Skip Navigation Links
इन 5 वास्तु उपायों की मदद से प्राप्त हो सकता है धन


इन 5 वास्तु उपायों की मदद से प्राप्त हो सकता है धन

जीवन में कई बार हम कड़ी मेहनत के बाद भी सफलता प्राप्त नहीं कर पाते हैं। निराश जिंदगी और हताश दिल से हम निरंतर खुद को और अपनी किस्मत को कोसते रहते हैं। लेकिन कई बार हमारी छोटी-छोटी भूल और गलतियाँ जो हम जाने-अनजाने करते रहते हैं वह हमारे सौभाग्य को दुर्भाग्य में तब्दील कर देती हैं। अगर हम जीवन में कुछ आसान उपायों को अपनायें तो सौभाग्य को प्राप्त भी कर सकते हैं।

आइये जानते हैं धन प्राप्ति के 5 उपाय-



लग्न राशि के स्वामी ग्रहके रंग की कोई वस्तु साथ रखें

ज्योतिष के अनुसार हर व्यक्ति की एक चन्द्र राशि होती है और इसी तरह कुंडली में जन्म के समय से सम्बंधित एक लग्न राशि भी होती है। व्यक्ति के गुण और उसके व्यवहार को लग्न राशि काफी हद तक प्रभावित करती है। यदि आपके कार्य नहीं बन पा रहे हैं या आप आर्थिक रूप से तकलीफ में हैं तो अपनी लग्न राशि के ‘स्वामी ग्रह’ के अनुकूल रंग की कोई वस्तु अपने साथ जरूर रखें या स्वामी ग्रह के रंग से संबंधित कोई एक छोटा कपड़ा अपने साथ जरुर रखें।



उत्तर दिशा का कमरा और दक्षिण की दीवार

अक्सर हम अपने घर को वास्तु के हिसाब से अनुकूल नहीं बना पाते हैं। या तो हमें वास्तु का ज्ञान नहीं होता है या कई बार वास्तु पर विश्वास नहीं करते हैं। किन्तु एक बात याद रखें कि सभी दिशाओं से एक ना एक ग्रह संबंध रखता है और यही ग्रह नकारात्मक और सकारात्मक शक्तियों को अपनी तरफ आकर्षित करते हैं। घर की जिस दिशा में हम अपनी धन की अलमारी को रखते हैं, वह अलमारी, उत्तर दिशा के कमरे में दक्षिण की दीवार पर, अगर लगी हो तो यह, धन वृद्धि में लाभदायक साबित हो सकती है।

साथ ही साथ अन्य वास्तु प्रोडक्ट्स की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।



मुख्य द्वार की दाएं ओर रोजाना एक दीपक जलाया जाये

प्रातः सुबह लक्ष्मी की का पूजन घर में प्रतिदिन किया जाना चाहिए और सायंकाल को घर के मुख्य द्वार पर दायीं ओर एक घी का दीया जरूर जलाना चाहिए। इन दोनों कार्यों से धन के देवी लक्ष्मी जी प्रसन्न होकर व्यक्ति के पास ही रहती हैं।


घर के मुख्य द्वार पर गणेश जी का स्वरुप

गणेश भगवान जी के स्वरूप को घर के मुख्य द्वार पर लगाने से घर में धन सम्बंधित सभी समस्याओं का अंत होता है और घर में नकारात्मक शक्तियों का भी उदय नहीं हो पाता है।


घर में तुलसी जी का पौधा और गो माता को प्रतिदिन भोग

यदि आप कलयुग में निरंतर तुलसी जी की सेवा करते हैं और गो माता को प्रतिदिन भोग लगाते हैं तो ऐसा करने से धन की देवी लक्ष्मी जी सदैव आपके पास रहती हैं। यह दोनों कार्य एक विद्यार्थी, व्यवसायी, ग्रहणी और नौकरी-पेशे वाले व्यक्ति के लिए अति शुभ बताये गये हैं।

घर में सिल्वर तुलसी प्लांट को रखना भी वास्तु के अनुसार शुभ माना जाता है।



यदि इन उपायों के साथ-साथ व्यक्ति अपने इष्टदेव का ध्यान निरंतर करता रहता है तो व्यक्ति को सभी प्रकार के दुखों से मुक्ति प्राप्त होतो है और धन का लाभ भी जल्द से जल्द प्राप्त होता है।





एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

सीता नवमी 2018 – जानें जानकी नवमी की व्रत कथा व पूजा विधि

सीता नवमी 2018 – ज...

चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की नवमी को भगवान राम का प्राकट्य हुआ तो माता सीता वैशाख शुक्ल नवमी को प्रकट हुई थी। यही कारण है कि हिंदू धर्मानुयायी विशेषकर वैष्णव संप्रदाय ...

और पढ़ें...
मोहिनी एकादशी 2018 – जानें मोहिनी एकादशी की व्रत कथा व पूजा विधि

मोहिनी एकादशी 2018...

वैशाख मास को भी पुराणों में कार्तिक माह की तरह ही पावन बताया जाता है इसी कारण इस माह में पड़ने वाली एकादशी भी बहुत ही पुण्य फलदायी मानी जाती है। वैशाख शुक्ल एकादशी क...

और पढ़ें...
शनि वक्री 2018 - शनि की वक्री चाल क्या होगा हाल? जानें राशिफल

शनि वक्री 2018 - श...

शनि वक्री 2018 - 18 अप्रैल 2018 को जैसे ही शनि की चाल बदलेगी उसके साथ हमें भी अपने आस-पास बहुत कुछ बदलता हुआ दिखाई देगा। यह चेंज हमें अपनी पर्सनल, प्रोफेशनल से लेकर ...

और पढ़ें...
शुक्र का वृषभ राशि में गोचर – क्या होगा असर आपकी राशि पर !

शुक्र का वृषभ राशि...

20 अप्रैल को शुक्र मेष राशि को छोड़कर स्वराशि वृषभ में प्रवेश कर रहे हैं। शुक्र को मीन राशि में उच्च तो कन्या में नीच का माना जाता है। उच्च राशि व स्वराशि के होने पर...

और पढ़ें...
जपमाला - जप माला में 108 दाने क्यों होते हैं? जानें रहस्य।

जपमाला - जप माला म...

हिन्दू धर्म में हम मंत्र जप के लिए जिस माला का उपयोग करते है, उस माला में दानों की संख्या 108 होती है। शास्त्रों में इस संख्या 108 का अत्यधिक महत्व होता है । माला मे...

और पढ़ें...