Skip Navigation Links
बुध का मीन राशि में परिवर्तन -  जानें अपना राशिफल


बुध का मीन राशि में परिवर्तन - जानें अपना राशिफल

मीन राशि बुध की नीच राशि मानी जाती है जबकि कन्या में बुध उच्च के रहते हैं। 15 फरवरी से बुध कुंभ राशि में गोचररत हैं जो कि 3 मार्च से मीन में आ रहे हैं। उच्च राशि में बुध लगभग शुभ फलदायी होते हैं तो, नीच राशि में नेगेटिव इफेक्ट ज्यादा डालते हैं। परिवर्तन के पश्चात 6 मार्च तक तो बुध अस्त हैं लेकिन इसके पश्चात उनका प्रभाव आपकी राशि पर दिखने लगेगा। ऐसे में बुध का मीन राशि में परिवर्तन आपकी राशि के लिये कैसा रहेगा। आइये जानते हैं राशिफल।


मेष

मेष राशि वालों के लिये बुध नीच के होकर 12वें घर में परिवर्तन कर रहे हैं जो कि आपके व्यय का भाव है। 12वें घर के स्वामी बृहस्पति हैं जिनसे बुध शत्रुता रखते हैं। कुल मिलाकर बुध आपके लिये इस समय शुभ नहीं कहे जा सकते। यह आपके खर्चों में बढ़ोतरी करवा सकते हैं। आत्मबल में भी कमी ला सकते हैं। हो सकता है सामाजिक गतिविधियों में भी आपकी सक्रियता में कमी आये। स्वास्थ्य पर भी आपको ध्यान देने की आवश्यकता रहेगी। आपकी पर्सनल लाइफ ठीक-ठाक रहने के आसार हैं लेकिन पार्टनर के साथ हो सकता है रिश्तों में थोड़ी कड़वाहट पैदा हो। हालांकि 12वें नीच के बुध के साथ शुक्र उच्च के होकर गोचर कर रहे हैं। इसलिये हो सकता है आपको खट्टे अनुभवों के साथ कुछ मीठे अहसास भी हों।


वृष

आपकी राशि से बुध लाभ घर में नीच के हो रहे हैं। लेकिन इसी समय लाभ घर में राशि स्वामी उच्च के होकर गोचर कर रहे हैं। आपको बुध के इस परिवर्तन से लाभ ही मिलने के आसार हैं। आपके लिये फाइनेंशियली यह समय अच्छा कहा जा सकता है। रोमांटिक लाइफ में भी आपके रिश्ते सौहार्दपूर्ण रहने के आसार हैं। जो जातक विदेश में शिक्षा प्राप्त करने के लिये प्रयासरत हैं उन्हें सफलता मिल सकती है।


मिथुन

बुध आपकी राशि के स्वामी हैं जो कि कर्मभाव में नीच के हो रहे हैं। हालांकि इसी भाव में शुक्र उच्च के भी हैं। यह समय आपके लिये अच्छा कहा जा सकता है। खासतौर पर प्रोफेशनल लाइफ में आपको अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। पदोन्नति के साथ-साथ वेतन वृद्धि की उम्मीद भी आप इस दौरान कर सकते हैं। इस समय आप अपने प्रतिद्वंदियों को करारा जवाब देने में सक्षम रह सकते हैं। कार्यस्थल पर जो लोग आपकी छवि को नुक्सान पंहुचाने के प्रयास में हैं उन्हें भी मुंह की खानी पड़ सकती है। इस समय आप केवल अपने काम पर ध्यान दें बाकि अपने आप हो जायेगा।


कर्क

भाग्य स्थान में बुध नीच के हो रहे हैं। यह आपके लिये शुभ संकेत नहीं है। आपको अपनी लाइफ के लगभग हर फिल्ड में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। सामाजिक तौर पर भी आपकी सक्रियता में कमी आ सकती है। भाग्य का साथ हो सकता है आपको कम ही मिले। स्वास्थ्य का ध्यान रखें, लापरवाही समस्या को बढ़ा सकती है। पर्सनल रिलेशनशिप में भी डिस्टरबेंस महसूस कर सकते हैं। रोमांटिक लाइफ में किसी भी तरह के विवाद से बचने के लिये अपने पार्टनर के प्रति ईमानदार रहें। हमारी सलाह है कि किसी भी परिस्थिति में अपना विवेक न खोंये मेहनत करते रहें। भाग्य स्थान में ही शुक्र का उच्च के हैं जिससे हो सकता है बुध के नेगेटिव इफेक्ट कुछ कम रहें।


