Skip Navigation Links
होली पर है चंद्र ग्रहण दोष जानें क्या होगा असर


होली पर है चंद्र ग्रहण दोष जानें क्या होगा असर

होली का पर्व फाल्गुन पूर्णिमा को मनाया जाता है। होली का त्यौहार कई मायनों में खास होता है लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस होली पर राहु चंद्रमा के साथ रहेंगें जिससे चंद्र ग्रहण दोष बन रहा है। ग्रहण का यह दोष 10 मार्च की सांय 5 बजकर 4 मिनट पर केतु के नक्षत्र मघा व सिंह राशि में बनेगा। चंद्रमा पर लगने वाला यह ग्रहण सिंह जातकों को तो प्रभावित करेगा ही साथ ही अन्य राशियों को भी यह सकारात्मक और नकारात्मक रूप से प्रभावित करेगा। तो आइये जानते हैं 10 मार्च से बनने वाले इस चंद्र ग्रहण योग का क्या पड़ेगा आपकी राशि पर असर-

मेष

मेष जातकों के लिये यह ग्रहण सकारात्मक परिणाम देने वाला रहने के आसार हैं। विशेष कर ज्योतिष के क्षेत्र से जुड़े जातकों के लिये यह काफी अच्छा है। साथ ही तकनीकी क्षेत्रों इंजीनियरिंग, कंप्यूटर आदि से जुड़े जातक भी लंबे समय से जिन खामियों को दूर नहीं कर पा रहे थे वे उन कमियों की तह तक पंहुच सकते हैं और उन्हें दूर करने के उपाय खोज़ सकते हैं। कला क्षेत्र से जुड़े जातकों के लिये भी यह अच्छे परिणाम देने वाला रहेगा विशेषकर अभिनय क्षेत्र से जुड़े जातक बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। हालांकि सुरक्षा क्षेत्र से जुड़े जातकों को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। शत्रु इस दौरान आपके प्रति नकारात्मक विचारों को प्रसारित कर सकते हैं।

वृष

वृष जातकों के लिये भी ग्रहण का यह दोष योग की तरह काम करेगा। विशेषकर व्यवसायी जातकों को लाभ मिलने के आसार हैं। उनमें भी खान-पान के क्षेत्र में जो लोग काम करते हैं उनके लिये समय बहुत ही अच्छा रहने के आसार हैं। धन प्राप्ति के योग भी आपके लिये नजर आ रहे हैं। वस्त्रों का व्यवसाय करने वालों के लिये भी समय अच्छा रहने के आसार हैं।

मिथुन

मिथुन जातकों के लिये राहु और चंद्रमा का यह बहुत ही भाग्यशाली रह सकता है। धन प्राप्ति की संभावना है। खासकर फाइनेंस व बैंकिंग के क्षेत्र से जुड़े जातक पद या पैसे में वृद्धि की उम्मीद कर सकते हैं। शेयर बाजार में रूचि रखने वालों के लिये भी समय काफी लाभ कमाने वाला हो सकता है।

कर्क

कर्क जातकों के लिये राहु चंद्रमा का यह संयोग नकारात्मक परिणाम लाने वाला हो सकता है। तन-मन-धन किसी भी लिहाज से इस चंद्र ग्रहण योग को आपके लिये सही नहीं कहा जा सकता। पारिवारिक झगड़े बढ़ सकते हैं। प्रेम संबंध भी खिंचे-खिंचे रह सकते हैं। हालांकि आपके लिये परेशानियों से भरा यह दौर कुछ ही समय के लिये रहेगा। थोड़े समय के पश्चात चीज़ें फिर से पटरी पर लौट आयेंगी आपके लिये सलाह है कि किसी भी परिस्थिति में संयंम न खोयें धीरज से काम लें।

सिंह

सिंह जातकों के लिये भी यह चंद्र ग्रहण योग नुक्सानदायक रहने के आसार हैं। इस समय आपका क्रोध सातवें आसमान पर होगा, आप बात-बात पर भड़क सकते हैं। यदि किसी सरकारी दावं-पेंच में उलझे हुए हैं तो बात और भी ज्यादा बिगड़ सकती है। किसी के साथ फालतु के वाद-विवाद, लड़ाई-झगड़े में भी आप फंस सकते हैं। आपके लिये सलाह है कि नशीले पदार्थों का सेवन बिल्कुल न करें। धैर्य से काम लें, वाणी पर नियंत्रण रखें, जो भी बोलें सोच-समझकर बोलें। यदि आप इन तमाम समस्याओं का सरल ज्योतिषीय समाधान जानने के इच्छुक हैं तो देश भर में प्रसिद्ध हमारे ज्योतिषाचार्यों से आप परामर्श ले सकते हैं।

कन्या

आपके लिये यह ग्रहण मिले जुले परिणाम लेकर आ सकता है। अचानक धन प्राप्ति के योग तो हैं लेकिन शेयर बाजार में निवेश करने के इच्छुक सचेत रहें। कहीं भी पैसा लगाने से पहले अपने निर्णय पर अच्छे से विचार-विमर्श कर लें। हो सके तो अनुभवी व्यक्तियों से सलाह लें। यदि कहीं रिश्ते की बातचीत चल रही है तो आपको खुशखबरी मिल सकती है। इस समय कहां पैसा लगाना ठीक रहेगा कहां नहीं इस बारे में आप अपनी कुंडली के अनुसार हमारे ज्योतिषाचार्यों से सलाह ले सकते हैं। देश भर के जाने-माने ज्योतिषाचार्यों से परामर्श करने के लिये यहां क्लिक करें।

