Skip Navigation Links
बजट 2017 - कैसा रहेगा आपके लिये 2017 का आम बजट


बजट 2017 - कैसा रहेगा आपके लिये 2017 का आम बजट

1 फरवरी का दिन देश में सामाजिक सांस्कृतिक रूप से महत्वपूर्ण है ही क्योंकि इस दिन पूरा देश मां सरस्वती की पूजा करेगा। क्योंकि यह दिन बसंत पंचमी का दिन है इसलिये धार्मिक रूप से तो इसकी महत्ता है ही लेकिन आर्थिक रूप से भी यह दिन बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि इस दिन वित्त मंत्री अरूण जेटली संसद में 2017 का आम बजट पेश करेंगें। ऐसे में वित्त मंत्री के पिटारे में किस क्षेत्र के लिये क्या छिपा है? यह तो बजट पेश किये जाने के बाद ही पता चलेगा। लेकिन ज्योतिषशास्त्र से हम जीवन के हर क्षेत्र में पूर्वानुमान जरुर लगा सकते हैं। मां सरस्वती की पूजा का दिन होने के कारण बसंत पंचमी शुभ कार्यों के लिये बहुत ही शुभ दिन माना जाता है ऐसे में क्या आम लोगों के लिये भी बजट से कोई शुभ समाचार मिलेगा? नोटबंदी के बाद अर्थशास्त्रियों ने आर्थिक नुक्सान के जो कयास लगाये हैं क्या औद्योगिक क्षेत्र को बजट से कुछ राहत मिलेगी? इन सब सवालों के जवाब आइये अर्थशास्त्र नहीं बल्कि ज्योतिषशास्त्र के नजरिये से जानने की कोशिश करते हैं। एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों के अनुसार बजट पर ग्रहों का क्या असर रहेगा आइये जानते हैं।

2017 का आम बजट 1 फरवरी को 11 बजे संसद में पेश किया जायेगा। इस समय के अनुसार मेष लग्न और मीन राशि का लग्न बन रहा है। मेष राशि का स्वामी मंगल चंद्रमा के साथ शुभ योग बना रहा है। इसका संकेत है आम बजट सभी वर्गों के लिये लाभकारी रह सकता है। दरअसल शनि जो कि जनता के प्रतिनिधि माने जाते हैं। धनु राशि में भाग्य स्थान पर विचरण कर रहे हैं। शनि निम्न एवं मध्यम वर्ग के कारक ग्रह भी माने जाते हैं। अत: आम व्यक्ति के लिये बजट काफी शुकून देने वाला रह सकता है। यदि आप किसी तरह की भी आर्थिक दिक्कतों का सामना कर रहे हैं तो इसका कारण आपकी कुंडली में ग्रहों का नकारात्मक प्रभाव हो सकता है। अपनी समस्याओं का कारण और निवारण ज्योतिषीय तरीके से जानने के लिये एस्ट्रोयोगी पर आप देश के जाने-माने ज्योतिषाचार्यों से परामर्श कर सकते हैं। अभी परामर्श करने के लिये लिंक पर क्लिक करें।


क्या आम बजट 2017 लायेगा विभिन्न क्षेत्रों में उतार चढ़ाव?


खाद्य पदार्थों के मूल्यों में उतार-चढ़ाव

बृहस्पति के वक्री होने पर गुड़ व तेल के साथ-साथ कुछ खाद्य सामग्रियों के मूल्यों में मामूली तेजी आ सकती है लेकिन बहुत से खाद्य पदार्थों के दाम कम होने के आसार भी हैं। ढाई वर्ष के बाद शनि के स्थान परिवर्तन होने से कुछ नये नियम भी आ सकते हैं जो हो सकता है शुरुआती तौर पर हमें ठीक न लगें लेकिन दीर्घकालीन परिणाम इनसे अच्छे मिल सकते हैं।