सिंह

सिंह राशि वालों के लिये अष्टम भाव में बुध नीच राशि में जा रहे हैं। इसी राशि में शुक्र उच्च के भी हैं।  बुध आपके लिये अनपेक्षित धन लाभ के योग बना रहे हैं। कार्यस्थल पर आप इस समय अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकते हैं। आपको अपनी अधिकांश परियोजनाओं में सफलता मिल सकती है। सामाजिक मंचों पर भी आप चर्चित व्यक्ति रह सकते हैं। आपको इस सुनहरे समय का भरपूर लाभ उठाना चाहिये।


कन्या

आपकी राशि के स्वामी स्वयं बुध हैं जो कि आपकी राशि से सप्तम भाव में नीच के हो रहे हैं। आपकी राशि पर बुध की सपष्ट दृष्टि भी पड़ रही है। यदि आपकी किसी परियोजना की फाइल सरकारी दफ्तर में कहीं अटकी है तो अधिकारियों से बातचीत में विनम्रता रखें। यदि कहीं कोई कानूनी पेंच अटका है तो हो सकता है परिणाम आपको अपेक्षानुसार न मिलें। बिजनेस करने वालों के लिये भी सौदा घाटे का रह सकता है। स्वास्थ्य के प्रति भी सचेत रहें। मानसिक तनाव से बचने के लिये ध्यान व योग क्रियाओं के लिये समय निकालें। हालांकि आपकी राशि को सप्तम भाव से उच्च के शुक्र भी देख रहे हैं। इसलिये कुछ अच्छा होने की उम्मीद भी बनाये रखें।


तुला

आपकी राशि के स्वामी शुक्र हाल ही में छठे भाव में उच्च के होकर गोचररत हुए हैं इसी भाव में बुध का नीच होकर गोचर करना आपके लिये थोड़ी बहुत परेशानी ला सकता है लेकिन आपको किसी भी तरीके से घबराने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि आप पर इसका अधिक प्रभाव नहीं पड़ेगा। आप अच्छे स्वास्थ्य का आनंद ले सकते हैं। फाइनेंशियल कंडीशन भी बेहतर रहने की उम्मीद कर सकते हैं। हालांकि इस दौरान प्रतिस्पर्धी कुछ चाल चल सकते हैं लेकिन आप पर इस का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। आपके लिये सलाह है कि ऐसे लोगों पर ध्यान दिये बगैर अपने काम से काम रखें व आगे बढ़ते रहें। रंगमंच, संगीत, साहित्य आदि रचनात्मक क्षेत्र से जुड़े जातकों के लिये बहुत ही सौभाग्यशाली समय रहने की संभावनाएं हैं।


वृश्चिक

वृश्चिक राशि वालों के लिये पंचम भाव में बुध नीच होकर गोचर करेंगें। हो सकता है पर्सनल लाइफ में यह आपके लिये अपेक्षित परिणाम न लेकर आये। मानसिक तौर पर भी आप इस समय स्वयं को तनावग्रस्त रह सकते हैं। आप असमंजस की स्थिति में रह सकते हैं जिससे हो सकता है आपको निर्णय लेने में भी परेशानी आये। हमारी सलाह है कि कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले किसी अनुभवी सहकर्मी, घर के बड़े बुजूर्ग या अपने किसी खास करीबी से अपनी दुविधा को साझा करें। फाइनेंशियल कंडीशन में भी उतार-चढ़ाव हो सकता है। हालांकि इसी भाव में शुक्र उच्च के भी चल रहे हैं। इसलिये ज्यादा टेंशन में आने की जरुरत नहीं है कुछ अच्छा भी जरुर होगा।


धनु

आपकी राशि से सुख भाव में बुध नीच राशि के होकर गोचर करेंगें। इसी भाव में शुक्र उच्च के होकर गोचर कर रहे हैं। बुध का यह परिवर्तन आपके लिये अनुकूल परिणाम लेकर आ सकता है। पर्सनल लाइफ में समृद्धि आने के आसार हैं। परिजनों व अपने दोस्तों के साथ भी अच्छा समय इस दौरान व्यतीत कर सकते हैं। यदि गत दिनों आपने कोई निवेश किया है तो इस समय उसका लाभ मिल सकता है। कुल मिलाकर यह समय आपके लिये काफी रोमांटिक रहने वाला है।