तुला

यह ग्रहण तुला जातकों के लिये पराक्रम में वृद्धि करने वाला है। हालांकि इस समय आपको काम बनते हुए दिखाई देंगें लेकिन लाख प्रयासों के बाद भी उन्हें सिरे चढ़ाना आपके लिये बहुत ही मुश्किल होगा। यानि आपके कार्यों में बाधाएं पैदा हो सकती हैं। लेकिन यह रूकावटें थोड़े समय के लिये ही रहेंगी, ग्रहण का समय समाप्त होते ही चीज़ें अपने आप ठीक होती चली जायेंगी।

वृश्चिक

वृश्चिक जातकों के लिये ग्रहण नकारात्मक परिणाम देने वाला रहने की संभावना है। एक और जहां मन में असुरक्षा की भावना, भय आदि उत्पन्न होंगे वहीं स्वास्थ्य में भी गिरावट आ सकती है। यदि कोई प्रोपर्टी खरीदने के इच्छुक हैं तो उसमें भी परेशानियां आ सकती हैं।

धनु

राहु और चंद्रमा के इस संयोग से धनु जातकों पर जिम्मेदारियों का बोझ बढ़ने के आसार हैं। हालांकि यह एक तरह से अच्छा ही है क्योंकि इसमें आपकी तरक्की के संकेत हैं। इस समय आपके मान-सम्मान में भी वृद्धि होने के आसार हैं। आपके लिये समय अच्छा है लेकिन अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। साथ ही निर्णय लेने में भी आपके सामने असमंजस की स्थिति हो सकती हैं।

मकर

मकर जातकों के लिये भी इस चंद्र ग्रहण योग का कोई शुभ संकेत नहीं है। आपके लिये यह समय स्वास्थ्य के तौर पर चुनौतिपूर्ण हो सकता है। इस समय किसी से वाद-विवाद में उलझना आपके संबंधों पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है साथ ही दूसरों के मामले में टांग अड़ाना भी आपको भारी पड़ सकता है। कोई बहुत ही खास मित्र आपको धोखा दे सकता है। तमाम समस्याओं के समाधान के लिये आप एस्ट्रोयोगी पर देश भर के जाने माने ज्योतिषियों से सीधे बात कर सकते हैं।

कुंभ

कुंभ जातकों के लिये यह ग्रहण योग अच्छा रहने के आसार हैं। जीवन साथी के साथ संबंध मधुर रहने के आसार हैं। साथ ही जो जातक परिणय सूत्र में बंधने के लिये प्रयासरत हैं उनके प्रयास भी सिरे चढ़ने की उम्मीद कर सकते हैं।

मीन

मीन जातकों के लिये राहु और चंद्रमा का यह साथ नकारात्मक परिणाम देने वाला रह सकता है सचेत रहें। अपने स्वास्थ्य का विशेष रूप से ध्यान रखें। दांपत्य जीवन में भी खलल पैदा होने के आसार बन रहे हैं। धन की हानि भी हो सकती है। वाद-विवाद में न उलझें लड़ाई-झगड़े में चोट भी आपको लग सकती है। जितना हो सके सावधानी और संयंम से इस समय को व्यतीत करें। अधिक जानकारी के लिये आप हमारे विद्वान ज्योतिषाचार्यों से परामर्श ले सकते हैं। ज्योतिषियों से बात करने के लिये यहां क्लिक करें। 




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

राहू राशि परिवर्तन – क्या लायेगा आपके जीवन में बदलाव

राहू राशि परिवर्तन...

18 अगस्त गुरुवार 2017 को प्रात:काल 5 बजकर 53 मिनट मिथुन के चंद्रमा के साथ कर्क राशि में प्रविष्ट होंगे जिसका प्रत्येक राशि पर अलग-अलग प्रभाव ...

और पढ़ें...
राहु और केतु ग्रहों को शांत करने के सरल उपाय

राहु और केतु ग्रहो...

राहु-केतु ग्रहों को छाया ग्रह के नाम से जाना जाता है। ज्योतिष की दुनिया में इन दोनों ही ग्रहों को पापी ग्रह भी बोला जाता है। इन दोनों ग्रहों ...

और पढ़ें...
अजा एकादशी 2017 - जानें एकादशी व्रत की पूजा विधि व मुहूर्त

अजा एकादशी 2017 - ...

हिंदु कैलेंडर के हिसाब से प्रत्येक चंद्रमास में दो पक्ष होते हैं एक कृष्ण पक्ष और एक शुक्ल पक्ष। दोनों पक्षों में पंद्रह तिथियां होती हैं। कृ...

और पढ़ें...
सूर्य ग्रहण 2017

सूर्य ग्रहण 2017

ग्रहण इस शब्द में ही नकारात्मकता झलकती है। एक प्रकार के संकट का आभास होता है, लगता है जैसे कुछ अनिष्ट होगा। ग्रहण एक खगोलीय घटना मात्र नहीं ह...

और पढ़ें...
सूर्य ग्रहण 2017 जानें राशिनुसार क्या पड़ेगा प्रभाव

सूर्य ग्रहण 2017 ज...

21-22 अगस्त को वर्ष 2017 का दूसरा सूर्यग्रहण लगेगा। सूर्य और चंद्र ग्रहण दोनों ही शुभ कार्यों के लिये अशुभ माने जाते हैं। पहला सूर्यग्रहण हाल...

और पढ़ें...