हैप्पी बर्थडे काजोल

अपने अब तक के फ़िल्मी सफर में 6 फिल्मफेयर अवार्ड जीत चुकीं, अभिनेत्री काजोल आज किसी परिचय की मोहताज़ नहीं हैं। 90 के दशक की टॉप अभिनेत्रियों में शामिल, काजोल लाखों दिलों पर आज भी राज करती हैं। काजोल ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत महज़ 16 साल की उम्र में ही कर दी थी। हालांकि इनकी पहली फ़िल्म ‘बेखुदी’ बहुत अच्छी नहीं रही थी किन्तु फ़िल्म में काजोल की अदाकारी जरूर लोगों को पसंद आई थी। फ़िल्म ‘करण-अर्जुन’ और ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे’ यह दोनों ही फिल्में साल 1995 में आईं और दोनों ही अपने समय की हिट फिल्में रहीं हैं। कभी खुशी कभी गम के बाद लंबे समय तक उन्होंने ब्रेक लिया लेकिन फना से धमाकेदार वापसी की और छठा फिल्मफेयर अवार्ड अपने नाम किया। 

5 अगस्त को अभिनेत्री काजोल अपना 44 वां जन्मदिन मना रही हैं। काजोल के जन्मदिन के मौके पर, आइये एक नजर डालते हैं कि इनका आने वाला समय इनके लिए कैसा रहेगा-

नाम- काजोल देवगन मुखर्जी

जन्म तिथि- 5 अगस्त 1974

जन्म स्थान- मुंबई

जन्म समय- 20:20:00 


लग्न- कुंभ, चंद्र राशि- कुंभ, महादशा- बुध, अंतरदशा- शुक्र, प्रत्यांतर- शुक्र, नक्षत्र- शतमिषा नक्षत्र का तीसरा चरण। 

एस्ट्रोयोगी ज्योतिषों के अनुसार कुंभ लग्न में बुध योगकारी कारक माना जाता है। यह योग जीवन के सभी क्षेत्रों में अपने शुभ फल तो प्रदान करता ही है और साथ ही साथ जीवन में कई बुरे प्रभावों से भी रक्षा करता है। इस योग के कारण धन और मान-सम्मान में भी वृद्धि होती है।

कुंभ लग्न में ‘शनिदेव’ इस लग्न के स्वामी होते हैं जो कि वर्तमान में वक्री होकर धनु राशि में गोचर कर रहे हैं। सितंबर में शनि मार्गी हो रहे हैं जिसके बाद का समय काजोल के लिये काफी अच्छा माना जा सकता है। इस समय में इनके रूके हुए कार्यों में भी गति आएगी और नई ऊर्जा शक्ति इनको प्राप्त हो सकती है। 

कुंडली में गजकेसरी योग और लक्ष्मी नारायण योग, लाइफ टाइम आदमी सभी सुख-सुविधाओं से संपन्न रखता है। यह दोनों योग काजोल की कुंडली में बने हुए हैं।

आगामी समय की बात करें तो इनकी पारिवारिक और निजी ज़िन्दगी पूरी तरह सुखमय रहेगी और अगर बात करें इनके अपने करियर की तो इनके लिये आगामी समय चुनौतिपूर्ण रहने के आसार हैं। वर्ष कुंडली कुंभ लग्न की बन रही है जिससे 12वें घर में मंगल उच्च के तो हैं लेकिन वक्री होकर केतु के साथ विराजमान हैं। वहीं लाभ घर में लग्न व इनकी राशि के स्वामी शनि भी वक्री चल रहे हैं। हालांकि जल्द ही मंगल व शनि भी मार्गी हो जायेंगें जिसके बाद इनके लिये नये अवसर आ सकते हैं। काजोल की कुंडली में लाभकारी योग बन रहे हैं जिसके कारण भी कार्यक्षेत्र में वृद्धि और मान-सम्मान प्राप्ति के पूरे आसार नजर आ रहे हैं।

एस्ट्रोयोगी की ओर से काजोल को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। यह तो थी अभिनेत्री काजोल के लिये आने वाले समय की बात आपकी कुंडली के अनुसार आना वाला वक्त आपके लिये क्या संकेत कर रहा है। परामर्श करें इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से।


एस्ट्रो लेख

सावन अमावस्या 2...

अमावस्या तिथि बहुत मायने रखती है। हिंदू पंचांग के अनुसार कृष्ण पक्ष का यह अंतिम दिन होता है। अमावस्या की रात्रि को चंद्रमा घटते-घटते बिल्कुल लुप्त हो जाता है। सूर्य ग्रहण जैसी खगोल...

और पढ़ें ➜

सावन शिवरात्रि ...

 सावन शिवरात्रि बहुत महत्वपूर्ण होती है। माना जाता है कि भगवान भोलेनाथ अपने भक्तों की पुकार बहुत जल्द सुन लेते हैं। इसलिये उनके भक्त अन्य देवी-देवताओं की तुलना में अधिक भी मिलते है...

और पढ़ें ➜

सावन का दूसरा स...

सावन का पूरा महिना भगवान शिव की अराधना का महिना होता है। इस महिने में शिव पूजा, जलाभिषेक करने से अत्यंत लाभदायक फल इंसान को मिलते हैं। जिनका अपना अपना महत्व होता है। 2019 के सावन क...

और पढ़ें ➜

सावन 2019 में ब...

हिन्दू पंचांग में श्रावण मास सबसे पवित्र मासों में से एक है। यह माह प्रभु शिव को समर्पित है और इस पावन अवसर पर बड़ी तादात में शिव भक्त देश-विदेश के शिव मंदिरों में जाकर उनके शिवलिंग...

और पढ़ें ➜