लक्ष्मी नारायण योग है सुंदर पिचाई की सफलता का राज

bell icon Thu, Aug 13, 2015
टीम एस्ट्रोयोगी टीम एस्ट्रोयोगी के द्वारा
लक्ष्मी नारायण योग है सुंदर पिचाई की सफलता का राज

भारत का विश्व में अपने युवाओं के दम पर डंका निरंतर बज रहा है।  कभी भारत को सांप और सपेरों का देश कहा जाता था किन्तु आज विश्व बोल रहा है कि भारत विश्व का गुरू बनने की कगार पर है।  आज ऐसे कई भारतीय युवा हैं जो विश्व की प्रसिद्ध कम्पनियों के प्रमुख बन चुके हैं।  इस बार भारत का नाम सुंदर पिचाई ने रोशन किया है।  गूगल ने कंपनी में बड़ा फेरबदल करते हुए भारतीय मूल के सुंदर पिचाई को कंपनी का नया सीईओ बनाया गया है।  इसके साथ ही  गूगल ने अपना स्वरूप बदल दिया है।  दुनिया को क्रोम, गूगल ड्राइव, एंड्रॉयड को गूगल से जोड़ने का श्रेय सुंदर पिचाई को दिया जाता है।


43 साल के सुंदर पिचाई का जन्म चेन्नई में सन 1972 में हुआ।  परिवार में इनको पिचाई सुंदराजन के नाम से   जाना  जाता है।  इन्होनें अपनी बैचलर डिग्री आईआईटी, खड़गपुर से ली है। आईआईटी में इन्होनें सिल्वर मेडल हासिल किया था। भारत से आईआईटी करने के बाद आगे की शिक्षा इन्होनें यूएस में पूरी की है।  साल 2004 में सुंदर पिचाई ने गूगल ज्वाइन किया था।   


आइये एक नजर डालते हैं सुंदर पिचाई कुंडली पर और जानते हैं कि इनका आने वाला समय इनके लिए कैसा रहेगा-

नाम- सुंदर पिचाई

जन्म तिथि- 12 जुलाई 1972

जन्म समय- ज्ञात नहीं

जन्म स्थान- तमिलनाडु (चेन्नई)


लग्न- तुला, चन्द्रराशि – कर्क, महादशा- शुक्र, अंतर दशा- केतु, प्रत्यांतर – केतु, नक्षत्र- पुष्य का चौथा चरण।


तुला लग्न वाले सुन्दर, सुशील, कर्मठ, एक काम को लेकर चलने वाले व कर्मशील होते हैं।  सुंदर पिचाई की कुंडली में दसमं स्थान जोकि कार्य का घर होता है, उस घर में ‘स्वग्रही’ चंद्रमा के साथ मंगल का एक अच्छा योग बन रहा है।  कार्य में सफलता, नाम, पैसा, फाइनेंस और प्रॉपर्टी के लिए इनके ग्रह अच्छे हैं।


कार्य के क्षेत्र में एक बहुत अच्छा, चन्द्र-मंगल का लक्ष्मी नारायण योग बन रहा है।  इसी योग के चलते सुंदर पिचाई को यह शुभ समाचार भी प्राप्त हुआ है।  इस लक्ष्मी नारायण योग के कारण आगे भी, कुछ समय तक मान-सम्मान इनको प्राप्त होता रहेगा।


लग्नेश की भी दृष्टी धन के घर पर पड़ने से ‘धनागमन’ का योग भी अच्छा बन रहा है।  इस लग्न में शुक्र की महादशा, इनके लिए सबकुछ देने वाली रहेगी।  


तुला लग्न वाले लोगों के कार्य का सम्बन्ध शनि ग्रह से होता है।  तुला लग्न में शनि का अच्छा साथ और सहयोग प्राप्त होता है।  तुला लग्न के जो जातक तकनीक से जुड़ा हुआ कार्य करते हैं, इस क्षेत्र में यह लग्न शुभ फल प्रदान करती है।  शनि इन जातकों का पूरा साथ देता है।


सुंदर पिचाई की कुंडली में ब्रहस्पति अपने घर में विराजमान होकर, भाग्य और लाभ के घर पर शुभ दृष्टि डाल रहा है।  आगामी समय में यह स्थिति इनको शुभफल प्रदान कर सकती है।


एस्ट्रोयोगी के अनुसार सुंदर पिचाई को कुंडली के मुताबिक बस एक ही दिक्कत है।  मंगल पर राहू व शनि की दृष्टि पड़ रही है।  इस स्थिति में विरोधी, इनके लिए जरूर कुछ परेशानी पैदा कर सकते हैं।  एस्ट्रोयोगी की इनको सलाह है कि कोई भी ऐसा कार्य ना किया जाये, जिसकी वजह से विरोधियों को हावी होने का मौका प्राप्त हो सके।


सुंदर पिचाई जी को इस शुभ अवसर पर एस्ट्रोयोगी बधाई देता है और उम्मीद करता है कि इनका आगामी समय इनके लिए अच्छा रहेगा।

   

chat Support Chat now for Support
chat Support Support