Skip Navigation Links
ICC चैंपियंस ट्रॉफी 2017 – किस टीम के कप्तान के ग्रहों की दशा है अच्छी?


ICC चैंपियंस ट्रॉफी 2017 – किस टीम के कप्तान के ग्रहों की दशा है अच्छी?

क्रिकेट का खुमार पूरी दुनिया पर जमकर चढ़ता है चाहे बात घरेलु क्रिकेट की हो या फिर अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मुकाबलों की, टी-20 मुकाबले हों या एकदिवसीय मुकाबले या फिर टेस्ट क्रिकेट ही क्यों न हो। विश्वकप तो अपने आप में क्रिकेट का महाकुंभ कहलाता है लेकिन एक छोटा महाकुंभ भी इस खेल का होता है जिसे चैंपियन्स ट्रॉफी कहा जाता है। ईंग्लैंड की मेजबानी में 1 जून से 18 जून तक चैंपियन्स ट्रॉफी के लिये मुकाबले होंगे। क्रिकेट का मिनी वर्ल्ड कप कही जाने वाली इस प्रतियोगिता में दुनिया की श्रेष्ठ आठ टीम हिस्सा ले रही हैं। भारत तो इस ट्रॉफी का गत विजेता भी है। उस समय इस ट्रॉफी को भारतीय टीम ने कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में जीता था तो इस बार इस खिताब को अपने पास रखने की जिम्मेदारी भारतीय कप्तान विराट कोहली के कंधों पर हैं। खेल विशेषज्ञों की राय तो आप खेल वेबसाइट्स पर पढ़ते ही होंगे लेकिन ज्योतिषशास्त्र के नज़रिये से सभी आठ टीमों में से कौनसी टीम यह खिताब अपने नाम कर सकती हैं। किस टीम के कप्तान की किस्मत मैदान पर उसका साथ दे सकती है। इसका आकलन किया है एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों ने तो आइये जानते हैं टीम के कप्तानों की कुंडली के आधार पर कौनसी टीम चैंपियन्स ट्रॉफी में जीत की ज्यादा दावेदार है।

ईंग्लैंड के कप्तान इओन मोर्गन की कुंडली

ईंगलैंड के कप्तान इओन मोर्गन की कुंडलिका मिथुन लग्न और वृश्चिक राशि की है। इन पर वर्तमान में बुध की महादशा शनि का अंतर व शनि का प्रत्यंतर चल रहा है। वर्तमान में इनकी राशि पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव है। जो कि इनके लिये चुनौतिपूर्ण रह सकता है। बुध की दशा इनके लिये सुखकारी तो है जो कि कुछ मैचों में इन्हें प्रभावकारी बना सकती है। टीम के नायक होने के कारण इनकी कुंडलिका का विशेष प्रभाव रहेगा। इनका ट्रॉफी को जितना चुनौतिपूर्ण दर्शा रहा है।

बांग्लादेश के कप्तान मशरफ़ ए मोर्तज़ा की कुंडली

बांग्लादेश के कप्तान मशरफ़ ए मोर्तज़ा की कुंडलिका मिथुन लग्न सिंह राशि की कुंडलिका है। राहू की महादशा, शनि का अंतर और केतु का प्रत्यंतर चल रहा है। राशि और दशाएं काफी कमजोर समय को दर्शा रहे हैं। क्योंकि राहू और शनि चुनौतिपूर्ण समय को दर्शाते हैं। सुख भाव में बृहस्पति भी वक्र होने से कुंडलिका को कमजोर करते हैं। इनके टीम के साथियों के ग्रहों का अगर सहयोग मिला तो कुछ मैचों में इनकी टीम अच्छा प्रदर्शन कर सकती है।