इलेक्ट्रोनिक उत्पाद हो सकते हैं मंहगे

12वां मंगल शुक्र के साथ रहने से इलैक्ट्रोनिक उत्पाद मंहगे हो सकते हैं।

यह हो सकता है सस्ता

दशम सूर्य होने से भूमि, मकान, लोन आदि सस्ते होने की उम्मीद की जा सकती है।

उद्योगों के लिये लाभकारी

उद्योग के कारक ग्रह शुक्र व सूर्य क्रमश: तीसरे और दसवें घर में होने से छोटे उद्यमी इस बजट से काफी उम्मीद लगा सकते हैं। नौकरीपेशा लोगों को भी बजट से खुशख़बरी मिल सकती है। हालांकि सरकारी क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारियों को थोड़ी निराशा हाथ लग सकती है। लेकिन भविष्य में इस बजट से इन्हें भी लाभ मिल सकता है।

शेयर बाज़ार

शेयर बाज़ार के लिये भी बजट अनुकूलित रहने के आसार हैं।

सर्राफा बाज़ार

द्रव्य क्षेत्र में कारक ग्रह चंद्रमा 12वें घर में होने से सफेद धातु में थोड़ी तेजी आ सकती है। सोना, लोहा, तांबा के मूल्यों में गिरावट की संभावना है। कहा जा सकता है कि सर्राफ़ा बाज़ार के लिये भी यह बजट अच्छा रहने के आसार हैं।

महिलाओं के लिये बजट

2017 के बजट में शुक्र मंगल और चंद्र 12वें होने से स्त्री पक्ष को अपेक्षित लाभ मिलने के आसार हैं विशेषकर गृहणियों के लिये यह बजट शुभ रहने के आसार हैं। कुल मिलाकर 1 फरवरी को पेश होने वाला आम बजट शनि के परिवर्तन चंद्र, मंगल व शुक्र के प्रभाव से अच्छा रहने की उम्मीद की जा सकती है। 

यह भी पढ़ें

वित्त राशिफल 2017    |   दैनिक वित्त राशिफल   |   पढ़ें अपनी व्यवसायिक प्रोफाइल   |   2017 देश के आंतरिक हालात पर कैसी है ग्रहों की नज़र?

नरेंद्र मोदी 2017 - कैसा रहेगा नया साल प्रधानमंत्री मोदी के लिये   |   विद्यार्थियों के लिये कैसा रहेगा साल 2017   |   2017 क्या लायेगा अच्छे दिन?

साल 2017 में किस क्षेत्र में बढ़ेंगें रोजगार के अवसर   |   2017 में क्या कहती है भारत की कुंडली   |   2017 में कैसे रहेंगें सिनेमा के सितारे




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

माँ चंद्रघंटा - नवरात्र का तीसरा दिन माँ दुर्गा के चंद्रघंटा स्वरूप की पूजा विधि

माँ चंद्रघंटा - नव...

माँ दुर्गाजी की तीसरी शक्ति का नामचंद्रघंटाहै। नवरात्रि उपासनामें तीसरे दिन की पूजा का अत्यधिक महत्व है और इस दिन इन्हीं के विग्रह कापूजन-आरा...

और पढ़ें...
माँ कूष्माण्डा - नवरात्र का चौथा दिन माँ दुर्गा के कूष्माण्डा स्वरूप की पूजा विधि

माँ कूष्माण्डा - न...

नवरात्र-पूजन के चौथे दिन कूष्माण्डा देवी के स्वरूप की ही उपासना की जाती है। जब सृष्टि की रचना नहीं हुई थी उस समय अंधकार का साम्राज्य था, तब द...

और पढ़ें...
दुर्गा पूजा 2017 – जानिये क्या है दुर्गा पूजा का महत्व

दुर्गा पूजा 2017 –...

हिंदू धर्म में अनेक देवी-देवताओं की पूजा की जाती है। अलग अलग क्षेत्रों में अलग-अलग देवी देवताओं की पूजा की जाती है उत्सव मनाये जाते हैं। उत्त...

और पढ़ें...
जानें नवरात्र कलश स्थापना पूजा विधि व मुहूर्त

जानें नवरात्र कलश ...

 प्रत्येक वर्ष में दो बार नवरात्रे आते है। पहले नवरात्रे चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुरु होकर चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि ...

और पढ़ें...
नवरात्र में कैसे करें नवग्रहों की शांति?

नवरात्र में कैसे क...

आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से मां दुर्गा की आराधना का पर्व आरंभ हो जाता है। इस दिन कलश स्थापना कर नवरात्रि पूजा शुरु होती है। वैसे ...

और पढ़ें...