Skip Navigation Links
सलमान खान –  कैसा रहेगा भाई जान के लिये 2018?



सलमान खान – कैसा रहेगा भाई जान के लिये 2018?

भाई जान के नाम से मशहूर सलमान खान का बॉलीवुड में सिक्का चलता है। सलमान खान के प्रशंसक बड़ी संख्या में हैं। कुछ प्रशंसक लड़कियां तो इतनी दिवानी हैं कि उनकी एक अदा पर मर मिटने को तैयार हैं। पिछले एक अर्से से सलमान एक से बढ़कर एक सुपर डूपर से भी ऊपर हिट फिल्में देते जा रहे हैं। अब उनकी फिल्में सिर्फ मनोरंजन प्रधान ही नहीं बल्कि फिल्म समीक्षकों की भी तारीफ बटोरने लगी हैं। बजरंगी भाई जान और सुल्तान जैसी फिल्में तो उनकी लीक से हटकर बनी फिल्में मानी जा सकती हैं। रोमांटिक, हास्य, एक्शन के लेकर अभिनय के उच्च स्तरीय मानकों पर सलमान खान दर्शकों के चहेते बन सके हैं। परिवार, शिक्षा, समाज के साथ-साथ व्यक्तित्व पर ग्रहों का भी प्रभाव पड़ता है। 27 दिसंबर को सलमान खान 51 वर्ष के हो जायेगें आइये जानते हैं आगामी जन्मवर्ष में उनकी वर्षकुंडली किन ग्रहों से प्रभावित है और कैसा रहेगा भाईजान के लिये आना वाला समय।

नाम सलमान खान

जन्मतिथि 27 दिसंबर 1965

जन्म समय 14:30 बजे

जन्म स्थान इंदौर, मध्य प्रदेश, भारत

उपरोक्त विवरण के अनुसार सलमान खान की कुंडली मेष लग्न की बनती है जिसके अनुसार इनकी चंद्र राशि कुंभ है। वर्तमान समय में सलमान खान पर शनि की महादशा चल रही है और अंतर्दशा में राहू विराजमान हैं। वहीं प्रत्यंतर में केतु मौजूद हैं।


2018 में सलमान के सितारे

वैदिक ज्योतिष के अनुसार 27 दिसंबर 2017 से 27 दिसंबर 2018 तक का समय सलमान खान की जन्मतिथि के अनुसार इनकी वर्षकुंडली का बनता है। इस वर्ष के स्वामी इनके लिये बृहस्पति हैं जो ख्याति व प्रसिद्धि दिलाते हैं। हालांकि जब तक बृहस्पति का समय रहेगा तब तक लाभ प्राप्ति की गति भी थोड़ी धीमी रहने के आसार हैं। जैसा कि कहा जाता है सहज पके सो मीठा होय इसी तर्ज पर बृहस्पति के प्रभाव से लाभ धीमी गति से भले मिलता हो लेकिन जब मिलता है तो काफी अच्छा मिलता है। आगामी समय में राज्य अधिकारियों के साथ इनके वाद-विवाद की संभावनाएं बढ़ रही हैं। हो सकता है इस विवाद या अधिकारियों से अनबन या विरोध के कारण कार्यक्षेत्र में बाधाएं भी उत्पन्न हों।

2018 में आपके सितारे क्या कहते हैं पढ़ें अपना वार्षिक राशिफल 2018


वर्ष कुंडली में लग्न की मुंथा देगी लाभ

सलमान खान की कुंडली के अनुसार वर्ष कुंडली में मुंथा लग्न (सिंह) में विचरण करेगी जो कि सर्वश्रेष्ठ मानी गई है। धन, संपदा व शत्रु नाश सहित नाना प्रकार के लाभ मिलने व उन्नति के योग यह मुंथा बनाती है।

सभी स्थितियों का आकलन करने के पश्चात यह कहा जा सकता है वर्ष 2018 का समय धन, संपदा, प्रसिद्धि के लिहाज से तो काफी शुभ रहने के आसार हैं लेकिन स्वास्थ्य के मामले में इन्हे परेशानियों का सामना अवश्य करना पड़ सकता है।


कब होगी सलमान की शादी?

सलमान खान के भविष्य के बारे में लिखा जा रहा हो और उनकी शादी पर टिप्पणी न की जाये तो बात अधूरी सी लगती है। तो शनि के कारण कुछ योग जरूर बन रहे हैं कि सलमान खान 2018 में विवाह कर लें।

बॉलीवुड के इस चर्चित अभिनेता और अपने प्रशंसकों के प्रिय भाईजान सलमान खान दिन दोगुनी रात चौगुनी तरक्की करें और अपने प्रशंसकों का मनोरंजन करवाते रहें इसी कामना के साथ एस्ट्रोयोगी टीम की ओर से इन्हें जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। 

यदि आप भी अपनी कुंडली के बारे में जानना चाहते हैं तो परामर्श करें एस्ट्रोयोगी पर देश के जाने माने ज्योतिषाचार्यों से।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

बसंत पंचमी 2018 – वसंत पंचमी पर कब करें सरस्वती पूजा

बसंत पंचमी 2018 – ...

जब खेतों में सरसों फूली हो/ आम की डाली बौर से झूली हों/ जब पतंगें आसमां में लहराती हैं/ मौसम में मादकता छा जाती है/ तो रुत प्यार की आ जाती है...

और पढ़ें...
मंगल राशि परिवर्तन – क्या होगा असर आपकी राशि पर?

मंगल राशि परिवर्तन...

ज्योतिष में मंगल को वैसे तो पाप ग्रह माना जाता है। लेकिन शुभ कार्यों के लिये, जीवन में उन्नति के लिये मंगल का मंगलकारी होना भी जरुरी है। ऊर्ज...

और पढ़ें...
अमावस्या 2018 – कब-कब हैं अमावस्या तिथि

अमावस्या 2018 – कब...

अमावस्या या अमावस हिंदू कैलेंडर के अनुसार वह तिथि होती है जिसमें चंद्रमा लुप्त हो जाता है व रात को घना अंधेरा छाया रहता है। हिंदू मास को दो ह...

और पढ़ें...
पूर्णिमा 2018 – कब है पूर्णिमा व्रत तिथि

पूर्णिमा 2018 – कब...

पूर्णिमा हिंदू कैलेंडर अर्थात पंचांग की बहुत ही खास तिथि होती है। धार्मिक रूप से पूर्णिमा का बहुत अधिक महत्व माना जाता है। दरअसल पंचांग में त...

और पढ़ें...
एकादशी 2018 - कब कब हैं एकादशी तिथि

एकादशी 2018 - कब क...

हिंदू धर्म में एकादशी तिथि बहुत ही पुण्य फलदायी तिथि मानी जाती है। प्रत्येक मास में एकादशी तिथि दो बार आती है। इसके अनुसार प्रत्येक वर्ष में ...

और पढ़ें...