मकर

आपकी राशि से तीसरे स्थान में बुध नीच राशि के हो रहे हैं। इस दौरान सगे संबंधियों के साथ किसी भी विवाद में न पड़े अन्यथा आपके रिश्ते बिगड़ सकते हैं। यह समय अपने आपको शांत रखने का है। कुछ माइनर फाइनेंशियल लॉस हो सकते हैं हालांकि इनका आपकी बचत पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। कुछ ऐसे नये दोस्त आपकी लाइफ में आ सकते हैं जो फ्यूचर में आपके काम आयें। नौकरीशुदा जातक किसी भय से आशंकित रह सकते हैं।


कुंभ

आपकी राशि से ही बुध गोचर कर धन भाव में नीच के हो रहे हैं। इसी भाव में शुक्र भी उच्च होकर गोचर कर रहे हैं। आपके लिये धन लाभ के आसार हैं। ज्वेलरी से जुड़े कारोबारियों के लिये भी यह समय लाभकारी रह सकता है। विद्यार्थी इस समय अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकते हैं। अपनी कम्यूनिकेशन स्किल से आप और अधिक उपलब्धियां हासिल कर सकते हैं। व्यायाम के लिये नियमित रूप से समय निकालना आपके स्वास्थ्य के लिये लाभकारी रह सकता है।


मीन

बुध का परिवर्तन आपकी ही राशि में हो रहा है जहां व नीच के माने जात हैं। अचानक से आपके खर्चों में बढ़ोतरी हो सकती है। स्वास्थ्य के प्रति भी आपको सावधान रहने की आवश्यकता है। रोमांटिक लाइफ अच्छी रहने के आसार हैं। कुछ जातक विदेश जाने का मन भी बना सकते हैं। पर्सनल लाइफ में आपको थोड़ी टेंशन हो सकती है। हालांकि आपकी ही राशि में शुक्र का गोचर करना आपके लिये पोजिटिव भी है।

यह राशिफल सामान्य ज्योतिषीय आकलन के आधार पर है। कुंडली के अनुसार बुध आपके लिये बेनिफिशियल हैं या हार्मफुल जानने के लिये इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से गाइडेंस लें।


यह भी पढ़ें

ग्रह गोचर 2018   |   शुक्र का मीन राशि में परिवर्तन – जानें अपना राशिफल?   |   बुध कैसे बने चंद्रमा के पुत्र ? पढ़ें पौराणिक कथा




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

वृषभ राशि में बुध का परिवर्तन – जानिए किन राशियों के लिये लाभकारी है वृषभ राशि में बुधादित्य योग

वृषभ राशि में बुध ...

बुध ग्रह राशि चक्र में तीसरी और छठी राशि मिथुन व कन्या के स्वामी हैं। बुध वाणी के कारक माने जाते हैं। बुध का राशि परिवर्तन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार एक बड़ी घटना मान...

और पढ़ें...
अधिक मास - क्या होता है मलमास? अधिक मास में क्या करें क्या न करें?

अधिक मास - क्या हो...

अधिक शब्द जहां भी इस्तेमाल होगा निश्चित रूप से वह किसी तरह की अधिकता को व्यक्त करेगा। हाल ही में अधिक मास शब्द आप काफी सुन रहे होंगे। विशेषकर हिंदू कैलेंडर वर्ष को म...

और पढ़ें...
सकारात्मकता के लिये अपनाएं ये वास्तु उपाय

सकारात्मकता के लिय...

हर चीज़ को करने का एक सलीका होता है। शउर होता है। जब चीज़ें करीने सजा कर एकदम व्यवस्थित रखी हों तो कितनी अच्छी लगती हैं। उससे हमारे भीतर एक सकारात्मक उर्जा का संचार ...

और पढ़ें...
मलमास - जानिए मल मास के बारे में

मलमास - जानिए मल म...

16 मई 2018 से मलमास का आरंभ हो चुका है। ज्येष्ठ मास में पड़ने वाला यह मलमास 16 मई से आरंभ होकर 13 जून 2018 तक रहेगा। प्रत्येक वर्ष हर तीन साल में एक बार अतिरिक्त माह...

और पढ़ें...
वृषभ संक्रांति – वृषभ राशि में हुआ सूर्य का परिवर्तन जानें अपना राशिफल

वृषभ संक्रांति – व...

सूर्य का राशि परिवर्तन करना ज्योतिष के अनुसार एक अहम घटना माना जाता है। सूर्य के राशि परिवर्तन से जातकों के राशिफल पर तो असर पड़ता ही है साथ ही सूर्य के इस परिवर्तन ...

और पढ़ें...