Skip Navigation Links
शनि परिवर्तन - वक्री होकर शनि कर रहे हैं राशि परिवर्तन जानें राशिफल


शनि परिवर्तन - वक्री होकर शनि कर रहे हैं राशि परिवर्तन जानें राशिफल

शनि की माया से तो सब वाकिफ हैं। ज्योतिषशास्त्र में शनि को एक दंडाधिकारी एक न्यायप्रिय ग्रह के रूप में जाना जाता है हालांकि इनकी टेढ़ी नज़र से सभी खौफ खाते हैं तो फिर वक्री चाल से सहमना तो स्वाभाविक है। ऐसे में शनि जब वक्री होकर राशि ही परिवर्तित कर लें तो हमारे जीवन में बहुत सारे उलटफेर होने की संभावनाएं बन जाती हैं। देश दुनिया के स्तर पर भी जब शनि वृश्चिक से धनु राशि में परिवर्तित हुए तो बहुत कुछ बदला था। अब वक्री होकर वे वापिस वृश्चिक में जा रहे हैं तो उठापटक होनी अब भी स्वाभाविक है। ज्योतिषाचार्यों का मानना है कि इस समय जिन लोगों पर शनि की महादशा, अंतर्दशा, शनि की ढ़ैय्या या साढ़ेसाती चल रही है तो उन पर शनि के इस परिवर्तन का अधिक प्रभाव पड़ेगा। जिन लोगों पर शनि का शुभ प्रभाव वर्तमान में पड़ रहा है उनके लिये यह और अधिक शुभ तो जिनके लिये समय अशुभ है तो उनका समय और भी खराब होने के आसार हैं। तो आइये जानते हैं वक्री शनि के परिवर्तन व राशिनुसार आप पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में।

कब हो रहा है शनि का परिवर्तन

27 जनवरी को शनि वृश्चिक राशि से परिवर्तित होकर धनु राशि में गोचररत हुए थे लेकिन 6 अप्रैल को शनि की चाल उलटी हो गई यानि शनि वक्री हो गये और वक्री होकर ही अब शनि वापस वृश्चिक राशि में जा रहे हैं शनि का यह परिवर्तन 21 जून को प्रात: 4 बजकर 41 मिनट पर हो रहा है। इसके पश्चात शनि की चाल 25 अगस्त तक वक्री ही रहेगी। 25 अगस्त की शाम को शनि वक्री से मार्गी होकर धनु राशि की ओर धीरे-धीरे बढ़ने लगेंगें और 26 अक्तूबर को वापस धनु राशि में आ जायेंगें। तब तक समय विभिन्न राशियों के लिये शुभाशुभ परिणाम लाने वाला रहने के आसार हैं। तो आइये अब जानते हैं राशिनुसार आप पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में।

मेष

मेष राशि के जातकों के लिये वक्री शनि का वृश्चिक राशि में शुभ परिणाम लाने वाला रहने के आसार हैं। खासकर तकनीकी क्षेत्र से जुड़े जातकों के लिये तो समय बहुत ही अच्छा है। इस समय आपकी आर्थिक स्थिति में कुछ सुधार होने की उम्मीद आप कर सकते हैं। हालांकि वक्री शनि का प्रभाव आपकी सेहत के लिये लाभदायक नहीं रहने के आसार हैं। रोमांटिक जीवन के आनंद में भी खलल पड़ सकता है। संबंधों की बेहतरी के लिये सहनशीलता ही आपका सबसे बड़ा औज़ार है। अपने जीवन साथी किसी तरह की बहसबाजी में न पड़ें अनबन की आशंकाएं हैं।

वृषभ

वृषभ राशि के जातकों को इस समय थोड़ा संभलकर रहने की आवश्यकता है। हालांकि वक्री शनि के परिवर्तन से नौकरीशुदा जातकों के लिये ऑफिस का माहौल खुशगवार रहने के आसार हैं लेकिन यह तभी संभव हो सकता है जब आप अपने सहकर्मियों, सहयोगियों या वरिष्ठ अधिकारियों से कोई बहसबाजी न करें। व्यवसायी जातकों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अपने कदम फूंक-फूंक कर आगे बढ़ाएं नुक्सान की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। आर्थिक स्थिति को नियंत्रित रखने के लिये जरूरी है कि आप अपने खर्चों पर लगाम लगा कर रखें। आपकी राशि से शनि का का यह गोचर सातवें स्थान पर है जिसका संकेत है कि अपने संबंधों की बेहतरी के लिये आपस में प्रेम बनाकर रखें। इस समय धैर्य से आपको जितना लाभ हो सकता है उतना किसी भी चीज़ से नहीं मिल सकता है इसलिये धैर्य जरूर रखें।

