Skip Navigation Links
मंगल का राशि परिवर्तन -  क्या प्रभाव डालेगा सभी राशियों पर


मंगल का राशि परिवर्तन - क्या प्रभाव डालेगा सभी राशियों पर

13 अप्रैल को मंगल ग्रह राशि परिवर्तन करेंगें। प्रात: 4 बजकर 12 मिनट पर मंगल मेष राशि से वृषभ राशि में चले जायेंगे। मंगल को उर्जा देने वाला ग्रह माना जाता है। इन्हें युद्ध का देवता कहा जाता है। मंगल भी जातक की राशि पर मंगलकारी व अमंगलकारी प्रभाव डालते हैं। मंगल का राशि परिवर्तन करना ज्योतिषशास्त्र के अनुसार अहमियत रखता है और सभी राशियों पर भाव अनुसार प्रभाव डालता है। ऐसे में मंगल का वृषभ राशि में प्रवेश करना सभी 12 राशियों पर क्या प्रभाव डालेगा आइये जानते हैं क्या कहते हैं ज्योतिषाचार्य।

मेष – मेष राशि के स्वामी स्वयं मंगल हैं जो स्वराशि से ही परिवर्तन करेंगें। ऐसे में मेष जातकों के लिये मंगल का परिवर्तन अच्छा कहा जा सकता है। मेष जातकों के लिये इस समय धन के योग खुलेंगें। यदि आप अपने दोस्तों परिजनों के साथ कहीं घूमने की योजना बना रहे हैं तो यह समय काफी अच्छा रहने के आसार हैं। मंगल आपके लिये मंगलमयी यात्रा के योग बना रहा है। घर में कोई मांगलिक कार्य का आयोजन भी हो सकता है। आपके खर्चों में बढ़ोतरी होने के भी आसार हैं लेकिन यह खर्च शुभ कार्यों में ही होने के आसार हैं। सूर्य नक्षत्र कृतिका में मंगल का परिवर्तन होने के कारण अविवाहित मेष जातकों के लिये परिणय सूत्र में बंधने के योग बनने की भी संभावनाएं हैं। इस समय अच्छी कार्य योजनाएं भी आप बना सकते हैं।

वृषभ – लग्न का मंगल होना वृषभ जातकों के लिये शुभकारी माना जा सकता है। इस समय मंगल आपको काफी ऊर्जावान रखेंगें जिससे आप अपने कार्यों को अच्छे से कर सकेंगें। व्यवसायी जातकों की गतिविधियां भी इस समय बढ़ने के आसार हैं। विवाह के इच्छुक जातकों के लिये भी अच्छा रिश्ते आने की संभावनाएं बलवती हो सकती हैं। विद्या अध्ययन करने वाले जातकों के लिये मंगल विशेष रूप से अच्छे परिणाम लेकर आ सकता है।

मिथुन – आपकी राशि से मंगल का परिवर्तन 12वां होगा। इस समय आपके खर्च बढ़ने के आसार हैं अपनी खर्च करने की प्रवृति पर थोड़ा नियंत्रण करने का प्रयास करें। संतान या फिर परिजनों पर आपको खर्च करना पड़ सकता है। मंगल आपको शत्रुओं पर विजय प्राप्त करने में सहायक हो सकते हैं। यदि कहीं बाहर घूमने की आपने योजना बना रखी है तो यात्रा पर जाने के लिये आपके लिये समय अच्छा रहने के आसार हैं।

कर्क – कर्क राशि वाले जातकों के लिये मंगल का वृषभ राशि में आना शुभ का संकेतक है। यह समय आपके लिये बहुत ही सौभाग्यशाली रहने के आसार हैं। धन प्राप्ति के योग बन सकते हैं। विद्या ग्रहण करने में रूचि रखने वालों के लिये भी मंगल का परिवर्तन शुभ रहने की संभावना है विशेषकर सूचना प्रौद्योगिकी यानि आई टी क्षेत्र वाले जातकों के लिये तो और भी भाग्यशाली रहने के आसार हैं। इस समय नये कार्यों में भी आपकी रूचि बढ़ सकती है। योगकारी होकर लाभ के स्थान पर मंगल के आने से लाभ प्राप्ति की उम्मीद इस दौरान आप कर सकते हैं।

सिंह – लाभ से कर्म की तरफ मंगल का परिवर्तन हो रहा है। ऐसे में आपको लाभ पाने के लिये कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। हालांकि इस कड़ी मेहनत को करने के लिये भरपूर ताकत, भरपूर ऊर्जा भी आपको मंगल से मिलेगी। नये लक्ष्यों को हासिल करने के लिये अपने कार्यों को करने में थोड़ी तत्परता दिखाएं।

कन्या – पिछले कुछ समय से दुर्घटना व रोग से जो जातक पीड़ित थे उन्हें मंगल के परिवर्तित होकर वृषभ राशि में आने पर कुछ राहत मिल सकती है। यह आपके भाग्य में भी बढ़ोतरी के संकेत कर रहा है। धार्मिक कार्यों की ओर भी आपका रूझान बढ़ेगा जिससे आप एक आत्मिक संतुष्टि भी महसूस कर सकते हैं।

