जानिए राशि के अनुसार आपके लिए कौन सा रत्न है शुभ?

13 फरवरी 2019

मनुष्‍य को जीवन में ग्रहों के दुष्प्रभाव के कारण अनेक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। वैसे तो ग्रहों की शांति के लिए कई उपाय हैं, लेकिन इस समस्‍या का चमत्कारिक हल रत्‍न द्वारा भी किया जा सकता है। हर राशि का अलग स्‍वभाव होता है वैसे ही प्रत्‍येक रत्‍न का भी हर राशि पर भिन्‍न प्रभाव पड़ता है। इसलिए अगर राशि के अनुसार व्यक्ति सही रत्न धारण करता है तो इसका भरपूर लाभ उसे प्राप्त होगा। किंतु ध्यान रहे कि किसी भी रत्न को धारण करने से पहले पूरी जानकारी प्राप्त कर लें। ताकि व्यक्ति किसी गलत रत्न को ना धारण कर लें। अन्यथा इसका दुष्प्रभाव व्यक्ति के जीवन पर पड़ सकता है। लेख में हम बताएंगे कि किस राशि के जातक के लिए कौन सा रत्न शुभ और फलदायक है।

 

अगर आप जीवन में कठिनाइयों का सामना कर रहें हैं, तो हो सकता है आपके कुंडली में ग्रह दोष, उपाय जानने के लिए देश के जाने-माने ज्योतिषाचार्यों से करें परामर्श।

 

राशि के अनुसार रत्न

मेष राशि

इस राशि के जातकों का स्वभाव ज़िद्दी और अत्‍यंत क्रोधी होता है। जातक छोटी-छोटी बातों पर भी उत्‍तेजित हो जाते हैं। जिसके कारण इनके कई काम बनते -बनते बिगड़ जाते हैं। इसलिए इन्हें मूंगा अथवा गारनेट रत्‍न धारण करना चाहिए ताकि इनका मस्तिष्क शांत रहे और सफलता में कोई बाधा न उत्पन्न हो।

 

वृषभ राशि

इस राशि के जातक शांत, भावुक और धैर्यवान व्यक्तित्व के धनी होते हैं। इसलिए अकसर लोग इनके भावुक होने का फायदा उठाते हैं। ये लोग किसी पर भी जल्‍दी भरोसा कर लेते हैं और जिसके फलस्वरूप इन्हें धोखा मिलता है। इस वजह से इन्हें हीरा रत्न धारण करना चाहिए। ये हीरे की जगह ओपल भी पहन सकते हैं।

 

मिथुन राशि 

मिथुन राशि वाले आकर्षक और कला के प्रेमी होते हैं। ये बड़े मेहनती होते हैं लेकिन इन्हें मेहनत का फल बहुत देरी से मिलता है। यदि मिथुन राशि के जातक पन्ना धारण कर लें तो इन्हें सफलता का स्वाद चखने के लिए ख़ास इंतज़ार नहीं करना होगा।

 

कर्क राशि

इस राशि के जातक ज़िद्दी स्वभाव के साथ ही ये बुद्धिमान भी होते हैं। लेकिन इनका हठी स्वभाव कई बार इनकी सफलता की राह में अड़चन साबित होता है। इन्हें मोती धारण करना चाहिए। मोती इनके लिए बहुत लाभप्रद रत्न है। यह रत्‍न मन के विचारों को नियंत्रित कर उसे शांति प्रदान करता है।

 

सिंह राशि

सिंह राशि के जातक काफी उदार होते हैं। इनका जीवन उतार चढ़ाव से भरा होता है। इन्हें सफलता पाने के लिए बहुत ही संघर्ष करना पड़ता है। इनके लिए माणिक्‍य, रेड ओपल या गारनेट धारण करना काफी फायदेमंद साबित होगा। इन्‍हें अपने कार्यों में सफलता हासिल होगी।

 

कन्या राशि

इस राशि के जातक बड़े ही भावुक प्रवृत्ति के होते हैं। जो इनके लिए नुकसानदायक साबित होता है। हालांकि जीवन में आने वाली परेशानियों से निपटना इन्हें खूब आता है। इसलिए कन्या राशि वालों को पन्ना धारण करना चाहिए।

 

तुला राशि

वैसे तो इस राशि के जातक में बहुत सी खूबियां होती हैं। इन्‍हें कला से प्रेम होता है एवं पैसा कमाने के लिए ये सदैव उत्‍सुक रहते हैं। लेकिन दूसरों पर अपना वर्चस्‍व बनाने की इनकी आदत इन्हें नुकसान पहुंचाती है। इनके लिए ओपल, ब्‍लू डायमंड और टोपाज धारण करना फायदेमंद रहेगा।

 

वृश्चिक राशि

इस राशि के जातक बहुत ही शांत और धैर्यवान होते हैं। साथ ही बहुत मेहनती भी होते हैं। लेकिन छोटी सी छोटी चीज़ों के लिए भी इन्हें मत्था फोड़ना पड़ता है तब जाकर सफलता इनके हाथ लगती है। अगर ये मूंगा धारण कर लें तो इन्हें इनके प्रयासों में जल्दी ही सफलता मिलेगी।

 

धनु राशि

धनु राशि वाले दिखने में मजबूत और शक्तिशाली होते हैं। किसी भी कार्य को बहुत ही तेज़ी से करने में सक्षम होते हैं लेकिन ये अपना कार्य पूरे नहीं कर पाते बल्कि दूसरों के ऊपर उसे छोड़ देते हैं। इनकी ये आदत कई बार इनके लिए नुकसान का कारण बन जाती है। ऐसे में इन्हें पुखराज धारण करना चाहिए।

 

मकर राशि

इस राशि के जातक बहुत ही नरम दिल व भावुक होते हैं। ये परिश्रमी भी होते हैं लेकिन हमेशा किसी न किसी चिंता से घिरे रहते हैं। इसलिए अनिष्ट की आशंका को रोकने, अध्यन व व्यापार में सफलता पाने के लिए इन्हें नीलम धारण करना चाहिए। जिससे इनका भाग्य पक्ष मज़बूत होगा।

 

कुम्भ राशि

इस राशि वाले लोग बहुत ही होशियार और ज्ञानी होते हैं। लेकिन इन्हें स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों का अकसर सामना करना पड़ता है। यही वजह है कि ये चाहकर भी मेहनत नहीं कर पाते। ऐसे में इन्हें नीलम रत्न धारण करना चाहिए।

 

मीन राशि

मीन राशि वाले जीवन के प्रति काफी उत्‍साहित रहते हैं। जातकों को स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या आती रहती हैं। इनकी शारीरिक दुर्बलता इन्हें आगे बढ़ने से रोकती है। ऐसे में इनके लिए पुखराज शुभ रत्न माना गया है।

 

एस्ट्रो लेख

राहु गोचर 2020 - मिथुन से वृषभ राशि में गोचर

केतु गोचर 2020 - धनु से वृश्चिक राशि में गोचर

कन्या से तुला में बुध के परिवर्तन का क्या होगा आपकी राशि पर असर?

खर मास - क्या करें क्या न करें

Chat now for Support
Support