Skip Navigation Links
तुला राशि में बृहस्पति की बदली चाल – जानिए किन राशियों के करियर में आयेगा उछाल


तुला राशि में बृहस्पति की बदली चाल – जानिए किन राशियों के करियर में आयेगा उछाल

ज्ञान के कारक और देवताओं के गुरु माने जाने वाले बृहस्पति की ज्योतिषशास्त्र के अनुसार बहुत अधिक मान्यता है। गुरु बिगड़ी को बनाने, बनते हुए को बिगाड़ने में समर्थ माने जाते हैं। वर्तमान में गुरु तुला राशि में वक्री गोचर कर रहे हैं। 11 जुलाई प्रात: काल 3 बजकर 16 मिनट पर वक्री गुरु की चाल बदल जायेगी और तुला राशि में ही वे वक्री से से मार्गी हो जायेंगें। जिस तरह वक्री गुरु की उल्टी चाल ने आपको प्रभावित किया है उसी तरह उनका मार्गी होना भी भाव स्थान के अनुसार शुभाशुभ परिणाम लाने वाला रहेगा। गुरु का मार्गी होना अधिकतर राशियों के लिये शुभ संकेत हैं। इससे आपकी करियर, लव व हेल्थ लाइफ में आप बेहतर बदलाव देख सकते हैं। राशिनुसार गुरु आपके लिये क्या परिणाम लेकर आ सकते हैं आइये जानते हैं।


मेष

मेष राशि वालों के लिये सप्तम भाव में गुरु मार्गी हो रहे हैं। पिछले कुछ समय से यदि आप अपने दांपत्य जीवन में किसी तरह की परेशानी से झूझ रहे हैं तो इस समय आपको इन समस्याओं से राहत मिल सकती है। लाभ में भी जो कमी आपको महसूस हो रही थी वह भी दूर होने के आसार हैं। स्वास्थ्य के स्तर पर भी आप अपने जीवन में बेहतर बदलाव देख सकते हैं। नये घर या नई गाड़ी या फिर किसी नये कार्य के आरंभ होने के योग भी देव गुरु बृहस्पति आपके लिये बना रहे हैं।


वृषभ

वृषभ राशि वालों के लिये छठे घर में बृहस्पति का मार्गी होना लंबे समय से अटके पड़े कार्यों में तेजी लाने वाला रह सकता है। स्वास्थ्य यदि आपका साथ नहीं दे रहा था या फिर किसी शत्रु ने आपको परेशान कर रखा था तो इस समय आपको दोनों से छुटकारा मिल सकता है। किसी के साथ विवाद चल रहा है तो वह भी आपसी समझ से समाप्त किया जा सकता है। कार्योन्नति के संकेत आपके लिये नज़र आ रहे हैं। यदि लंबे समय से धन में बचत करने के प्रयास में सफलता नहीं मिल रही तो इस समय संचित धन में वृद्धि होने के प्रबल आसार नज़र आ रहे हैं। छोटी दूरी की यात्राएं भी आपको करनी पड़ सकती हैं।


मिथुन

आपकी राशि से बृहस्पति पंचम घर में मार्गी हो रहे हैं। कार्यक्षेत्र के लिये समय अच्छा रह सकता है। लंबित कार्य बनने की संभावनाएं बन रही हैं। कार्यस्थल पर माहौल आपके अनुकूल रहेगा, सहकर्मियों का परस्पर सहयोग बने रहने के आसार हैं। कुल मिलाकर गुरु आपके लिये करियर के मामले में उन्नति के संकेत कर रहे हैं।


कर्क

कर्क राशि वालों के लिये चौथे भाव में गुरु ग्रह का प्रोग्रेसिव होना कामकाजी जीवन में आ रही बाधाओं को दूर करने वाला रह सकता है। इस समय कुछ जातक राजनीति के क्षेत्र में हाथ आजमाने का विचार बना सकते हैं। कर्क जातकों का रूख राजनीति की ओर झुका रह सकता है। इस समय आपके लिये यात्राओं के योग भी बन रहे हैं जिनके सफल व लाभकारी रहने की उम्मीद लगाई जा सकती है। जो जातक धन निवेश करने के लिये उचित समय के इंतजार में थे उनके लिये यह समय सही नज़र आ रहा है।


