Skip Navigation Links
Champions Trophy 2017 - India vs Pakistan 4 जून को भिड़ेंगें भारत-पाकिस्तान


Champions Trophy 2017 - India vs Pakistan 4 जून को भिड़ेंगें भारत-पाकिस्तान

आईपीएल के दसवें सीज़न का आपने खूब आनंद लिया होगा, कभी मुंबई तो कभी पूणे, कभी कोलकाता तो कभी हैदराबाद के साथ पंजाब, गुजरात, दिल्ली के समर्थन में आपने खूब नारे लगायें होंगे लेकिन अब समय आ गया है कि अपने-अपने क्षेत्र को भूलाकर सब भारतीय हो जायें। क्योंकि 1 जून से चैंपियंस ट्रॉफी शुरु हो रही है। फिलहाल यह चैंपियन्स ट्रॉफी की चैंपियन भारतीय टीम ही है। महेन्द्र सिंह धोनी के नेतृत्व में भारत ने चैंपियन ट्रॉफी पर अपना कब्जा जमाया था। वर्तमान में टीम के कप्तान विराट कोहली हैं ऐसे में क्या वे भारत की बादशाहत को कायम रख पायेंगे? भारत का पहला मुकाबला 4 जून को पाकिस्तान से है और क्रमश 8 व 11 जून को उसे श्री लंका व दक्षिण अफ्रीका के साथ खेलना है। भारत और पाकिस्तान के बीच तो हर मैच किसी फाइनल से कम नहीं समझा जाता। वैसे भी भारत-पाक संबंधों में तनाव के चलते भारत व पाकिस्तान के बीच मैच खेले ही नहीं जा रहे ऐसे में 4 जून को होने वाला मैच बेहद रोमांचक रहने वाला है। मैच का परिणाम क्या रहेगा यह तो 4 जून को मैच के बाद ही पता चलेगा लेकिन ज्योतिषशास्त्र के अनुसार हम इस लेख में बता रहे हैं कि भारत और पाकिस्तान के कप्तानों की कुंडली के अनुसार किस टीम के सितारे कितने मजबूत हैं और किसकी जीत की संभावनाएं प्रबल हैं? आइये जानते हैं।

भारतीय कप्तान विराट कोहली के सितारे

नाम – विराट कोहली

जन्मतिथि – 5 नवंबर 1988

जन्म स्थान – दिल्ली

जन्म समय – 10:26

उपरोक्त विवरण के अनुसार विराट कोहली का जन्म धनु लग्न में हुआ है इनकी चंद्र राशि कन्या है। इन पर वर्तमान में राहू की महादशा चल रही है तो शनि इनकी अंतर्दशा में हैं। राहू इनके प्रत्यंतर में भी चल रहे हैं। इनकी राशि पर खेल के कारक मंगल की सपष्ट दृष्टि पड़ रही है। ग्रह की दशाओं के अनुसार समय इनके लिये चुनौतिपूर्ण रह सकता है।

पाकिस्तान के कप्तान सरफ़राज़ अहमद के सितारे

नाम – सरफ़राज़ अहमद

जन्मतिथि – 22 मई 1987

जन्म स्थान – कराची, पाकिस्तान

जन्म समय – 00:00 (सही समय उपलब्ध नहीं है)

पाकिस्तानी टीम के कप्तान सरफ़राज़ अहमद की कुंडली मकर लग्न व कुंभ राशि की है। इन पर वर्तमान में बुध की महादशा, शुक्र का अंतर और शुक्र का ही प्रत्यंतर चल रहा है। इनकी कुंडलिका से भाग्य और कर्म की दशाएं चल रही हैं। जिससे की टीम में इनका प्रभाव ज्यादा रहेगा। पूरी ट्रॉफी में इनकी टीम का प्रदर्शन नायक की कुंडलिका के अनुसार श्रेष्ठ रह सकता है। इनकी राशि में केतु का प्रभाव है जो कि इनकी टीम में संगठित शक्ति को कमजोर करता है। जिससे की मैच को जीतने की क्षमता में पूरी टीम का यदि अच्छा प्रभाव रहता है तो प्रभावशाली परिणाम दे सकते हैं।