मिथुन

मिथुन राशि वालों के लिये यह परिवर्तन शुभ कहा जा सकता है। कोई बेहतरीन खुशखबरी भी आपको मिल सकती है। आपकी राशि से शनि का यह गोचर छठे स्थान में हो रहा है। जब तक शनि की यह स्थिति आपके लिये रहेगी। तब तक कार्यक्षेत्र में आपको नये अवसर प्राप्त होंगे लेकिन आपको सही सफलता का इंतजार रहेगा जो कि शनि के वापस धनु राशि में जाने के पश्चात सुनिश्चित हो सकती है। प्रतिस्पर्धा या कहें प्रतियोगिता के लिहाज़ से यह समय आपके लये सही है विशेषकर बात किसी बड़े पद की हो तो आप प्रयास कर सकते हैं। हालांकि इस समय अपनी सेहत के प्रति सचेत रहें। लापरवाही या नज़रंदाजी न करें अन्यथा हानि हो सकती है। माता-पिता सहित घर के बुजूर्गों का आदर सम्मान करें इस समय की गई मेहनत भविष्य में आपके लिये सुखद परिणाम लेकर आ सकती है।

कर्क

कर्क जातकों के लिये शनि का गोचर काफी अच्छा रहने के आसार हैं। यह समय आपके मान सम्मान में वृद्धि लाने वाला रहने के आसार हैं। इस समय आप अपने शत्रुओं, अपने प्रतिद्वंदियों पर बारी पड़ सकते हैं। जो जातक नौकरी की तलाश कर रहे हैं उन्हें अच्छी सफलता मिल सकती है, नौकरीशुदा जातकों को और बेहतर अवसर अथवा पदोन्नति का लाभ मिल सकता है। हालांकि व्यवसायी जातकों को सफलता के लिये थोड़ी अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। यदि आप किसी नई परियोजना में पैसा निवेश करने के इच्छुक हैं तो हमारी सलाह है कि इसके बारे में आपको अच्छे से विचार-विमर्श करने के पश्चात ही आगे कदम बढ़ाने चाहियें।

सिंह

सिंह राशि वालों के लिये वक्री शनि का परिवर्तन से मिले जुले परिणाम लेकर आ सकता है। कामकाज के मामले में चाहे आप नौकरी पर हों या किसी व्यवसाय में आपको कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ सकता है साथ ही लक्ष्यों की प्राप्ति के लिये कड़ी मेहनत करनी पड़ सकती है। आपके लिये सलाह है कि अपने वरिष्ठ अधिकारियों, सहयोगियों व सहकर्मियों से भी बेहतर संबंध बनाकर रखें। इस समय आप घर के लिये कोई खरीददारी भी कर सकते हैं। रोमांटिक जीवन पर वक्री शनि के परिवर्तन के असर की बात करें तो मामला तनावपूर्ण रहने के आसार हैं इसलिये बेहतर है कि धैर्य बनायें रखें यदि आप सहनशील बने रहे तो महसूस करेंगें कि कुछ समय के पश्चात ही आपके रिश्ते बेहतर हो रहे हैं।

कन्या

वक्री शनि का वृश्चिक राशि में गोचर करना कन्या जातकों के लिये पराक्रम में वृद्धि लाने वाला रहने के आसार हैं। कामकाज के मामले में आपके लिये अच्छे संकेत हैं लंबे समय से यदि किसी बेहतर अवसर की तलाश में हैं तो इस समय वो अवसर आपको मिल सकता है। नौकरी का बेहतर विकल्प आपको मिल सकता है। यदि कोई कार्य आपका लंबे समय से अधर में लटका हुआ है तो उसके भी सिरे चढ़ने के आसार नज़र आ रहे हैं। व्यवसाय में भी आपको लाभ मिलने के आसार हैं। हालांकि माता-पिता के स्वास्थ्य को लेकर आप थोड़ा चिंतित हो सकते हैं और रोमांटिक जीवन में भी आपको थोड़ी बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है लेकिन आपके प्रयास सकारात्मक माहौल बनाने में मदद कर सकते हैं। इस समय आप अपनी मेहनत का फल मिलने की उम्मीद कर सकते हैं।