सिंह

आपकी राशि से तीसरे यानि पराक्रम भाव में बृहस्पति मार्गी हो रहे हैं। कामकाज में मन उत्साहित रहने के आसार हैं। भाग्य का भी आपको भरपूर साथ मिल सकता है। दांपत्य जीवन का आनंद भी आपको मिल सकता है। हाल ही में यदि आपके पार्टनर के साथ किसी तरह का विवाद हुआ है तो इस समय उन्हें मनाना आपके लिये आसान हो सकता है। व्यवसायी जातकों के लिये भी गुरु की चाल में आया यह बदलाव लाभकारी कहा जा सकता है।


कन्या

कन्या राशि वालों के लिये दूसरे स्थान यानि धन भाव में गुरु की चाल बदल रही है। ऐसे में धन लाभ की संभावनाएं तो आपके लिये बन ही रही है साथ ही रूके हुए कार्य भी आगे बढ़ने के संकेत हैं। शत्रु व रोगों से भी आपको छुटकारा मिल सकता है. इस समय लाभकारी यात्राएं भी आप कर सकते हैं। जो कार्य लंबे समय से अटके पड़े हैं उनमें आपको सफलता मिल सकती है।


तुला

आपकी ही राशि में बृहस्पति लंबे समय से वक्री होकर गोचररत हैं जिनकी चाल में बदलाव हुआ है। आपकी ही राशि में बृहस्पति के मार्गी होने से कामकाज में आ रही रूकावटें दूर हो सकती हैं जिससे आपके कार्यों में अचानक तेजी आप देख सकते हैं। संतान, शिक्षा व संबंधों के मामले में भी समय आपके लिये लाभकारी योग बना रहा है। रोमांटिक लाइफ में भी लाइफ पार्टनर से रिश्ते मधुर रहने के आसार हैं। कार्यक्षेत्र में स्थान परिवर्तन आपको करना पड़ सकता है ऐसे योग भी आपके लिये बन रहे हैं।


वृश्चिक

बृहस्पति आपकी राशि से 12वें घर में मार्गी हो रहे हैं। निवेश करने के मामले में यह समय लाभकारी रहने के आसार हैं। इस समय आप सुख समृद्धि में वृद्धि की उम्मीद भी कर सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे जातकों के लिये भी समय अनुकूल रह सकता है व आप अपने प्रतिद्वंदियों को मात दे सकते हैं। बिजनेस व राजनीति से जुड़े जातक भी अपने विरोधियों पर हावि रह सकते हैं। सेहत के मामले में भी यह समय आपके लिये सुधार के संकेत कर रहा है।


धनु

धनु राशि के स्वामी स्वयं बृहस्पति हैं जो कि आपकी राशि से लाभ घर में मार्गी हुए हैं। हो सकता है राशि स्वामी के वक्र होने से आपको कामकाजी जीवन में अनेक तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ा हो लेकिन अब एक एक कर वह सारी समस्याएं आपको दूर होती नज़र आ सकती हैं। जो लोग आपके काम में अड़ंगा अड़ा रहे थे वही आपका सहयोग करते हुए भी नज़र आ सकते हैं। हालांकि इसके लिये आपमें कार्यकौशल के साथ-साथ व्यावहारिक कौशल भी होना चाहिए। संतान व संबंधों की बात करें तो कह सकते हैं कि आपकी पर्सनल लाइफ के लिये भी समय अनुकूल है। यदि साथी से किसी तरह की अनबन चल रही है तो वह दूर हो सकती है।


मकर

मकर राशि वालों के लिये बृहस्पति कर्मभाव में मार्गी हुए हैं। कामकाजी जीवन के लिये समय बहुत अच्छा रहने के आसार हैं। आपके कार्यों में तेजी रहने की उम्मीद कर सकते हैं। अभी तक यदि किसी तरह की परेशानियां कार्यक्षेत्र में झेलनी पड़ी हैं तो उनसे राहत मिल सकती है। धन संपदा व भौतिक सुख साधनों में भी वृद्धि हो सकती है कुल मिलाकर कहना यह है कि जो जातक लंबे समय से अपने लिये घर या गाड़ी संजोने का सपना देख रहे हैं और उसके लिये इधर उधर हाथ पैर मार रहे हैं उनके प्रयास रंग ला सकते हैं। रोमांटिक लाइफ में भी आप अपने रूठे हुए साथी को मनाने का हुनर जान सकते हैं।


