Skip Navigation Links
सोनाक्षी सिन्हा – जानिए क्या कहती है सोनाक्षी की कुंडली


सोनाक्षी सिन्हा – जानिए क्या कहती है सोनाक्षी की कुंडली

थप्पड़ से डर नहीं लगता साहब प्यार से लगता है। बॉलीवुड की दंबंग गर्ल सोनाक्षी सिन्हा 2 जून 2018 को 32 वर्ष की हो रही हैं। फिल्मों में अभिनय के साथ-साथ वह सिंगिग भी कर लेती हैं। वे एक अच्छी रैपर भी हैं। डांस भी उनकी हॉबी में शुमार हैं। मनीष मल्होत्रा के डिजाइन की प्रशसंक सोनाक्षी ने फैशन डिज़ाइनिंग में स्नातक की डिग्री भी हासिल की है। कुल मिलाकर सोनाक्षी बहूमुखी प्रतिभी की धनी हैं। सोनाक्षी के लिये आने वाला वर्ष कैसा रहेगा इसके लिये हमने सोनाक्षी चंद्र राशि के अनुसार वर्ष कुंडली का अध्ययन एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों से करवाया है। तो आइए जानते हैं वर्ष कुंडली के अनुसार सोनाक्षी सिन्हां के सितारे क्या कहते हैं।


सोनाक्षी सिन्हा की कुंडली - BIRTH CHART OF SONAKSHI SINHA

नाम – सोनाक्षी सिन्हां

जन्मतिथि – 2 जून 1987

जन्मस्थान – मुबंई

जन्मसमय – ज्ञात नहीं।

उपरोक्त विवरण के अनुसार सोनाक्षी सिन्हां की चंद्र राशि कर्क बनती है। सही समय के अभाव में एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों ने उनकी वर्ष कुंडली से ही उनके भविष्य का आकलन किया है। जो कि इस प्रकार है।

सोनाक्षी सिन्हां की जन्मतिथि 2 जून 1987 के अनुसार 2 जून 2018 को इनकी वर्ष कुंडली सिंह लग्न की बन रही है। इनकी वर्ष राशि धनु है जिसके स्वामी बृहस्पति हैं। लग्न स्वामी सूर्य वर्ष कुंडली के अनुसार कर्मभाव में बुधादित्य योग बना रहे हैं जो कि सोनाक्षी के लिये इनके करियर में सफलता के संकेत कर रहे हैं। हालांकि वर्ष राशि में शनि के वक्री होकर विचरण करने से प्रबल संभावनाएं हैं कि सोनाक्षी को सफलता पाने के लिये अत्यधिक प्रयास करने होंगे। हो सकता है ज्यादा मेहनत करने पर भी उन्हें अपेक्षानुसार परिणाम हासिल न हों। हालांकि इसकी संभावनाएं भी प्रबल हैं कि आगामी वर्ष में उन्हें कुछ नई तरह की भूमिकाओं को भी निभाना पड़े। वर्ष कुंडली के अनुसार भाग्येश मंगल उच्च होने के कारण इनके लिये भविष्य में एक नई पहचान, एक नया मुकाम हासिल करने के योग भी बना रहे हैं।

यदि वर्ष कुंडली के अनुसार दशाओं की बात करें तो इन पर प्रारंभिक वार्षिक दशा चंद्रमा की रहेगी जो कि इनके लिये वर्ष की शुरुआत धीमी रहने के संकेत कर रहे हैं। हालांकि दशा के आगे बढ़ने के साथ-साथ लाभ प्राप्ति की संभावनाएं भी बढ़ने लगेंगी।


सोनाक्षी सिन्हा की रोमांटिक लाइफ - SONAKSHI SINHA ROMANTIC LIFE

सोनाक्षी सिन्हां की रोमांटिक लाइफ की बात करें तो फिलहाल वह अविवाहित हैं। लेकिन ग्रहों का ईशारा है कि आने वाले समय में सोनाक्षी का नाम किसी के साथ जुड़ सकता है। लाइफ पार्टनर की तलाश की चर्चाएं जोर पकड़ सकती हैं। हालांकि इस समय सोनाक्षी अपने माता-पिता की सेहत को लेकर भी चिंतित रह सकती हैं।