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन की कुंडली

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन की कुंडलिका मेष लग्न कुंभ राशि की है। वर्तमान दशा इन पर बृहस्पति की महादशा में बुध का अंतर तो बृहस्पति का प्रत्यंतर चल रहा है। बृहस्पति इनकी कुंडलिका में भाग्य के स्वामी हैं और उच्च के होकर सुख भाव में बैठे हुए हैं। पराक्रमेश बुध का भी अंतर चल रहा है जो कि इनके समय को बलशाली बनाता है। लेकिन 10 जून तक बृहस्पति का वक्र रहना शुरुआती मैच में इनके प्रदर्शन को सामान्य बनाता है। लग्न का मंगल हमेशा इन्हें विजय का आशीर्वाद तो देता है लेकिन वक्र शनि अंतिम क्षणों में निराशा के संकेत भी करता है। टीम के साथियों का भाग्य अगर साथ रहा तो इस टीम के अंदर श्रृंखला जीतने की प्रबल क्षमता है।

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ की कुंडली

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ की कुंडलिका कुंभ लग्न मेष राशि की है। चंद्रमा की महादशा, बुध का अंतर, शनि का प्रत्यंतर चल रहा है। इनकी कुंडलिका में लाभ घर में शनि विराजमान हैं और चंद्रमा पराक्रम स्थान में बैठे हुए हैं जो कि इनकी टीम को एक मजबूती प्रदान करते हैं। 21 जून तक शनि लाभ घर में ही विराजमान रहेंगें जिससे इनकी टीम का प्रदर्शन मैच दर मैच लाभकारी रह सकता है। ग्रहों का संकेत है कि इनकी टीम इस श्रृंखला में जितने की क्षमता रखती है।

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान एबी डीविलियर्स की कुंडली

दक्षिणी अफ्रीका के कप्तान एबी डीविलियर्स की कुंडली वृश्चिक लग्न और सिंह राशि की है। वर्तमान महादशा चंद्रमा की महादशा के साथ राहू का अंतर व राहू का प्रत्यंतर चल रहा है। राशि के अनुसार इनका समय संघर्षपूर्ण रह सकता है। भाग्येश चंद्रमा को दशाओं में राहू पीड़ित कर रहा है जो कि इनके समय को कमजोर बनाता है। इनको श्रृंखला में बने रहने के लिये अपनी टीम के साथियों का संपूर्ण साथ चाहिये होगा। क्योंकि नायक की कुंडलिका में समय अनुकूल नहीं है।

श्री लंका के कप्तान एंजलो मैथ्यू की कुंडली

श्री लंका के कप्तान एंजलो मैथ्यू की कुंडली कुंभ लग्न कर्क राशि की है। इनकी वर्तमान दशा शुक्र की महादशा में अंतर शुक्र और प्रत्यंतर बृहस्पति का चल रहा है। शुक्र इनकी कुंडली में भाग्य और सुख के स्वामी हैं जो कि इनके समय को बलशाली दिखाता है। इनकी राशि कर्क जो कि चंद्रमा का स्वयी स्थान है। राशि से भी इनका समय मजबूत दिख रहा है और लाभ घर में शनि विराजमान हैं। जो कि शुभ संकेत देते हैं। राशि दशा और गोचर के अनुसार इनकी कुंडलिका सभी नायकों में मजबूत कुंडलिका बनती है। इनकी टीम का पूरा सहयोग मिलने पर ये भी अपनी श्रृंखला को पक्ष में लाने पूरे चांस बन रहे हैं।

पाकिस्तान के कप्तान सरफ़राज़ अहमद की कुंडली

पाकिस्तानी टीम के कप्तान सरफ़राज़ अहमद की कुंडली मकर लग्न व कुंभ राशि की है। वर्तमान दशा बुध की महादशा, शुक्र का अंतर और शुक्र का ही प्रत्यंतर चल रहा है। इनकी कुंडलिका से भाग्य और कर्म की दशाएं चल रही हैं। जिससे की टीम में इनका प्रभाव ज्यादा रहेगा। पूरी ट्रॉफी में इनकी टीम का प्रदर्शन नायक की कुंडलिका के अनुसार श्रेष्ठ रह सकता है। इनकी राशि में केतु का प्रभाव है जो कि इनकी टीम में संगठित शक्ति को कमजोर करता है। जिससे की मैच को जीतने की क्षमता में पूरी टीम का यदि अच्छा प्रभाव रहता है तो प्रभावशाली परिणाम दे सकते हैं।

