क्यों है ज्योतिष इन दिनों इतना लोकप्रिय?

bell icon Thu, May 05, 2022
टीम एस्ट्रोयोगी टीम एस्ट्रोयोगी के द्वारा
क्यों है ज्योतिष इन दिनों इतना लोकप्रिय?

वैदिककाल से ही ज्योतिष शास्त्र ने हमारे जीवन के विकास मे महत्वपूर्ण योगदान दिया हैं और वर्तमान युग में भी मानव का ज्योतिष के प्रति विश्वास बढ़ता जा रहा हैं। ज्योतिष ने जीवन के प्रत्येक क्षेत्रों जैसे करियर, व्यापार, वैवाहिक जीवन, क्रिकेट आदि में विशेष स्थान बना लिया है। आइये जानते हैं उन 10 महत्वपूर्ण क्षेत्रों के बारे में जिन्होंने ज्योतिष को बनाया लोकप्रिय। 

जीवन में कई बार हम ऐसे दौर से गुजरते है जहाँ हमें अपने अस्तित्व और भविष्य की संभावनाओं के बारे में जानने की आवश्यकता पड़ती है। किसी भी व्यक्ति के जीवन को प्रभावित करने वाले क्षेत्र जैसे करियर, व्यापार, विवाह, स्वास्थ्य आदि में आने वाली समस्याओं का सामना करते-करते हम थक जाते है और इन सभी समस्याओं के समाधान ढूंढ़ने में जब हम असफल रहते है, तब ज्योतिष हमारी सहायता कर सकता है। हमें जीवन के हर क्षेत्र में मार्गदर्शन के लिए अधिकतर सितारों-नक्षत्रों की गणना की जरुरत होती है। 

करियर, व्यापार एवं वैवाहिक जीवन में परेशानियों का सामना कर रहे है, तो अभी बात करें एस्ट्रोयोगी पर देश के प्रसिद्ध ज्योतिषियों से। 

क्या आपने कभी अपने आप से सवाल पूछा है, "मेरा भविष्य क्या है? आने वाला कल मेरे लिए कैसा होगा? इस तरह के सवाल हम सभी के मन में आते हैं। ऐसे सवालों का जवाब हमारे पास नहीं होता है, लेकिन ज्योतिष आपके काम आ सकता है। आज के दौर में ज्योतिष की लोकप्रियता निरंतर बढ़ रही है, लेकिन क्या है जो इन दिनों ज्योतिष को लोकप्रिय बना रहा है? जीवन के किन-किन क्षेत्रों को ज्योतिष बनाता है आसान? आइये जानते है।   

आइये अब हम जानते है, इन दिनों क्यों है ज्योतिष लोकप्रिय?

विवाह और वैवाहिक जीवन

अधिकतर लोग जानना चाहते है कि कौन सा समय और तिथि शादी के लिए सबसे शुभ होगी। सभी लोग चाहते है कि सगाई से लेकर शादी के समस्त रीति-रिवाज़ों को शुभ मुहूर्त एवं तिथि पर किया जाए जिससे कार्य में किसी तरह का विघ्न उत्पन्न न हो। ये सभी जानकारी ज्योतिष से प्राप्त की जा सकती है।

कुंडली मिलान: हर इंसान के अपने जीवनसाथी से अपेक्षाएं होती है, कुछ सपने होते हैं। हमारा भविष्य भावी जीवनसाथी के साथ कैसा होगा, इसके लिए भी लोग ज्योतिष का रुख करते है। वर और वधु की कुंडली मिलान द्वारा अनुकूलता और गुणों का मिलान किया जाता है। 

जब किसी इंसान का वैवाहिक जीवन उसके आशाओं के अनुसार नहीं चलता है या विवाह में विवाद, तनाव एवं मतभेद उत्पन्न होते है जो अनेक प्रयासों के बाद भी हल नहीं होते है, तो ऐसी परिस्थिति में लोगों को ज्योतिष आकर्षित करता है। 

करियर एवं नौकरी

कोई व्यक्ति अपना जीवन सुख-सुविधाओं से पूर्ण बिताएगा या वित्तीय समस्याओं से जूझेगा, ये सब करियर की सफलता पर निर्भर करता है, इसलिए सही करियर का चुनाव करना बेहद आवश्यक है। किस क्षेत्र में करियर बनाना होगा सफल, कौन सा क्षेत्र है आपके लिए सबसे उत्तम? इन सवालों का जवाब भी व्यक्ति को ज्योतिष से मिल सकता है।  

कई बार नौकरी लगने के बाद भी समस्याएं समाप्त नहीं होती है नौकरी में अस्थिरता, नौकरी का बार-बार छूट जाना आदि परेशानियों ही करियर में बाधाएं उत्पन्न करती है। व्यक्ति के प्रयासों के बाद भी जब इन समस्याओं का अंत नहीं होता है तब व्यक्ति ज्योतिष की तरफ आशा की दृष्टि से देखता है जो उसके लिए आशा की अंतिम किरण है। 

कब और कैसे शुरू करें व्यापार

व्यक्ति हमेशा अपने आपको इस असमंजस में फंसा हुआ पाता है कि उसके लिए नौकरी करना बेहतर होगा या व्यापार? नौकरी जहाँ सुरक्षा की भावना देती है, वहीं व्यापार एक जोखिमभरा कार्य होता है। नौकरी को न करते हुए व्यापार का आरम्भ करना स्वयं में बहुत बड़ा सवाल होता है, किसी सफलता या असफलता को सुनिश्चित करने के लिए भी ग्रहों एवं नक्षत्रों के आधार पर ज्योतिष मार्गदर्शन करता है। 

