बजट 2020 - कैसा रहेगा आपके लिये 2020 का आम बजट

2020 का आम बजट 1 फरवरी को संसद में पेश किया जाएगा। यह बजट कई मायनों में खास रहने वाला है। दरअसल 2019-20 में आर्थिक मंदी की बातें हो रही थी, वहीं इस बार के बजट को उम्मीदों का बजट कहा जा रहा है। हालांकि ज्योतिषशास्त्र के अनुसार ग्रहों की दशा व दिसा के अनुसार यह पूर्वानुमान लगाया जा सकता है कि इस बार बजट मिलाजुला ही रहने वाला होगा। आइए जानते हैं साल 2020-21 के बजट पर ग्रहों की चाल के क्या संकेत हैं?

 

आम बजट के साथ-साथ ग्रहों की नज़र आपके बजट पर कैसी पड़ रही है? एस्ट्रोयोगी पर देश के जाने माने ज्योतिषियों से जानें कैसे मिलेगी बजट की चिंता से मुक्ति? आचार्य दिनेश से बात करने के लिये यहां क्लिक करें।

 

ज्योतिष के आधार पर बजट 2020

मेदिनी ज्योतिष और 1 फरवरी 2020 की प्रश्न कुंडली के अनुसार, देशवासियों को शनि प्रभाव से जो आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ रहा है, इस बीच वित्त मंत्री द्वारा आम बजट में टैक्स रिबेट, व्यापार वाणिज्य, नौकरी में नए आयाम और लोन के माध्यम से कम ब्याज, कार और मकान की सुविधा के साथ-साथ, महिलाओं और बच्चों के विकास की पॉलिसी, रियल स्टेट में सर्किल रेट कम करने जैसी कई सुविधाएँ प्रदान करने के आसार हैं। 

 

इस बजट में चंद्रमा, बुध, शुक्र और गुरु के कारक तत्वों और उनसे जुड़े भावों में सामान्य जनता को लाभ होता हुआ प्रतीत हो सकता है। वहीं तेल और खाद्य की कीमतों के उतार-चढ़ाव में सूर्य-शनि की युति सामान्य जनता को परेशान कर सकती है। दूसरी ओर बुध- शुक्र की युति व्यापार वाणिज्य, स्वास्थ्य सेवाओं, बैंकों, शेयर मार्केट, देश की मुद्रा, राजस्व व्यवस्था, टेलीकॉम और यातायात के क्षेत्र में मेट्रो और बुलेट से जुड़े प्रोजेक्ट से जनता को सुनहरे अवसर प्रदान करने की संभावना है। 

 

ज्योतिष के अनुसार गुरु, धनु और मकर राशि में इस वर्ष विचरण करेंगे, यह योग महिला वर्ग के लिए अनेक सुनहरे अवसर लाने वाला साबित हो सकता है। इस वर्ष बजट में महिलाओं और बच्चों के विकास के हित में नई पॉलिसी सरकार द्वारा लाने की संभावनाएं हैं। वहीं सीमा पर सुरक्षा के लिए भी बजट से अच्छा पैसा आएगा। । गुरु का केतु के साथ संयोग और राहु से दृष्टिपात होना, एरोनोटिक्स, वायुयान, IT इंडस्ट्री, अस्त्र-शस्त्र निर्माण के लिए फैक्ट्री लगाने और विदेशी कंपनियों को निवेश के लिए सुनहरे अवसर प्रदान कर सकता है।

 

वर्ष 2020 में शनि 24 जनवरी को मकर राशि में गोचर करेंगे, जिसकी वजह से सरकारी कामकाजों में गति, न्यायप्रणाली में सुधार, विकास से जुड़ी योजनाएं सफल रहेंगी। वहीं धनु राशि में गुरु का गोचर और शनि का मकर में गोचर भारत में विदेशी कंपनियों को निवेश करने की ओर इंगित करता है। 

 

नए वित्तवर्ष में भारत का बजट सराहनीय, उत्तम, मध्यम वर्गीय, निम्न वर्गीय और उच्च वर्गीय जनता के हित में हो सकता है। ज्योतिष के मुताबिक, बजट 2020 की प्रशंसा की जा सकती है और यह बजट उत्तम रहने के आसार हैं। शिक्षा के क्षेत्र में विकास, विदेशों में भारतीय छात्रों को कम ब्याज पर लोन सुविधा, न्यायालय से जुड़ी नौकरियों के अवसर दिए जाने के आसार हैं। इसे अलावा प्रदूषण और जनसंख्या विस्फोट से बचने के लिए जन भागीदारी के साथ-साथ सामान्य जनता को घर, बिजली, पानी, गैस और सुलभ शौचालय की सुविधा दी जाएंगी। 

 

यह भी पढ़ें

वित्त राशिफल 2020    |   दैनिक वित्त राशिफल   |   पढ़ें अपनी व्यवसायिक प्रोफाइल   |    2020 में क्या कहती है भारत की कुंडली   |   2020 में कैसे रहेंगें सिनेमा के सितारे

एस्ट्रो लेख

प्रभु श्री राम ...

प्रभु श्री राम भगवान विष्णु के सातवें अवतार माने जाते हैं। भगवान विष्णु ने जब भी अवतार धारण किया है अधर्म पर धर्म की विजय हेतु लिया है। रामायण अगर आपने पढ़ी नहीं टेलीविज़न पर धाराव...

और पढ़ें ➜

भगवान श्री राम ...

रामायण और महाभारत महाकाव्य के रुप में भारतीय साहित्य की अहम विरासत तो हैं ही साथ ही हिंदू धर्म को मानने वालों की आस्था के लिहाज से भी ये दोनों ग्रंथ बहुत महत्वपूर्ण हैं। आम जनमानस ...

और पढ़ें ➜

अक्षय तृतीया 20...

हर वर्ष वैसाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि में जब सूर्य और चन्द्रमा अपने उच्च प्रभाव में होते हैं, और जब उनका तेज सर्वोच्च होता है, उस तिथि को हिन्दू पंचांग के अनुसार अत्यंत शु...

और पढ़ें ➜

वैशाख अमावस्या ...

अमावस्या चंद्रमास के कृष्ण पक्ष का अंतिम दिन माना जाता है इसके पश्चात चंद्र दर्शन के साथ ही शुक्ल पक्ष की शुरूआत होती है। पूर्णिमांत पंचांग के अनुसार यह मास के प्रथम पखवाड़े का अंत...

और पढ़ें ➜