Skip Navigation Links
मंगल छोड़ रहे हैं केतु का साथ! कैसे रहेंगें हालात? जानिए राशिफल


मंगल छोड़ रहे हैं केतु का साथ! कैसे रहेंगें हालात? जानिए राशिफल

मंगल का गोचर ज्योतिषशास्त्र में बहुत मायने रखता है। राशिचक्र की पहली और आठवीं राशि मेष व वृश्चिक के स्वामी मंगल को ऊर्जा का कारक माना जाता है। 2 मई से मंगल अपनी उच्च राशि में मकर में गोचररत हैं इस बीच वे वक्री भी हुए और मार्गी भी। मकर में मंगल उच्च के तो हैं लेकिन केतु के साथ युति संबंध अंगारक दोष भी बना रही है। ऐसे में मंगल का केतु का साथ छोड़ना लगभग सभी राशियों के लिये अच्छी खबर लाने के संकेत कर रहा है। मंगल का यह राशि परिवर्तन 6 नवंबर को मकर से कुंभ राशि में हो रहा है। सभी 12 राशियों पर मंगल के इस गोचर का क्या प्रभाव रहेगा आइये जानते हैं राशिफल।


मंगल का राशि परिवर्तन – मकर से कुंभ

मेष

आपकी राशि से मंगल कर्मभाव से लाभ घर में प्रवेश कर रहे हैं। फाइनेंशियल कंडीशन बेहतर होने के योग आपके लिये राशि स्वामी मंगल बना रहे हैं। संपत्ति में वृद्धि होगी, इस समय आप निर्णय भी विवेकपूर्ण लेंगें। प्रोफेशनल के साथ साथ पर्सनल लाइफ के लिये भी यह समय आपके लिये लाभकारी रहने के आसार हैं।


वृषभ

आपकी राशि से मंगल भाग्य स्थान से कर्मभाव में गोचर करेंगें। केतु का साथ छोड़कर आगे बढ़ने से आपके लिये मंगल का यह गोचर सौभाग्यशाली कहा जा सकता है। खासकर सरकारी नौकरी चाहने वालों के लिये समय अच्छा रहेगा। कार्यस्थल पर आपके काम की प्रशंसा की जा सकती है। कार्यस्थल पर आपका महत्व बढ़ेगा हालांकि इस दौरान आपको स्वास्थ्य संबंधी छोटी मोटी दिक्कतों से झूझना पड़ सकता है इसलिये अपनी सेहत का ध्यान रखें। पिता के साथ वैचारिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन माता का प्यार आपको खूब मिलेगा। अविवाहित जातकों के लिये मंगल मांगलिक कार्य के योग भी बना रहे हैं।


मिथुन

आपकी राशि से मंगल भाग्य स्थान में प्रवेश करेंगें इस समय आपको भाग्य का पूर्ण सहयोग मिलेगा। कार्यक्षेत्र में लाभ के नये योग भी बन रहे हैं। नई नौकरी के अवसर भी सुलभ हो सकते हैं। जमीन, मकान आदि में धन निवेश कर सकते हैं। मातृपक्ष से अनुकूल सहयोग रहेगा। जीवन में भौतिक सुख साधनों की प्राप्ति के योग भी मंगल आपके लिये बना रहे हैं।


कर्क

कर्क राशि वालों के लिये मंगल का परिवर्तन आठवें घर में हो रहा है। कार्यक्षेत्र में आप नई उपलब्धियों को प्राप्त कर सकते हैं। धन लाभ के योग भी आपके लिये बन रहे हैं। जो जातक किसी नये कार्य की  शुरुआत करना चाहते हैं उनके लिये यह बहुत ही उपयुक्त समय रहेगा। आपके आत्मबल में भी वृद्धि के संकेत मंगल कर रहे हैं।


सिंह

मंगल का यह परिवर्तन आपकी राशि से सातवें घर में हो रहा है। सप्तम भाव में मंगल आपके दांपत्य जीवन में टकराव रहने के संकेत कर रहे हैं। इसलिये सचेत रहें और कोई ऐसी बात अपने पार्टनर से न कहें जिससे उनकी भावनाएं आहत हों। स्वास्थ्य का ध्यान रखने की आवश्यकता भी आपको रहेगी विशेषकर उदर संबंधी परेशानियों से दो चार होना पड़ सकता है। हालांकि प्रोफेशनली व फांइनेंशियली आपके लिये समय काफी अच्छा रहने के संकेत हैं। धन लाभ के योग बन रहे हैं।


