Shani Ki Sade Sati: साल 2025 में मेष में लगेगी शनि की साढे़साती, जानें किस राशि पर कब लगेगी ढैया?

Mon, Jun 03, 2024
टीम एस्ट्रोयोगी
 टीम एस्ट्रोयोगी के द्वारा
Mon, Jun 03, 2024
Team Astroyogi
 टीम एस्ट्रोयोगी के द्वारा
article view
480
Shani Ki Sade Sati: साल 2025 में मेष में लगेगी शनि की साढे़साती, जानें किस राशि पर कब लगेगी ढैया?

Shani Ki Sade Sati: शनि, जिसे वैदिक ज्योतिष में भगवान शनिदेव के प्रतीक के रूप में जाना जाता है। हर ढाई साल में शनि अपनी राशि बदलता है। जबकि शनि 2024 में अपनी राशि नहीं बदलेगा, वह साल 2025 में एक महत्वपूर्ण कदम उठाएगा। वर्तमान में शनि का प्रभाव कुंभ, मकर और मीन राशियों में साढ़े साती के रूप में जाना जाता है और कर्क और वृश्चिक में भी इसका प्रभाव उल्लेखनीय है। जब शनि अपनी राशि बदलेगा तो मकर राशि वालों को साढ़ेसाती से मुक्ति मिलेगी और वृश्चिक व कर्क राशि वालों को ढैय्या से मुक्ति मिलेगी।

शनि ज्योतिष में एक विशेष स्थान रखता है, जिसे अक्सर एक अशुभ और कठोर ग्रह माना जाता है। ज्योतिषियों का मानना ​​है कि शनि की स्थिति में परिवर्तन अत्यधिक महत्वपूर्ण हैं और व्यक्तियों के जीवन पर गहरा प्रभाव डाल सकते हैं।

free consultation

साढ़ेसाती और ढैय्या को समझना

शनि की साढ़े साती और ढैय्या कुछ राशियों पर शनि के तीव्र ज्योतिषीय प्रभाव की अवधि हैं। साढ़ेसाती लगभग साढ़े सात साल तक चलती है, जबकि ढैय्या लगभग ढाई साल तक चलती है। ऐसा माना जाता है कि प्रत्येक व्यक्ति अपने जीवनकाल में कम से कम एक बार इन चरणों का अनुभव करता है। आइए जानें कि प्रत्येक राशि के लिए साढ़े साती और ढैय्या कब शुरू होंगी और कब समाप्त होंगी।

एस्ट्रोयोगी ऐप पर एस्ट्रोलॉजर्स से कंसल्ट करना एकदम आसान है। अभी ऐप डाउनलोड करें और एक सरल और सहज अनुभव का आनंद लें।

मेष राशि

  • शनि की साढ़े साती: 29 मार्च 2025 से 31 मई 2032 तक।

  • शनि की ढैया: 13 जुलाई 2034 से 27 अगस्त 2036 और 12 दिसंबर 2043 से 8 दिसंबर 2046 तक। 

वृषभ राशि

  • शनि की साढ़े साती: 3 जून 2027 से 13 जुलाई 2034 तक।

  • शनि की ढैया: 27 अगस्त 2036 से 22 अक्टूबर 2038 तक।

मिथुन राशि

  • शनि की साढ़े साती: 8 अगस्त 2029 से 27 अगस्त 2036 तक।

  • शनि की ढैया: 24 जनवरी 2020 से 29 अप्रैल 2022 और 22 अक्टूबर 2038 से 29 जनवरी,2041 तक।

कर्क राशि

  • शनि की साढ़े साती: 31 मई 2032 से 22 अक्टूबर 2038 तक। 

  • शनि की ढैया: 29 अप्रैल 2022 से 29 मार्च 2025 और 29 जनवरी 2041 से 12 दिसंबर 2043 तक।