तुला

तुला राशि के जातकों के लिये शनि परिवर्तन धन प्राप्ति के योग बना रहा है साथ ही कामकाज संबंधी कुछ सफल यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं। यह यात्राएं छोटी भी हो सकती हैं दूरवर्ती क्षेत्र की भी। इस समय शनि के प्रभाव से आपको धन कमाने के नये-नये अवसर प्राप्त हो सकते हैं जिनका लाभ आप उठा सकते हैं। पारिवारिक जीवन के लिये भी यह समय आपके लिये सुखद रहने के आसार हैं। यदि आप किसी बात को लेकर पिछले कुछ समय से तनावग्रस्त रहे हैं तो इस समय आपको तनाव से मुक्ति मिल सकती है।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिये यह समय अच्छा रहने के आसार हैं। हालांकि इसके लिये आपको थोड़ा धैर्य रखने की आवश्यकता होगी क्योंकि शुरुआत में हो सकता है परिणाम अपेक्षानुसार न मिलें लेकिन धीरे-धीरे आपको बेहतर परिणाम मिलने आरंभ हो सकते हैं। किसी भी कार्य में जल्दबाजी से बचने का प्रयास करें। यदि धन निवेश करने के इच्छुक हैं तो इस समय शेयर बाज़ार में पैसा लगाना आपके लिये फायदेमंद साबित हो सकता है। विद्यार्थी जातकों को भी इस समय सकारात्मक परिणाम देखने को मिल सकते हैं। आपकी आर्थिक स्थिति भी इस दौरान बेहतर रहने के आसार हैं। परिजनों का भी आपको भरपूर समर्थन प्राप्त हो सकता है। हालांकि दापंत्य जीवन सामान्य बने रहने के आसार हैं। लेकिन धीरे-धीरे आपकी परिस्थितियां आपके अनुकूल होंगी इसकी उम्मीद कर सकते हैं।

धनु

धनु राशि के जातकों के लिये वक्री शनि का परिवर्तन मिले जुले परिणाम लेकर आ सकता है। कार्यक्षेत्र की बात करें तो नौकरीशुदा जातकों को सम्मान मिल सकता है। व्यवसायी जातकों को भी लाभ मिलने के आसार हैं। आपका घरेलु जीवन भी सुखद रहने की संभावनाएं हैं। पारिवारिक खुशियां आपको प्राप्त हो सकती हैं। जो जातक अपने परिजनों विशेषकर भाई-बहनों से दूर हैं उन्हें अपने भाई-बहनों से मिलने का अवसर प्राप्त हो सकता है। इस दौरान आपके भाग्य में यात्राओं के योग भी बन रहे हैं। रोमांटिक जीवन की बात करें तो आपको अपने साथी का पूरा सहयोग मिलेगा। हालांकि इस दौरान आपके अंदर भय की भावना भी हो सकती है। साथ ही आर्थिक स्थिति को नियंत्रण में रखने का प्रयास करें क्योंकि आपकी राशि से शनि का परिवर्तन 12वें स्थान में हो रहा है जो कि आपके खर्च बढ़ने की ओर ईशारा कर रहा है।

मकर

मकर राशि के जातकों के लिये राशि स्वामी का वक्री होकर वृश्चिक में आना बहुत ही सौभाग्यशाली रहने के आसार हैं। इस दौरान आपको कामकाज के सिलसिले में हो सकता है गृहक्षेत्र से दूर जाना पड़े। व्यवसायी जातकों को अपने व्यसाय में लाभ मिलने के आसार हैं। यदि आप इस समय भविष्य से संबंधित कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने के इच्छुक हैं तो इसे बहुत ही सोच विचार करने के पश्चात ही लें, तभी जाकर आपको इसके दूरगामी लाभ मिल सकते हैं। यदि आप लापरवाही से कोई निर्णय लेते हैं तो उसके विपरीत प्रभाव भी आप पर पड़ सकते हैं। रोमांटिक जीवन की बात करें तो यदि साथी के साथ आपकी अनबन चल रही है तो इस समय आप एक दूसरे करीब आ सकते हैं। आपके संबंधों में सुधार होने के प्रबल आसार हैं। आपके लिये सलाह है कि इस समय अपनी सेहत के प्रति अवश्य सचेत रहें और इस अनुकूल समय का आनंद लें।