अगर कोई व्यक्ति जो हमेशा से व्यापार करता आया हो और उसे अचानक से व्यापार में हानि, नुकसान का सामना करना पड़ रहा है, तो उसका कारक कुंडली में उपस्थित कोई दोष या ग्रहों की स्थिति हो सकती है। ऐसे में इंसान व्यापार में सुधार के लिए ज्योतिष की तरफ देखता है। 

गृह प्रवेश एवं घर सम्बंधित समस्याएं

हर इंसान चाहता है उसके सपनों का घर उसके जीवन में सुकून, शांति, खुशियां एवं समृद्धि लाएं। नया घर आपको सफलता के मार्ग पर ले जाएं, तो नए गृह में प्रवेश शुभ मुहूर्त में करना चाहिए। शुभ तिथि एवं मुहूर्त के लिए ज्योतिष हमें मार्गदर्शन प्रदान करता है।

पुराने बने घर या जिस घर में आप वर्तमान में निवास कर रहे हो, उस घर में मौजूद वास्तु दोष भी कई बार पारिवारिक माहौल को बिगाड़ने, अशांति पैदा करने या रिश्ते व स्वास्थ्य को ख़राब करने का काम करता है, तो इस स्थिति में वास्तु दोष को दूर करने के लिए ज्योतिष व्यक्ति की सहायता करता है। 

वर्तमान समय में निर्मित की जा रही बहुमंजिला इमारत के निर्माण के लिए भी बिल्डर्स ज्योतिष का रुख करते है, और वास्तु के अनुसार ही घर और बिल्डिंग को बनाते है। 

शेयर मार्किट में निवेश

शेयर मार्किट जोखिम वाला क्षेत्र है जो लोगों को अपार लाभ या हानि देने में सक्षम होता है। शेयर मार्किट में निवेश करने वाले ब्रोकर और निवेशक किसी भी निवेश को करने से पूर्व शुभ मुहूर्त, चौघड़िया मुहूर्त सहित शेयर मार्किट भविष्यवाणी को देखते है, उस पर अपनी नज़र बनाए रखते है और उन्हीं के अनुसार निवेश करते है। इस प्रकार, शेयर मार्किट भविष्यवाणी के आधार पर धन का निवेश करते है। 

राशिफल है जीवन का हिस्सा

वर्तमान समय में राशिफल हमारे जीवन का अहम हिस्सा बन गया है। इंसान की सुबह, दिन, सप्ताह और वर्ष की शुरुआत भी राशिफल से होती है। टीवी, अख़बार और स्मार्टफोन के माध्यम से हर इंसान अपना राशिफल जरूर देखता है और उसी के आधार पर शारीरिक और मानसिक रूप से चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार होता है।

बॉलीवुड सितारों का ज्योतिष पर बढ़ता विश्वास

ज्योतिष शास्त्र दिन-प्रतिदिन लोकप्रिय हो रहा है और इसकी लोकप्रियता सिर्फ आम लोगों तक सीमित नहीं है, बल्कि बॉलीवुड की मशहूर हस्तियां भी इसमें शामिल है। जो ज्योतिष के अनुसार ही अपनी फिल्में साइन करते है, रत्न धारण करते है या किसी विशेष अक्षर से सीरियल के नाम की शुरुआत करती है। इन सितारों में अमिताभ बच्चन, ऐश्वर्या राय बच्चन, सलमान खान से लेकर एकता कपूर तक शामिल है। 

क्रिकेट भविष्यवाणी हुई लोकप्रिय

वर्तमान समय में क्रिकेट सबसे लोकप्रिय खेल है। हमारे देश के लोगों में क्रिकेट के हर मैच के लिए जुनून देखने को मिलता है, और यही जोश व जुनून उन्हें मैच से पहले मैच के परिणाम जानने के लिए प्रेरित करता है। ऐसे में, क्रिकेट प्रेमी मैच के परिणाम जानने के लिए ज्योतिष का रुख करते है, साथ ही दैनिक आधार पर क्रिकेट भविष्यवाणी पढ़ते है। 

पर्व एवं त्योहारों के पूजा मुहूर्त

सनातन धर्म में हर दिन कोई न कोई पर्व और त्यौहार होता है जिसमे अनेक प्रकार के धार्मिक अनुष्ठान एवं रीति-रिवाज़ सम्पन्न किये जाते है। इन सभी अनुष्ठानों को विशेष मुहूर्त में करना ही शुभ होता है। इसके लिए भी इंसान ज्योतिष की तरफ रुख करता है क्योंकि ज्योतिष की गणना से ही शुभ मुहूर्त की प्राप्ति होती है। 

ग्रहण एवं सूतक काल

ग्रहण को हिन्दू धर्म में अशुभ माना जाता है और इस दौरान अनेक कार्यों को करना वर्जित होता है, साथ ही विशेष नियमों का पालन करना आवश्यक होता है। ग्रहण के अशुभ प्रभावों से बचने के लिए ग्रहण एवं सूतक काल के समय की जानकारी होना जरुरी है जो हमें सिर्फ और सिर्फ ज्योतिष से ही मिल सकती है। यह भी ज्योतिष के लोकप्रिय होने के प्रमुख कारणों में से एक है। 

पर्वों एवं त्यौहारों, गृह प्रवेश, वाहन खरीद के शुभ मुहूर्त जानने के लिए क्लिक करें एस्ट्रोयोगी पर 


✍️ By- टीम एस्ट्रोयोगी

chat Support Chat now for Support
chat Support Support