सिंह राशि

  • शनि की साढ़े साती: 13 जुलाई 2034 से 29 जनवरी 2041 तक।

  • शनि की ढैय्या: 29 मार्च 2025 से 3 जून 2027 तक से12 दिसंबर 2043 से 8 दिसंबर 2046 तक। 

यह भी पढ़ें: जानें जून का महीना आपके लिए कैसा होगा? जानें अंकज्योतिष मासिक राशिफल से। 

कन्या राशि

  • शनि की साढ़े साती: 27 अगस्त 2036 से 12 दिसंबर 2043 तक।

  • शनि की ढैया: 3 जून 2027 से 8 अगस्त 2029 तक।

तुला राशि

  • शनि की साढ़े साती: 22 अक्टूबर 2038 से 8 दिसंबर 2046 तक।

  • शनि की ढैया: 24 जनवरी 2020 से 29 अप्रैल 2022 और 8 अगस्त 2029 से 31 मई 2033 तक।

वृश्चिक राशि

  • शनि की साढ़े साती: 28 जनवरी 2041 से 3 दिसंबर 2049 तक।

  • शनि की ढैया: 29 अप्रैल 2022 से 29 मार्च 2025 और 31 मई 2032 से 13 जुलाई 2034 तक।

धनु राशि

  • शनि की साढ़े साती: 12 दिसंबर 2043 से 3 दिसंबर 2049 तक।

  • शनि की ढैया: 29 मार्च 2025 से 3 जून 2027 और 13 जुलाई 2034 से 27 अगस्त 2036 तक।

मकर राशि

  • शनि की साढ़े साती: 26 जनवरी 2017 से 29 मार्च 2025 तक।

  • शनि की ढैया: 3 जून 2027 से 8 अगस्त 2029 और 27 अगस्त 2036 से 22 अक्टूबर 2038 तक।

कुंभ राशि

  • शनि की साढ़े साती: 24 जनवरी 2020 से 3 जून 2027 तक।

  • शनि की ढैया: 8 अगस्त 2029 से 31 मई 2032 और 22 अक्टूबर 2038 से 29 जनवरी 2041 तक।

यह भी पढ़ें: किन राशि वालों को मिलेगा प्यार? जानें जून माह की टैरो कार्ड रीडिंग की भविष्यवाणियों से।

मीन राशि

  • शनि की शनि की साढ़े साती: 29 अप्रैल 2022 से 8 अगस्त 2029 तक।

  • शनि की ढैया: 31 मई 2032 से 13 जुलाई 2034 और 29 जनवरी 2041 से 12 दिसंबर 2043 तक।

शनि की चाल या शनि की चाल, वैदिक ज्योतिष में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है,जो हमारे जीवन के विभिन्न पहलुओं को प्रभावित करती है। हालांकि साढ़े साती और ढैया की ये अवधि चुनौतियां ला सकती हैं, लेकिन ये विकास और आत्मनिरीक्षण के अवसर भी प्रदान करती हैं। इस समय को धैर्य और लचीलेपन के साथ संभालना महत्वपूर्ण है, यह ध्यान में रखते हुए कि ज्योतिष एक मार्गदर्शक है और जीवन के उतार-चढ़ाव से निपटने के लिए व्यक्तिगत प्रयास और सकारात्मक सोच भी समान रूप से आवश्यक हैं।

यदि आप अपनी व्यक्तिगत कुंडली के आधार पर ज्योतिषीय उपाय प्राप्त करना चाहते हैं तो आप एस्ट्रोयोगी के विशेषज्ञ ज्योतिषियों से सलाह प्रदान कर सकते हैं। आपके लिए पहली कॉल या चैट बिलकुल मुफ्त है।

 

article tag
Spirituality
Others
article tag
Spirituality
Others
नये लेख

आपके पसंदीदा लेख

अपनी रुचि का अन्वेषण करें
आपका एक्सपीरियंस कैसा रहा?
facebook whatsapp twitter
ट्रेंडिंग लेख

ट्रेंडिंग लेख

और देखें

यह भी देखें!