कुंभ

आपकी राशि से शनि वक्री होकर दशम स्थान में प्रवेश कर रहे हैं। शनि का यह परिवर्तन आपके लिये कर्मक्षेत्र में सफलता प्राप्ति के योग बना रहा है। इस समय आपको अपनी मेहनत पर विश्वास रखने की आवश्यकता है न कि भाग्य के भरोसे बैठे रहने में। यदि लंबे समय से स्वयं का कोई कार्य, व्यवसाय आरंभ करने के इच्छुक हैं तो इस समय आपके प्रयास सफल हो सकते हैं। यदि शेयर बाज़ार में धन निवेश करने के इच्छुक हैं तो अपनी इस इच्छा को फिलहाल के लिये टालना ही आपके लिये फायदेमंद रहेगा। जो जातक सरकारी नौकरी के लिये प्रयासरत हैं, उनकी मेहनत रंग ला सकती है। अविवाहित और प्रेम से वंचित जातकों के जीवन में प्यार का आगमन हो सकता है। पहले से ही किसी के प्रेमपाश में बंधे जातकों व विवाहित दंपतियों को अपने साथी की सेहत के प्रति चिंतित होना पड़ सकता है।

मीन

मीन राशि के जातकों के लिये शनि का परिवर्तन भाग्य स्थान में हो रहा है शनि जहां होता है वहां वृद्धि होती है इसलिये यह परिवर्तन आपके भाग्य में वृद्धि लाने वाला रहने के आसार हैं। इस समय आपके लिये व्यावसायिक रूप से लाभ प्राप्त होने के प्रबल योग बन रहे हैं। यदि पिछले कुछ समय से घर या गाड़ी लेने का विचार बना रहे हैं तो इस समय आप अपने विचार को फलीभूत बना सकते हैं। पारिवारिक माहौल शांतिपूर्ण व सुखदायक रहने के आसार हैं। इस समय आपके विचारों में भी सकारात्मकता रहने के आसार हैं। परिवार में कोई मांगलिक आयोजन होने की भी संभावनाएं प्रबल हैं। 

अपनी कुंडली के अनुसार शनि की शांति के लिये उपाय जानने के लिये एस्ट्रोयोगी पर देश के प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्यों से परामर्श करें। ज्योतिषी से अभी बात करने के लिये यहां क्लिक करें।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

सीता नवमी 2018 – जानें जानकी नवमी की व्रत कथा व पूजा विधि

सीता नवमी 2018 – ज...

चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की नवमी को भगवान राम का प्राकट्य हुआ तो माता सीता वैशाख शुक्ल नवमी को प्रकट हुई थी। यही कारण है कि हिंदू धर्मानुयायी विशेषकर वैष्णव संप्रदाय ...

और पढ़ें...
मोहिनी एकादशी 2018 – जानें मोहिनी एकादशी की व्रत कथा व पूजा विधि

मोहिनी एकादशी 2018...

वैशाख मास को भी पुराणों में कार्तिक माह की तरह ही पावन बताया जाता है इसी कारण इस माह में पड़ने वाली एकादशी भी बहुत ही पुण्य फलदायी मानी जाती है। वैशाख शुक्ल एकादशी क...

और पढ़ें...
शनि वक्री 2018 - शनि की वक्री चाल क्या होगा हाल? जानें राशिफल

शनि वक्री 2018 - श...

शनि वक्री 2018 - 18 अप्रैल 2018 को जैसे ही शनि की चाल बदलेगी उसके साथ हमें भी अपने आस-पास बहुत कुछ बदलता हुआ दिखाई देगा। यह चेंज हमें अपनी पर्सनल, प्रोफेशनल से लेकर ...

और पढ़ें...
शुक्र का वृषभ राशि में गोचर – क्या होगा असर आपकी राशि पर !

शुक्र का वृषभ राशि...

20 अप्रैल को शुक्र मेष राशि को छोड़कर स्वराशि वृषभ में प्रवेश कर रहे हैं। शुक्र को मीन राशि में उच्च तो कन्या में नीच का माना जाता है। उच्च राशि व स्वराशि के होने पर...

और पढ़ें...
जपमाला - जप माला में 108 दाने क्यों होते हैं? जानें रहस्य।

जपमाला - जप माला म...

हिन्दू धर्म में हम मंत्र जप के लिए जिस माला का उपयोग करते है, उस माला में दानों की संख्या 108 होती है। शास्त्रों में इस संख्या 108 का अत्यधिक महत्व होता है । माला मे...

और पढ़ें...