तुला – आपकी राशि से मंगल आठवें भाव में आ रहा है। यह आपके लिये किसी अनिष्ट की ओर भी संकेत कर रहा है। यात्रा पर जाने या वाहन को चलाने में सावधानी रखें दुर्घटना के योग बन सकते हैं। कोई सर्जरी भी आपको करवानी पड़ सकती है। पत्थरी या फिर खून के विकार आदि समस्याओं से भी आप ग्रस्त हो सकते हैं। मंगल की पूजा व मंगल का दान करना आपको थोड़ी राहत दे सकता है।

वृश्चिक – दांपत्य जीवन के आनंद में खलल पैदा हो सकता है, विवाहित दंपतियों के विचारों में मतभेद बढ़ने के आसार हैं। हो सके तो साथी से किसी भी प्रकार के वाद-विवाद से बचें। हालांकि स्वास्थ्य को लेकर जो परेशानी आप महसूस कर रहे हैं उससे निजात इस समय आपको मिल सकती है। अविवाहित जातकों के लिये विवाह के योग बन सकते हैं। घर पर कोई मांगलिक कार्य भी आयोजित हो सकता है।

धनु – आपके लिये मंगल का परिवर्तन रोग वर्धक हो सकता है इसलिये अपनी सेहत का विशेष रूप से ध्यान रखें। हालांकि शत्रु पक्ष पर इस समय आप हावि रहेंगें। आपकी यात्राएं भी इस समय बढ़ सकती हैं। आर्थिक स्थिति को बेहतर करने के लिये अपने खर्चों को नियंत्रित करने का प्रयास करें जो कि बढ़ने के आसार हैं।

मकर – मकर राशि वालों के लिये मंगल मान-सम्मान में वृद्धि लाने वाला हो सकता है। संतान पक्ष से सुख की प्राप्ति भी आपको हो सकती है। मंगल का परिवर्तन विद्यार्थियों के लिये शुभ रहने के आसार हैं। नये कार्य की शुरुआत करने के लिये भी मंगल आपके लिये मंगलकारी योग बना रहा है। धन प्राप्ति के योग भी आपके लिये इस समय बनेगें।

कुंभ – मंगल का परिवर्तन आपके लिये संपत्ति जुड़ने के योग बना रहा है। यदि आप अपने लिये घर खरीदने या बनाने का प्रयास कर रहे हैं तो इस समय आपके प्रयास सफल हो सकते हैं। किसी नये कार्य को करने की योजना भी आपकी सफल हो सकती है। मातृ पक्ष से प्रेम बढ़ने के आसार हैं। मित्रों का भी सहयोग आपको इस समय मिलने के आसार हैं।

मीन – मंगल मेष राशि वृषभ राशि में परिवर्तन करना आपके लिये भाग्य क्षेत्र में वृद्धि के संकेत कर रहा है। यदि आप नौकरी में परिवर्तन या किसी नये काम को करने के इच्छुक हैं तो उचित अवसर प्राप्त हो सकते हैं। इस समय प्रतिस्पर्धियों पर आप हावि हो सकते हैं। शत्रु आपके दबाव में आ सकते हैं। कुल मिलाकर मंगल आपके लिये सुख-समृद्धि के योग बना रहा है। 


सरल ज्योतिषीय उपाय जानना चाहते हैं तो एस्ट्रोयोगी पर देश भर के विद्वान ज्योतिषाचार्यों से परामर्श करें। अभी परामर्श करने के लिये यहां क्लिक करें।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

हरियाली तीज 2017 - जानें श्रावणी तीज की व्रत कथा व पूजा विधि

हरियाली तीज 2017 -...

श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया को “श्रावणी तीज” कहते हैं। परन्तु ज्यादातर लोग इसे हरियाली तीज के नाम से जानते हैं। यह त्यौहार मुख्य रूप स...

और पढ़ें...
नाग पंचमी 2017 - भगवान शिव और नागों की पूजा का दिन है

नाग पंचमी 2017 - भ...

नाग पंचमी एक  हिन्दू पर्व है जिसमें नागों और सर्पों की पूजा की जाती है। श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि में यह पर्व पूरे देश में पूर्ण...

और पढ़ें...
शुक्र राशि परिवर्तन – किसको मिलेगा लाभ किसको होगी हानि जानें राशिफल

शुक्र राशि परिवर्त...

किसी भी जातक की कुंडली में लाभ, सुख-समृद्धि आदि के कारक शुक्र माने जाते हैं इसलिये शुक्र का गोचर भी ज्योतिषीय दृष्टिकोण से खास अहमियत रखता है...

और पढ़ें...
राशिनुसार कैसे करें शिव की पूजा

राशिनुसार कैसे करे...

शिव भक्तों के लिये सावन माह सभी महीनों में सबसे पवित्र माह होता है। इसलिये इस माह को भगवान शिव की उपासना के लिये सर्वोत्तम भी माना जाता है। इ...

और पढ़ें...
श्रावण सोमवार 2017 - जानें सावन सोमवार की व्रतकथा व पूजा विधि

श्रावण सोमवार 2017...

सावन माह का नाम आते ही हमारे मन में भी बादल घुमड़ने लगते हैं, ठंडी हवाओं के झौंके सुकून देने लगते हैं, तपती ज्येष्ठ और आषाढ़ में गरमी से बेहा...

और पढ़ें...