कन्या

कन्या राशि वालों के लिये मंगल का परिवर्तन छठे घर में हो रहा है जो कि आपके रोग व शत्रु का स्थान है। पिछले कुछ समय से यदि आप स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से झूझ रहे हैं तो आपको इससे राहत मिल सकती है। अपने प्रतिद्वंदियो पर भी आप हावि रहेंगे। भाग्य का आपको पूरा सहयोग इस समय मिल रहा है। जो जातक किसी नई परियोजना में धन निवेश करने के इच्छुक हैं उनके लिये यह समय अच्छे अवसर लेकर आ सकता है।


तुला

मंगल का राशि परिवर्तन आपकी राशि से पांचवें घर में हो रहा है। संतान, शिक्षा व संबंधों को लेकर यह समय आपके लिये शुभ परिणाम लेकर आ सकता है। जो जातक किसी प्रतियोगी परीक्षा के परिणाम की प्रतिक्षा कर रहे हैं या कोई साक्षात्कार या परीक्षा देने जा रहे हैं तो इस समय उन्हें सफलता मिलने के आसार हैं। संतान संबंधी शुभ समाचार भी आपको प्राप्त हो सकते हैं। आपकी सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होने की पूरी संभावनाएं हैं। अचानक से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं हो सकता है काफी समय से कहीं फंसा हुआ धन निकल आये। किसी मांगलिक कार्य में धन खर्च होने के योग भी बन रहे हैं।


वृश्चिक

आपकी राशि के स्वामी स्वयं मंगल हैं जो कि पराक्रम भाव से सुख भाव में जा रहे हैं। परिजनों के साथ वैचारिक मतभेद बढ़ सकते हैं। रोमांटिक लाइफ में पार्टनर के साथ संघर्ष रहेगा। इसका कारण आपके स्वभाव में अचानक से क्रोध की प्रवृति का हावि होना भी हो सकता है क्योंकि मंगल आपको थोड़ा गुस्सैल बना रहे हैं। इसलिये अपने जज्बातों पर थोड़ा नियंत्रण रखकर चलेंगें तो बेहतर रहेगा। प्रोफेशनल लाइफ काफी अच्छी रहने की उम्मीद कर सकते हैं। लाभ प्राप्ति के नये अवसर आपके लिये दिखाई दे रहे हैं।


धनु

धनु राशि वालों के लिये मंगल धन भाव से पराक्रम में गोचर कर रहे हैं। यह समय आपकी कार्यक्षमता में वृद्धि करने वाला है। आप अपनी प्रतिभा व अपनी कार्यक्षमता से अपने वरिष्ठ अधिकारियों को प्रभावित कर सकते हैं जिससे आपकी तरक्की के रास्ते खुलने की उम्मीद कर सकते हैं। अपने प्रतिद्वंदियों को मात देने का मादा इस समय आप रखते हैं। भाग्योन्नति के सपष्ट योग मंगल आपके लिये बना रहे हैं। हालांकि भाई बहनों के लिये यह समय कुछ पीड़ादायक हो सकता है।


मकर

मंगल का परिवर्तन आपकी ही राशि से हो रहा है। आपकी राशि से केतु का साथ छोड़कर मंगल धन भाव में जा रहे हैं जो निश्चित तौर पर आपके लिये फाइनेंशियली बेनिफिट मिलने के संकेत कर रहे हैं। जो विवाहित जातक नि:संतान हैं और बच्चे की प्लानिंग कर रहे हैं उनके लिये यह समय खुशखबरी लेकर आ सकता है। रोमांटिक लाइफ में भी पार्टनर से पॉजिटिव रिस्पोंस मिल सकता है। आपके लिये मंगल यात्रा के योग भी बना रहे हैं। भाग्य का भी आपको पूर्ण साथ मिल रहा है।


