Skip Navigation Links
आईपीएल 2017 - जानें कौन होगा पहले मैच का विजेता किसके ग्रह हैं मजबूत?


आईपीएल 2017 - जानें कौन होगा पहले मैच का विजेता किसके ग्रह हैं मजबूत?

इंडियन प्रीमियर लीग यानि आईपीएल के दसवें सीज़न की शुरुआत 5 अप्रैल से होगी। आईपीएल 10 का पहला मुकाबला गत वर्ष की विजेता टीम रॉयल चैलेंजर्स बंगलुरु व सनराइजर्स हैदराबाद के बीच होगा। आरसीबी में कप्तान विराट कोहली सहित एक और मुख्य खिलाड़ी एबी डिविलियर्स के खेलने पर संदेह बरकरार है लेकिन टीम क्रिस गेल जैसे खिलाड़ियों के साथ पूरे दम-खम से उतरकर पुरानी हार का हिसाब चुकता कर जीत से नये सीज़न की शुरुआत करना चाहेगी। वहीं गत वर्ष की विजेता रही हैदराबाद की टीम भी अपने विजय रथ को आगे बढ़ाने के लिये जी जान से ही खेलेगी। लेकिन हार-जीत से लेकर टीम के प्रदर्शन पर किस्मत उनके साथ होगी या नहीं यह टीम के कप्तानों की कुंडली में मैच खेले जाने वाले दिन ग्रहों की दशा दिशा से जाना जा सकता है। एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों ने आरसीबी के कप्तान विराट कोहली व सनराइजर्स हैदाराबाद के कप्तान डेविड वार्नर की कुंडली व 5 अप्रैल को रात्रि 8 बजे के लग्न व मुहूर्त के अनुसार पूर्वानुमान लगाया है कि आईपीएल दस के पहले मैच का विजेता कौन हो सकता है? तो आइये जानते हैं क्या कहते हैं एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्य।

5 अप्रैल रात्रि 8 बजे क्या है ग्रहों की स्थिति

5 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद व आरसीबी के बीच आईपीएल 10 का पहला मैच रात्रि के 8 बजे आरंभ होगा। हैदराबाद में यह मैच होना है। इस समय यहां तुला लग्न रहेगा व चंद्रमा स्वराशि का यानि कर्क राशि में होगा।

आरसीबी कप्तान विराट कोहली –

नाम – विराट कोहली

जन्मतिथि – 5 नवंबर 1988

जन्म समय – 10:28

जन्म स्थान – दिल्ली, भारत।

उपरोक्त विवरण के अनुसार विराट कोहली की राशि कन्या है इनकी राशि से 5 अप्रैल को चंद्रमा ग्यारहवां है जो कि लाभ भाव को दर्शाता है।

सनराइजर्स हैदराबाद कप्तान डेविड वार्नर –

नाम - डेविड वार्नर

जन्मतिथि – 27 अक्तूबर 1986

जन्म समय – नहीं है।

जन्म स्थान - पैडिंगटन

उपरोक्त विवरण के अनुसार डेविड वार्नर की राशि कर्क है इनकी राशि के स्वामी स्वयं चंद्रमा है जो कि स्वराशि के हैं।

इन राशियों के अनुसार दोनों टीमों में कड़ी प्रतिस्पर्धा देखने को मिल सकती है। लेकिन चंद्रमा की स्थिति देखी जाये तो कोहली की राशि में उसकी स्थिति मजबूत है। जिससे आरसीबी की जीत की संभावनाएं प्रबल हैं।

अंक ज्योतिष के अनुसार कौन है दावेदार आरसीबी या सनराइजर्स हैदराबाद

अंक ज्योतिष के अनुसार भी विराट कोहली की टीम आरसीबी की स्थिति मजबूत है क्योंकि विराट कोहली की जन्मतिथि के अनुसार उनका मूलांक 5 है और 5 अप्रैल को ही उनका यह मैच है जो अंक ज्योतिष के हिसाब से उनके लिये शुभ है। 5 अंक के स्वामी बुध हैं और संयोग से यह दिन भी बुधवार का है। वहीं डेविड वार्नर की जन्म तिथि के अनुसार उनका मूलांक 9 है जिसके स्वामी युद्ध व ऊर्जा के प्रतिनिधि मंगल हैं। इसलिये अंक ज्योतिष के अनुसार सनराइजर्स हैदराबाद की टीम भी आरसीबी को कड़ी टक्कर दे सकती है।

क्रिकेट को अक्सर अनिश्चितताओं का खेल कहा जाता है और यही बात किस्मत के बारे में भी कही जाती है कि वह किसी भी वक्त अपना पासा पलट सकती है। लेकिन ज्योतिषीय आकलन के अनुसार फिलहाल विराट कोहली की टीम आरसीबी की संभावनाएं मजबूत हैं। सटीक परिणाम टीम के अन्य सदस्यों की किस्मत पर भी निर्भर करते हैं।

यदि आप अपनी कुंडली में ग्रहों के शुभाशुभ योगों के बारे में जानना चाहते हैं तो परामर्श करें एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों से। अभी परामर्श करने के लिये यहां क्लिक करें।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

माँ कालरात्रि - नवरात्र का सातवाँ  दिन माँ दुर्गा के कालरात्रि स्वरूप की पूजा विधि

माँ कालरात्रि - नव...

माँ दुर्गाजी की सातवीं शक्ति कालरात्रि के नाम से जानी जाती हैं। दुर्गापूजा के सातवें दिन माँ कालरात्रि की उपासना का विधान है।माँ कालरात्रि का स्वरूप देखने में अत्यंत...

और पढ़ें...
गुरु गोचर 2018-19 : मंगल की राशि में गुरु, इन राशियों के अच्छे दिन शुरु!

गुरु गोचर 2018-19 ...

गुरु का वृश्चिक राशि में गोचर 2018-19 - देव गुरु बृहस्पति 11 अक्तूबर को लगभग 7 बजकर 20 मिनट पर राशि परिवर्तन कर रहे हैं। गुरु का गोचर ज्योतिषशास्त्र में बहुत महत्वपू...

और पढ़ें...
नवरात्रों में कन्या पूजन देता है शुभ फल

नवरात्रों में कन्य...

हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार नवरात्र में कन्या पूजन का विशेष महत्व है। सनातन धर्म वैसे तो सभी बच्चों में ईश्वर का रूप बताता है किन्तु नवरात्रों में छोटी कन्याओं में ...

और पढ़ें...
माँ महागौरी - नवरात्र का आठवां दिन माँ दुर्गा के महागौरी स्वरूप की पूजा विधि

माँ महागौरी - नवरा...

माँ दुर्गाजी की आठवीं शक्ति का नाम महागौरी है। दुर्गापूजा के आठवें दिन महागौरी की उपासना का विधान है। इनकी शक्ति अमोघ और सद्यः फलदायिनी है। इनकी उपासना से भक्तों के ...

और पढ़ें...
ज्योतिष क्या है?

ज्योतिष क्या है?

ज्योतिषां सूर्यादिग्रहाणां बोधकं शास्त्रम् अर्थात सूर्यादि ग्रह और काल का बोध कराने वाले शास्त्र को ज्योतिष शास्त्र कहा जाता है| इसमें मुख्य रूप से ग्रह, नक्षत्र आदि...

और पढ़ें...