सोनाक्षी का फिल्मी करियर - SONAKSHI SINHA CAREER

सोनाक्षी के फिल्मी करियर की बात करें तो अपने फिल्मी करियर की शुरुआत उन्होंने बतौर कोस्ट्यूम डिजाइनर की थी। अभिनय के क्षेत्र में उनकी दंबंग एंट्री हुई। सलमान के साथ उनकी केमिस्ट्री सुपर डूपर से भी ऊपर हिट साबित हुई। हालांकि बाद की फिल्मों में उन्हें इस तरह की बुलंदी का इंतजार ही रहा और अन्य कोई भी फिल्म लोकप्रियता के दंबंग वाले पायदान पर नहीं पंहुची। बल्कि एक्सन जैक्सन, लूटेरा, आर.राजकुमार जैसी फिल्में बूरी तरह से फ्लॉप रहीं। आर. राजकुमार का गाना साड़ी के फॉल सा काफी हिट साबित हुआ। अपने करियर में सोनाक्षी ने कुछ चुनौतिपूर्ण किरदार भी निभाए हैं। अकीरा में जहां वह फुल एक्शन में नज़र आई थी तो वहीं नूर फिल्म भी नायिका प्रधान थी। कुल मिलाकर सोनाक्षी का अभी तक का करियर मिलाजुला रहा है। उनके सुनहरे भविष्य की कामना करते हुए एस्ट्रोयोगी की ओर से सोनाक्षी सिन्हां को जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनाएं (Happy BirthDay To You Sonakhsi Sinha)। 

ये तो था सोनाक्षी का भविष्यफल? आपके भविष्य में क्या लिखा है? क्या कहते हैं आपकी कुंडली के सितारे? इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से गाइडेंस लें।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

शुक्र मार्गी - शुक्र की बदल रही है चाल! क्या होगा हाल? जानिए राशिफल

शुक्र मार्गी - शुक...

शुक्र ग्रह वर्तमान में अपनी ही राशि तुला में चल रहे हैं। 1 सितंबर को शुक्र ने तुला राशि में प्रवेश किया था व 6 अक्तूबर को शुक्र की चाल उल्टी हो गई थी यानि शुक्र वक्र...

और पढ़ें...
वृश्चिक सक्रांति - सूर्य, गुरु व बुध का साथ! कैसे रहेंगें हालात जानिए राशिफल?

वृश्चिक सक्रांति -...

16 नवंबर को ज्योतिष के नज़रिये से ग्रहों की चाल में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव हो रहे हैं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार ग्रहों की चाल मानव जीवन पर व्यापक प्रभाव डालती है। इस द...

और पढ़ें...
कार्तिक पूर्णिमा – बहुत खास है यह पूर्णिमा!

कार्तिक पूर्णिमा –...

हिंदू पंचांग मास में कार्तिक माह का विशेष महत्व होता है। कृष्ण पक्ष में जहां धनतेरस से लेकर दीपावली जैसे महापर्व आते हैं तो शुक्ल पक्ष में भी गोवर्धन पूजा, भैया दूज ...

और पढ़ें...
गोपाष्टमी 2018 – गो पूजन का एक पवित्र दिन

गोपाष्टमी 2018 – ग...

गोपाष्टमी,  ब्रज  में भारतीय संस्कृति  का एक प्रमुख पर्व है।  गायों  की रक्षा करने के कारण भगवान श्री कृष्ण जी का अतिप्रिय नाम 'गोविन्द' पड़ा। कार्तिक शुक्ल ...

और पढ़ें...
देवोत्थान एकादशी 2018 - देवोत्थान एकादशी व्रत पूजा विधि व मुहूर्त

देवोत्थान एकादशी 2...

देवशयनी एकादशी के बाद भगवान श्री हरि यानि की विष्णु जी चार मास के लिये सो जाते हैं ऐसे में जिस दिन वे अपनी निद्रा से जागते हैं तो वह दिन अपने आप में ही भाग्यशाली हो ...

और पढ़ें...