कुंभ

कुंभ राशि वालों के लिये बृहस्पति का भाग्य स्थान में मार्गी होना बहुत ही सौभाग्यशाली कहा जा सकता है। भाग्य इस समय आपका पूरा साथ दे सकता है। आपके जीवन में यदि कोई परेशानी चल रही है तो उससे भी आपको राहत मिल सकती है। स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं से भी आप मुक्ति पा सकते हैं। पराक्रम के मामले में भी समय आपके लिये लाभकारी है यानि कार्यस्थल पर भी आपका प्रदर्शन सराहनीय रह सकता है। शिक्षा, संतान व प्रेम संबंधों में मधुरता के संयोग बन रहे हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं में भी आपको सफलता मिल सकती है।


मीन

मीन राशि के स्वामी स्वयं बृहस्पति हैं जो कि आपकी राशि से अष्टम भाव में मार्गी हो रहे हैं। यह समय आपके लिये स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों में कमी लाने वाला रह सकता है। धन निवेश के मामले में यह समय अनुकूल कहा जा सकता है। बचत में भी वृद्धि के संकेत मिल रहे हैं या फिर हो सकता है आप अपनी सुख सुविधाओं में बढ़ोतरी के लिये प्रयास करें।

प्रिय पाठको, यह राशिफल सामान्य ज्योतिषीय आकलन के आधार पर लिखा गया है। गुरु के साथ साथ अन्य ग्रह आपके लिये क्या संयोग बना रहे हैं? क्या यह सब संयोग आपकी लव, हेल्थ व करियर लाइफ के लिये लाभकारी हैं या फिर कोई अड़चन अभी भी बाकि है। गाइडेंस लें इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से।





एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

कार्तिक पूर्णिमा – बहुत खास है यह पूर्णिमा!

कार्तिक पूर्णिमा –...

हिंदू पंचांग मास में कार्तिक माह का विशेष महत्व होता है। कृष्ण पक्ष में जहां धनतेरस से लेकर दीपावली जैसे महापर्व आते हैं तो शुक्ल पक्ष में भी गोवर्धन पूजा, भैया दूज ...

और पढ़ें...
वृश्चिक सक्रांति - सूर्य, गुरु व बुध का साथ! कैसे रहेंगें हालात जानिए राशिफल?

वृश्चिक सक्रांति -...

16 नवंबर को ज्योतिष के नज़रिये से ग्रहों की चाल में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव हो रहे हैं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार ग्रहों की चाल मानव जीवन पर व्यापक प्रभाव डालती है। इस द...

और पढ़ें...
शुक्र मार्गी - शुक्र की बदल रही है चाल! क्या होगा हाल? जानिए राशिफल

शुक्र मार्गी - शुक...

शुक्र ग्रह वर्तमान में अपनी ही राशि तुला में चल रहे हैं। 1 सितंबर को शुक्र ने तुला राशि में प्रवेश किया था व 6 अक्तूबर को शुक्र की चाल उल्टी हो गई थी यानि शुक्र वक्र...

और पढ़ें...
देवोत्थान एकादशी 2018 - देवोत्थान एकादशी व्रत पूजा विधि व मुहूर्त

देवोत्थान एकादशी 2...

देवशयनी एकादशी के बाद भगवान श्री हरि यानि की विष्णु जी चार मास के लिये सो जाते हैं ऐसे में जिस दिन वे अपनी निद्रा से जागते हैं तो वह दिन अपने आप में ही भाग्यशाली हो ...

और पढ़ें...
तुलसी विवाह - कौन हैं आंगन की तुलसी, कैसे बनीं पौधा

तुलसी विवाह - कौन ...

तुलसी का पौधा बड़े काम की चीज है, चाय में तुलसी की दो पत्तियां चाय का स्वाद तो बढ़ा ही देती हैं साथ ही शरीर को ऊर्जावान और बिमारियों से दूर रखने में भी मदद करती है, ...

और पढ़ें...