आर्थिक पक्ष मजबूत करना है तो अपनाएं ये उपाय

दिन दुगनी रात चौगुनी बढ़ती महंगाई और आम जिंदगी की जरुरतों के कारण आपकी आर्थिक स्थिति बार-बार डांवाडोल हो रही है तो परेशान होने की बजाय इस समस्या का समाधान खुद निकालें। हर व्यक्ति चाहता है कि उसके घर में लक्ष्मी की कृपा बरसती रहे और घर में सुख-समृद्धि का वास हो। लेकिन कई बार प्रयास करने के बावजूद भी घर में लक्ष्मी नहीं रूकती हैं। शुक्रवार का दिन देवी लक्ष्मी का दिन माना जाता है। आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हें शुक्रवार के दिन अपनाने से आपकी आर्थिक स्थिति में अवश्य सुधार आएगा। लक्ष्मी माता आपसे प्रसन्न होकर घर में धन वर्षा करेंगी। ये बहुत ही अद्भुत व सरल उपाय हैं।

आर्थिक पक्ष मजबूत करने के कुछ उपाय

समस्या का समाधन यह है कि आप कुछ ऐसे उपाय करें जिससे एक ओर आपकी आय बढ़े तो वहीं दूसरी ओर आय के मुकाबले खर्च में कमी आए। यदि इन दोनों बातों में तालमेल बन जाए तो आपकी आर्थिक समस्या से जुड़ी चिंताएं दूर हो जाएगीं। इसके लिए पांच उपाय ऐसे हैं जिन्हें आप आसानी से आजमा सकते हैं।

झाड़ू से धन आगमन का बनाएं रास्ता

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार झाड़ू में देवी लक्ष्मी का वास होता है जो कंगाली और दरिद्रता को दूर करके घर में सुख-संपत्ति की वृद्धि करती हैं। यही कारण है कि झाड़ू को छुपाकर रखने की बात कही जाती है और कहा जाता है कि झाड़ू को न कभी पटकना और न ही पैर लगाना चाहिए। जो लोग धन संबंधी समस्याओं से परेशान रहते हैं उन्हें शुक्रवार के दिन झाड़ू मंदिर में दान करना चाहिए। इससे मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और आय में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं।

गाय को खिलाए रोटी

नियमित रूप से गाय को रोटी या हरी घास खिलाकर व्यक्ति अपने जीवन में बहुत से सकारात्मक बदलाव ला सकता है। ऐसा करने वाले व्यक्ति की कुंडली में बैठे क्रूर ग्रह शांत होते हैं और घर में लक्ष्मी की कृपा बरसती रहे और घर में सुख-समृद्धि का वास होता है। क्या आपकी कुंडली में है विस्फोटक दोष? जानने के लिए बात करें इंडिया के बेस्ट एसट्रोलॉजर से।

धनिये से करें धन में वृद्धि

धन वृद्धि हेतु एक अन्य उपाय आप यह भी कर सकते हैं कि शुक्ल पक्ष के किसी भी मंगलवार या गुरुवार के दिन एक मिट्टी के बर्तन में 21 रुपये के सिक्के डालकर उसके ऊपर मिट्टी भर इसमें धनिया बो दें। इसे नियमित  जल दें। यदि धनिया खूब हरा भरा उपजे तो समझ लीजिए कि आपकी आर्थिक स्थिति सुधारने वाली है। धनिये के पत्ते को आप जैसे चाहें वैसा उपयोग कर सकते हैं। इसके बाद सिक्कों को निकालकर लाल कपड़े में बांधकर घर के उस स्थान में रख दें, जहां आप पैसे या कीमती सामान रखते हैं।

गरुवार या शुक्रवार के दिन करें यह काम

शुक्रवार के दिन अशोक के पेड़ की जड़ लाकर उसे गंगा जल से शुद्ध करके लाल कपड़े में लपेट कर दाएं हाथ के बाजू में बांध लें। अगर आप चाहें तो इसे तिजोरी या धन रखने के स्थान पर भी रख सकते हैं। इसके अलावा एक अन्य उपाय आजमा सकते हैं, गुरुवार के दिन केले के वृक्ष की जड़ को पीले कपड़े में लपेटकर दाएं बाजू में बांध लें। यह भी धन बाधा दूर करने में आपकी सहायता करेगा। यह दोनों ही ग्रह धन और सुख के कारक हैं। लेकिन यह ध्यान रखें कि केवल एक ही वस्तु का प्रयोग करें। दोनों का प्रयोग करने पर परिणाम विपरीत मिल सकता है और लाभ के बजाय आपको हानि का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इन दोनों ग्रहों में शत्रुवत संबंध हैं।

शनिवार के दिन करें धन वृद्धि के यह उपाय

धन लाभ के लिए शनिवार के दिन एक सूखा नारियल लेकर उसके बीच में सुराख बना लें और उसके अंदर आटा, चीनी, तिल और गुड़ भर दें। इस नारियल को शाम के समय सुनसान स्थान पर ले जाकर जमीन में दबा दें। इस उपाय से ग्रह दोषों के कारण धन आगमन में आने वाली बाधाएं दूर होगीं। प्रयास करें कि हर शनिवार के दिन चिटियों को आटा दें और शनि महाराज को सरसो के तेल का दीप दान करें।

यह भी पढ़ें - 

घर में सुख-समृद्धि के लिए, करें वास्तु के ये उपाय जानिए राशि के अनुसार आपके लिए कौन सा रत्न है शुभ?

एस्ट्रो लेख

करवा चौथ व्रत -...

विशेषरूप में उत्तर भारत में प्रचलित ‘करवा चौथ’ अब केवल भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में रहने वाली भारतीय मूल की स्त्रियों द्वारा भी पूर्ण श्रद्धा से किया जाता है। इस व्रत में अपन...

और पढ़ें ➜

पवित्र नदी में...

हिंदू पंचांग के अनुसार साल के 8वें महीने को कार्तिक मास कहा जाता है। ये आश्विन के बाद और अगहन महीने से पहले आता है। हिंदू कैलेंडर में हर महीने का अपना ही एक अलग महत्व है। कहा जाता ...

और पढ़ें ➜

शरद पूर्णिमा 20...

पूर्णिमा तिथि हिंदू धर्म में एक खास स्थान रखती है। प्रत्येक मास की पूर्णिमा का अपना अलग महत्व होता है। लेकिन कुछ पूर्णिमा बहुत ही श्रेष्ठ मानी जाती हैं। अश्विन माह की पूर्णिमा उन्ह...

और पढ़ें ➜

बुलंदियों पर है...

बॉलीवुड के महानायक अभिनेता अमिताभ बच्चन किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। प्रसिद्ध लेखक और कवि हरिवंश राय बच्चन के पुत्र होने से लेकर 5 दशक तक अपने अभिनय से दर्शकों का मनोरंजन करने वा...

और पढ़ें ➜