Skip Navigation Links
अंक ज्योतिष से जानें गाड़ी का कौनसा रंग रहेगा शुभ


अंक ज्योतिष से जानें गाड़ी का कौनसा रंग रहेगा शुभ

अक्सर जब भी हमें वाहन खरीदना होता है तो हम प्रचलित रंगों को ही प्राथमिकता देते हैं। हो सकता है जो रंग आपने खरीदा हो वह दिखने में तो सुंदर लगे लेकिन आपको उसमें कोई सकारात्मक अहसास न हो या फिर जल्द ही आपका इससे मन उबने लगे। कोई न कोई परेशानी आपको आने लगे। इसका एक कारण वाहन का रंग आपकी राशि आपके, मूलांक या भाग्यांक के अनुसार न होना हो सकता है। कोई भी वाहन खरीदते समय जिस तरह आप उक्त वाहन की अन्य चीज़ों मसलन वाहन की विशेषताएं, वाहन की कीमत, उपयोगिता, ईंधन की खपत आदि का ध्यान देते हैं उसी तरह वाहन का रंग भी मायने रखता है। क्योंकि रंगों से ग्रहों के शुभाशुभ प्रभाव पड़ते हैं। यदि आपने किसी नकारात्मक ग्रह के रंग का वाहन ले लिया तो हो सकता है कुछ समय पश्चात आपको इसमें हानि होने लगे। अपने इस लेख में हम आपको बता रहे हैं कि अंक ज्योतिष मूलांक व भाग्यांक के अनुसार आपको किस रंग का वाहन खरीदने के लिये संकेत करता है।

मूलांक और भाग्यांक

सबसे पहले तो मूलांक और भाग्यांक को जान लें। इसका आकलन आपकी जन्मतिथि के अनुसार किया जाता है। माह की जिस तिथि 01, 02 , 11, 12 आदि को आपका जन्म होता है उस तिथि में प्रयुक्त अंकों का योग आपका मूलांक होता है। यानि 01, 10, 19 या 28 तारीख वालों का मूलांक 1 होगा। इसी प्रकार तिथि/माह/वर्ष के अंकों योग जैसे 01/01/1991 का मूलांक 0+1 = 1, तो भाग्यांक 0+1+0+1+1+9+9+1=22,  2+2=4  होगा।

किस मूलांक और भाग्यांक के लिये कौनसे रंग का वाहन है शुभ

यदि आपका मूलांक या भाग्यांक 1 है 1 अंक के स्वामी सूर्य हैं। आपको पीले, सुनहरे या क्रीम रंग का वाहन खरीदना चाहिये। नीले, भूरे, बैंगनी या काले रंग का वाहन न ही खरीदें तो बेहतर रहेगा।

मूलांक या भाग्यांक 2 वाले जातकों को लाल या गुलाबी रंग का वाहन खरीदने की बजाय सफेद अथवा हल्के हरे रंग का वाहन रखना चाहिये। 2 अंक के स्वामी चंद्रमा हैं।

जिन जातकों का मूलांक या भाग्यांक 3 है उनके वाहन का रंग पीला, बैंगनी, नीला या गुलाबी हो सकता है लेकिन हल्के हरे, सफेद या भूरे रंग का वाहन खरीदने से इन्हें बचना चाहिये। 3 अंक के स्वामी गुरू ग्रह बृहस्पति है।

मूलांक या भाग्यांक 4 वाले जातकों को अपने वाहन का रंग नीला या भूरा हो सकता है। गुलाबी या काले रंग का वाहन आपके लिये शुभ नहीं कहा जा सकता। 4 अंक राहू का अंक माना जाता है।

5 अंक वाले जातकों के लिये पीले, गुलाबी या काले रंग के वाहन आपके लिये अशुभ हो सकते हैं। आपको हल्के हरे, सफेद या भूरे रंग का वाहन रखना चाहिये। 5 अंक के स्वामी बुध माने जाते हैं।

जो जातक 6, 15 या 24 तारीख को जन्में हैं यानि जिनका मूलांक या भाग्यांक 6 बनता है आपके लिये हल्के नीले, गुलाबी या पीले रंग के वाहन शुभ रहेंगें। काले रंग का वाहन बिल्कुल भी न खरीदें। 6 अंक का प्रतिनिधित्व शुक्र करते हैं।

यदि आपका मूलांक या भाग्यांक 7 बनता है तो आपके लिये वाहन का रंग यदि नीला या सफेद है तो यह आपके लिये शुभ है। 7 अंक के स्वामी छाया ग्रह केतु माने जाते हैं।

मूलांक या भाग्यांक 8 वाले जातक काले, नीले, भूले व बैंगनी रंगों के वाहन खरीद सकते हैं। 8 अंक न्याय के देवता शनिदेव का अंक माना जाता है।

जिन जातकों का मूलांक या भाग्यांक 9 है वे जातक लाल या गुलाबी रंग का वाहन खरीदें, यह आपके लिये शुभ कहा जा सकता है। 9 अंक युद्ध के कारक मंगल का अंक माना जाता है।

आपकी कुंडली में घर व गाड़ी खरीदने के योग कब बनेंगें जानने के लिये एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों से परामर्श करें अभी बात करने के लिये यहां क्लिक करें।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

माँ कालरात्रि - नवरात्र का सातवाँ  दिन माँ दुर्गा के कालरात्रि स्वरूप की पूजा विधि

माँ कालरात्रि - नव...

माँ दुर्गाजी की सातवीं शक्ति कालरात्रि के नाम से जानी जाती हैं। दुर्गापूजा के सातवें दिन माँ कालरात्रि की उपासना का विधान है।माँ कालरात्रि का स्वरूप देखने में अत्यंत...

और पढ़ें...
गुरु गोचर 2018-19 : मंगल की राशि में गुरु, इन राशियों के अच्छे दिन शुरु!

गुरु गोचर 2018-19 ...

गुरु का वृश्चिक राशि में गोचर 2018-19 - देव गुरु बृहस्पति 11 अक्तूबर को लगभग 7 बजकर 20 मिनट पर राशि परिवर्तन कर रहे हैं। गुरु का गोचर ज्योतिषशास्त्र में बहुत महत्वपू...

और पढ़ें...
नवरात्रों में कन्या पूजन देता है शुभ फल

नवरात्रों में कन्य...

हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार नवरात्र में कन्या पूजन का विशेष महत्व है। सनातन धर्म वैसे तो सभी बच्चों में ईश्वर का रूप बताता है किन्तु नवरात्रों में छोटी कन्याओं में ...

और पढ़ें...
माँ महागौरी - नवरात्र का आठवां दिन माँ दुर्गा के महागौरी स्वरूप की पूजा विधि

माँ महागौरी - नवरा...

माँ दुर्गाजी की आठवीं शक्ति का नाम महागौरी है। दुर्गापूजा के आठवें दिन महागौरी की उपासना का विधान है। इनकी शक्ति अमोघ और सद्यः फलदायिनी है। इनकी उपासना से भक्तों के ...

और पढ़ें...
ज्योतिष क्या है?

ज्योतिष क्या है?

ज्योतिषां सूर्यादिग्रहाणां बोधकं शास्त्रम् अर्थात सूर्यादि ग्रह और काल का बोध कराने वाले शास्त्र को ज्योतिष शास्त्र कहा जाता है| इसमें मुख्य रूप से ग्रह, नक्षत्र आदि...

और पढ़ें...