Skip Navigation Links
सलमान खान – वक्री शनि के कारण नहीं हुई भाईजान की ईद मुबारक


सलमान खान – वक्री शनि के कारण नहीं हुई भाईजान की ईद मुबारक

भाई जान के नाम से मशहूर सलमान खान का बॉलीवुड में सिक्का चलता है। सलमान खान के प्रशंसक बड़ी संख्या में हैं। कुछ प्रशंसक लड़कियां तो उनकी इतनी दिवानी हैं कि उनकी एक अदा पर मर मिटने को तैयार हैं। पिछले एक अर्से से सलमान एक से बढ़कर एक सुपर डूपर से भी ऊपर हिट फिल्में देते जा रहे हैं। अब उनकी फिल्में सिर्फ मनोरंजन प्रधान ही नहीं बल्कि फिल्म समीक्षकों की भी तारीफ बटोरने लगी हैं। बजरंगी भाई जान और सुल्तान जैसी फिल्में तो उनकी लीक से हटकर बनी फिल्में मानी जा सकती हैं। रोमांटिक, हास्य, एक्शन के लेकर अभिनय के उच्च स्तरीय मानकों पर सलमान खान दर्शकों के चहेते बन सके हैं। लेकिन अर्श से लेकर फर्श तक हर व्यक्ति जो मुकाम हासिल करता है उसके लिये उसके आस पास का परिवेश, पारिवारिक परवरिश, तालीम आदि तो कारक होते ही हैं लेकिन भारतीय ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इसके पिछे व्यक्ति के जन्म के समय पर ग्रहों की दशा दिशा पर भी काफी कुछ निर्भर करता है। तो अब आप शायद जानना चाहते हों कि सलमान खान को सलमान खान बनाने वाले कौनसे कारक हैं और यह भी कि यह साल सलमान खान के लिये कैसा रहेगा। तो आइये जानते हैं सलमान खान की जन्मकुंडली के आधार पर क्या कहती उनके ग्रहों दशा कैसा रहेगा उनके लिये साल 2017।

सलमान खान की कुंडली

नाम – सलमान खान

जन्मतिथि – 27 दिसंबर 1965

जन्म समय – 14:30 बजे

जन्म स्थान – इंदौर, मध्य प्रदेश, भारत

उपरोक्त विवरण के अनुसार सलमान खान की कुंडली मेष लग्न की बनती है जिसके अनुसार इनकी चंद्र राशि कुंभ है। वर्तमान समय में सलमान खान पर शनि की महादशा चल रही है और अंतर्दशा में राहू विराजमान हैं। वहीं 6 फरवरी से शनि प्रत्यंतर में मौजूद हैं।

2017 में सलमान के सितारे

ग्रहों की दशा व दिशा के अनुसार यह साल सलमान खान के लिये उम्मीद के अनुकूल रहने के आसार हैं। हालांकि वक्री शनि के कारण कुछ समय इनके लिये परेशानी वाला भी रहेगा। विशेषकर वर्ष के मध्य के आस-पास हो सकता है इन्हें अपेक्षित परिणाम न मिलें। राशि स्वामी का गोचर लाभ घर में होने से समय लाभकारी तो है लेकिन वक्री होकर गोचर करते हुए लाभ स्थान से कर्मक्षेत्र में चले जाने से इनके लाभ व कार्यक्षेत्र में अपेक्षित प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं। अंतर दशा में राहू भी मानसिक चिंताएं बढ़ने के संकेत दे रहे हैं।

ट्यूबलाइट का प्रदर्शन क्यों रहा निराशाजनक

ईद के मौके पर साल दर साल सलमान खान की फिल्में रिलीज़ होती हैं बेहतर प्रदर्शन करती हैं। जिससे सलमान खान को हर साल रिकॉर्ड तोड़ कमाई भी करते रहे हैं। लेकिन 2017 की ईद से उन्हें अपेक्षित ईदी नहीं मिली। इसका कारण उनकी फिल्म ट्यूबलाइट का अपेक्षाओं पर खरा न उतरना रहा है। लेकिन ज्योतिषीय दृष्टि से देखें तो सलमान की कुंडली के अनुसार राशि स्वामी का वक्री होना उनकी बड़ी परेशानी है।

कब बहुरेंगें सलमान खान के दिन

वर्तमान में शनि वक्री होकर धनु राशि से परिवर्तन कर वृश्चिक राशि में गोचररत हैं। शनि 25 अगस्त के बाद मार्गी हो रहे हैं। शनि के मार्गी होने के पश्चात ही सलमान खान की तात्कालिक परेशानियां कम होने के आसार हैं। तब तक इनके लिये सलाह है कि धैर्य के साथ इस समय को निकालें।

शत्रुओं से रहें सावधान

कला क्षेत्र से जुड़े होने के कारण जनता का अपार प्रेम तो इन्हें मिलेगा लेकिन साथ ही राजनीति के शिकार भी भाईजान हो सकते हैं। एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों की सलमान खान को बस यही सलाह है कि अपने राजनीतिक शत्रुओं से हमेशा सावधान रहें।

सलमान खान की शादी

सलमान खान के भविष्य के बारे में लिखा जा रहा हो और उनकी शादी पर टिप्पणी न की जाये तो बात अधूरी सी लगती है। तो नवांश में शनि के कारण कुछ योग जरूर बन रहे हैं कि सलमान खान 2017 में विवाह कर लें लेकिन ज्यादा संभावनाएं 2018 की ही हैं।

यदि आप भी अपनी कुंडली के बारे में जानना चाहते हैं तो परामर्श करें एस्ट्रोयोगी पर देश के जाने माने ज्योतिषाचार्यों से।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

माँ चंद्रघंटा - नवरात्र का तीसरा दिन माँ दुर्गा के चंद्रघंटा स्वरूप की पूजा विधि

माँ चंद्रघंटा - नव...

माँ दुर्गाजी की तीसरी शक्ति का नामचंद्रघंटाहै। नवरात्रि उपासनामें तीसरे दिन की पूजा का अत्यधिक महत्व है और इस दिन इन्हीं के विग्रह कापूजन-आरा...

और पढ़ें...
माँ कूष्माण्डा - नवरात्र का चौथा दिन माँ दुर्गा के कूष्माण्डा स्वरूप की पूजा विधि

माँ कूष्माण्डा - न...

नवरात्र-पूजन के चौथे दिन कूष्माण्डा देवी के स्वरूप की ही उपासना की जाती है। जब सृष्टि की रचना नहीं हुई थी उस समय अंधकार का साम्राज्य था, तब द...

और पढ़ें...
दुर्गा पूजा 2017 – जानिये क्या है दुर्गा पूजा का महत्व

दुर्गा पूजा 2017 –...

हिंदू धर्म में अनेक देवी-देवताओं की पूजा की जाती है। अलग अलग क्षेत्रों में अलग-अलग देवी देवताओं की पूजा की जाती है उत्सव मनाये जाते हैं। उत्त...

और पढ़ें...
जानें नवरात्र कलश स्थापना पूजा विधि व मुहूर्त

जानें नवरात्र कलश ...

 प्रत्येक वर्ष में दो बार नवरात्रे आते है। पहले नवरात्रे चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुरु होकर चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि ...

और पढ़ें...
नवरात्र में कैसे करें नवग्रहों की शांति?

नवरात्र में कैसे क...

आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से मां दुर्गा की आराधना का पर्व आरंभ हो जाता है। इस दिन कलश स्थापना कर नवरात्रि पूजा शुरु होती है। वैसे ...

और पढ़ें...