भारत के कप्तान विराट कोहली की कुंडली

भारत के कप्तान विराट कोहली की कुंडलिका के हिसाब से धनु लग्न और कन्या राशि की है। इन पर वर्तमान दशा राहू की महादशा शनि का अंतर व राहू का प्रत्यंतर चल रहा है। इनकी राशि में मंगल की भी सपष्ट दृष्टि है। जो कि ग्रह दशाओं के हिसाब से वर्तमान समय काफी चुनौतिपूर्ण दिखा रहा है। मंगल आक्रामकता का प्रतीक होते हैं। उसकी दृष्टि होने से हम इनके पलड़े को भारी मान सकते हैं खेल के क्षेत्र में। जैसा कि हमने पहले भी कहा है कि क्रिकेट एक टीम का खेल होता है। जिसमें अन्य खिलाड़ियों की राशि और ग्रह दशा भी प्रबल मानी जाती है। टीम के नायक के हिसाब से भारतीय टीम के लिये चुनौतिपूर्ण समय रहेगा।

आपकी कुंडली के अनुसार ग्रह आपका कितना साथ दे रहे हैं जानने के लिये परामर्श करें एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों से। अभी बात करने के लिये यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें

Champions Trophy 2017 - India vs Pakistan 4 जून को भिड़ेंगें भारत-पाकिस्तान




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

देवशयनी एकादशी 2018 – जानें देवशयनी एकादशी की व्रतकथा व पूजा विधि

देवशयनी एकादशी 201...

साल भर में आषाढ़ महीने की शुक्ल एकादशी से लेकर कार्तिक महीने की शुक्ल एकादशी तक यज्ञोपवीत संस्कार, विवाह, दीक्षाग्रहण, ग्रहप्रवेश, यज्ञ आदि धर्म कर्म से जुड़े जितने ...

और पढ़ें...
आषाढ़ पूर्णिमा 2018 – जानें गोपद्म व्रत व पूजा की विधि

आषाढ़ पूर्णिमा 201...

वैसे तो प्रत्येक माह की पूर्णिमा तिथि धार्मिक दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण होती है लेकिन आषाढ़ माह की पूर्णिमा और भी खास होती है। आषाढ़ पूर्णिमा को ही गुरु पूर्णिमा के ...

और पढ़ें...
चंद्र ग्रहण 2018 - 2018 में कब है चंद्रग्रहण?

चंद्र ग्रहण 2018 -...

चंद्रग्रहण और सूर्य ग्रहण के बारे में प्राथमिक शिक्षा के दौरान ही विज्ञान की पुस्तकों में जानकारी दी जाती है कि ये एक प्रकार की खगोलीय स्थिति होती हैं। जिनमें चंद्रम...

और पढ़ें...
कर्क संक्रांति - कर्क राशि में सूर्य, बुध व राहू का साथ! कैसे रहेंगें हालात? जानिए

कर्क संक्रांति - क...

सूर्य ज्योतिषशास्त्र में बहुत ही प्रभावी ग्रह माने जाते हैं। सूर्य का राशि परिवर्तन करना संक्रांति कहलाता है। 17 जुलाई को सूर्य मिथनु राशि से कर्क में आ गये हैं। कर्...

और पढ़ें...
गुप्त नवरात्र 2018 – जानिये गुप्त नवरात्रि की पूजा विधि एवं कथा

गुप्त नवरात्र 2018...

देवी दुर्गा को शक्ति का प्रतीक माना जाता है। मान्यता है कि वही इस चराचर जगत में शक्ति का संचार करती हैं। उनकी आराधना के लिये ही साल में दो बार बड़े स्तर पर लगातार नौ...

और पढ़ें...