीं बन पाया है| जबकि भारत दो बार यह मुकाम हासिल कर चुका है| इसका दबाव तो दक्षिण अफ्रीका टीम पर रहेगा ही|


एस्ट्रोयोगी ज्योतिषियों के अनुसार दोनों कप्तानों की चन्द्रमा की स्थिति देखी जाए तो उन्हें इस विश्व कप में अपनी दूसरी जीत के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी| फिलहाल ग्रहों और सितारों के अनुसार गत विश्वविजेता भारत की जीत के आसार बेहतर और प्रबल दिखाई दे रहे है|

एस्ट्रो लेख

बुध का राशि परि...

इस माह बुध राशि परिवर्तन कर मकर राशि के कुंभ राशि में जा रहे हैं। वैदिक ज्योतिष में बुध को वाणी का कारक माना जाता है। कहते हैं कि वाणी में मधुरता हो तो शत्रु भी मित्र बन जाता है। प...

और पढ़ें ➜

Saturn Transit ...

निलांजन समाभासम् रवीपुत्र यमाग्रजम । छाया मार्तंड संभूतं तं नमामी शनैश्वरम ।। Saturn Transit 2020 - सूर्यपुत्र शनिदेव 24 जनवरी 2020 को भारतीय समय दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर धनु राशि ...

और पढ़ें ➜

बसंत पंचमी पर क...

जब खेतों में सरसों फूली हो/ आम की डाली बौर से झूली हों/ जब पतंगें आसमां में लहराती हैं/ मौसम में मादकता छा जाती है/ तो रुत प्यार की आ जाती है/ जो बसंत ऋतु कहलाती है। सिर्फ खुशगवार ...

और पढ़ें ➜

Rashianusar Puj...

हिंदू धर्म में पूजा-पाठ का बड़ा महत्व है, लेकिन कई बार रोज़ाना पूजा-पाठ करने के बावजूद भी हमारा मन अशांत ही रहता है। वहीं भगवान की पूजा के दौरान कौन सा फूल, फल और दीपक जलाना चाहिए ...

और पढ़ें ➜