मैच के दिन ग्रहों की दशा

4 जून 2017 को ईंगलैंड के समयानुसार मैच प्रात: 10:30 बजे शुरु होगा। इस समय के अनुसार मैच सिंह लग्न और कन्या राशि में होगा। विराट कोहली की कुंडलिका के अनुसार इनकी राशि में चंद्रमा विराजमान रहेंगें जो कि थोड़ा शुभ नहीं है। किंतु मंगल की दशा चलने के कारण और मंगल के विराट कोहली की कुंडलिका पर अच्छा प्रभाव होने से मैच का परिणाम भारत के पक्ष में आने के संकेत बनते हैं। क्योंकि पाकिस्तान के कप्तान सरफ़राज़ अहमद की राशि कुंभ है। इनकी राशि से चंद्रमा अष्टम भाव में रहेगा तो वहीं मंगल भी इनकी राशि में छठे भाव में रहेगा जो कि दोनों ही स्थितियों में इनके लिये लाभप्रद नहीं है। भारतीय टीम के खिलाड़ियों के ग्रहों का प्रभाव अगर अच्छा रहा तो यह मैच भारत की झोली में आ सकता है। वहीं पाकिस्तानी टीम के खिलाड़ियों के ग्रहों का प्रभाव अच्छा होने पर भी उन्हें अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है।

कुल मिलाकर 4 जून को भारत पाकिस्तान के बीच होने वाले इस मुकाबले में भारतीय कप्तान विराट कोहली की किस्मत उनका साथ दे सकती है। आपकी किस्मत आपका कितना साथ दे रही है? यदि भाग्य का साथ नहीं मिल रहा तो क्यों नहीं मिल रहा? जानें एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों से। अभी परामर्श करने के लिये यहां क्लिक करें।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

मार्गशीर्ष अमावस्या – अगहन अमावस्या का महत्व व व्रत पूजा विधि

मार्गशीर्ष अमावस्य...

मार्गशीर्ष माह को हिंदू धर्म में काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। इसे अगहन मास भी कहा जाता है यही कारण है कि मार्गशीर्ष अमावस्या को अगहन अमावस्य...

और पढ़ें...
कहां होगा आपको लाभ नौकरी या व्यवसाय ?

कहां होगा आपको लाभ...

करियर का मसला एक ऐसा मसला है जिसके बारे में हमारा दृष्टिकोण सपष्ट होना बहुत जरूरी होता है। लेकिन अधिकांश लोग इस मामले में मात खा जाते हैं। अक...

और पढ़ें...
विवाह पंचमी 2017 – कैसे हुआ था प्रभु श्री राम व माता सीता का विवाह

विवाह पंचमी 2017 –...

देवी सीता और प्रभु श्री राम सिर्फ महर्षि वाल्मिकी द्वारा रचित रामायण की कहानी के नायक नायिका नहीं थे, बल्कि पौराणिक ग्रंथों के अनुसार वे इस स...

और पढ़ें...
राम रक्षा स्तोत्रम - भय से मुक्ति का रामबाण इलाज

राम रक्षा स्तोत्रम...

मान्यता है कि प्रभु श्री राम का नाम लेकर पापियों का भी हृद्य परिवर्तित हुआ है। श्री राम के नाम की महिमा अपरंपार है। श्री राम शरणागत की रक्षा ...

और पढ़ें...
मार्गशीर्ष – जानिये मार्गशीर्ष मास के व्रत व त्यौहार

मार्गशीर्ष – जानिय...

चैत्र जहां हिंदू वर्ष का प्रथम मास होता है तो फाल्गुन महीना वर्ष का अंतिम महीना होता है। महीने की गणना चंद्रमा की कलाओं के आधार पर की जाती है...

और पढ़ें...