कुंभ

आपकी राशि से 12वें भाव से गोचर कर मंगल आपकी ही राशि में आ रहे हैं। आपकी राशि में मंगल का आना आपके लिये मांगलिक कार्यों के योग बना रहा है। स्वास्थ्य लाभ की उम्मीद भी मंगल के इस गोचर के दौरान आप कर सकते हैं। हालांकि मंगल आपके स्वभाव में थोड़ी आक्रामकता लेकर आ सकते हैं एस्ट्रोयोगी सलाह देते हैं कि अपनी एनर्जी का सदुपयोग करें। रचनात्मक कार्यों में अपनी ऊर्जा को लगाएं। भौतिक सुख सुविधाओं में वृद्धि के योग भी मंगल आपके लिये बना रहे हैं। घर या गाड़ी की खरीददारी के इच्छुक जातकों को मनपसंद ऑफर इस समय मिल सकता है। प्रोफेशनली भी यह समय अपनी एक अलग छाप छोड़ने का समय है।


मीन

मीन राशि वालों के लिये मंगल लाभ स्थान से 12वें घर में आ रहे हैं। नये कार्यों की शुरुआत करने वाले, नई परियोजनाओं में धन व्यय के इच्छुक जातकों के लिये बहुत ही लाभकारी समय रहने की उम्मीद है। संचित धन में वृद्धि के संकेत भी मंगल आपके लिये बना रहे हैं। स्वास्थ्य लाभ की उम्मीद भी इस समय कर सकते हैं। रोमांटिक लाइफ में भी पार्टनर के साथ रिश्ते मधुर रहने की उम्मीद कर सकते हैं। अपने विरोधियों को करारा जवाब देने में इस समय आप समर्थ रहेंगें।

यह राशिफल सामान्य ज्योतिषीय आकलन के आधार पर लिखा गया है। यदि आप अपने बारे में कुछ अलग महसूस कर रहे हैं तो एस्ट्रोयोगी पर इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से परामर्श लें। अभी बात करने के लिये यहां क्लिक करें।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

शुक्र मार्गी - शुक्र की बदल रही है चाल! क्या होगा हाल? जानिए राशिफल

शुक्र मार्गी - शुक...

शुक्र ग्रह वर्तमान में अपनी ही राशि तुला में चल रहे हैं। 1 सितंबर को शुक्र ने तुला राशि में प्रवेश किया था व 6 अक्तूबर को शुक्र की चाल उल्टी हो गई थी यानि शुक्र वक्र...

और पढ़ें...
वृश्चिक सक्रांति - सूर्य, गुरु व बुध का साथ! कैसे रहेंगें हालात जानिए राशिफल?

वृश्चिक सक्रांति -...

16 नवंबर को ज्योतिष के नज़रिये से ग्रहों की चाल में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव हो रहे हैं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार ग्रहों की चाल मानव जीवन पर व्यापक प्रभाव डालती है। इस द...

और पढ़ें...
कार्तिक पूर्णिमा – बहुत खास है यह पूर्णिमा!

कार्तिक पूर्णिमा –...

हिंदू पंचांग मास में कार्तिक माह का विशेष महत्व होता है। कृष्ण पक्ष में जहां धनतेरस से लेकर दीपावली जैसे महापर्व आते हैं तो शुक्ल पक्ष में भी गोवर्धन पूजा, भैया दूज ...

और पढ़ें...
गोपाष्टमी 2018 – गो पूजन का एक पवित्र दिन

गोपाष्टमी 2018 – ग...

गोपाष्टमी,  ब्रज  में भारतीय संस्कृति  का एक प्रमुख पर्व है।  गायों  की रक्षा करने के कारण भगवान श्री कृष्ण जी का अतिप्रिय नाम 'गोविन्द' पड़ा। कार्तिक शुक्ल ...

और पढ़ें...
देवोत्थान एकादशी 2018 - देवोत्थान एकादशी व्रत पूजा विधि व मुहूर्त

देवोत्थान एकादशी 2...

देवशयनी एकादशी के बाद भगवान श्री हरि यानि की विष्णु जी चार मास के लिये सो जाते हैं ऐसे में जिस दिन वे अपनी निद्रा से जागते हैं तो वह दिन अपने आप में ही भाग्यशाली हो ...

और पढ़ें...