वृषभ राशि में बुध! क्या होगा असर आपकी राशि पर? जानिए

01 मई 2021

बुध ग्रह राशि चक्र में तीसरी और छठी राशि मिथुन व कन्या के स्वामी हैं। बुध वाणी के कारक माने जाते हैं। बुध का राशि परिवर्तन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार एक बड़ी घटना माना जाता है। प्रत्येक राशि के अनुसार बुध जिस भी घर में स्थित होते हैं उसी के अनुसार परिणाम भी लेकर आते हैं। 01 मई 2021 शनिवार की सुबह लगभग 05 बजकर 32 मिनट पर बुध मेष राशि से परिवर्तित होकर वृषभ राशि में आ जायेंगें और 26 मई 2021 सुबह 07 बजकर 50 मिनट तक इसी राशि में रहेंगे। वृषभ राशि में बुध का राहु के साथ आने से जड़त्व योग भी बन रहा है। ज्योतिषी के अनुसार यह योग शुभ नहीं माना जाता है। ऐसे में बुध सभी 12 राशियों पर क्या प्रभाव डाल रहे हैं? आइये जानते हैं।


किन राशियों के लिये लाभकारी है बुध का वृषभ राशि में गोचर

  1. मेष राशि: बुध का परिवर्तन मेष राशि से तीसरे भाव में हो रहा है। इस गोचर के कारण आपकी वाणी में मिठास आएगी और आप स्पष्टता का साथ संवाद कर पाएंगे। यह अवधि गायन, लेखन में रुचि रखने वाले जातकों के लिए उत्तम है। रिलेशनशिप को स्थिर रखने के लिए आपको क्वालिटी टाइम की जरूरत है। नौकरीपेशा जातक इस समय लाभ प्राप्त करेंगे। हालांकि व्यापारी वर्ग को बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। 
  2. वृषभ राशि: बुध का परिवर्तन आपकी ही राशि में हो रहा है। आपके लिये बुध का परिवर्तन काफी सारे बदलाव लाने वाला रह सकता है। इस गोचर के कारण आप पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को संभालने के लिए पॉजिटिव एटीट्यूड रखेंगे। पेशेवर क्षेत्र के जातक जिज्ञासु बनेंगे और लाभ प्राप्त कर सकते हैं। व्यापारी वर्ग को भी लाभ मिलेगा। इस अवधि के दौरान आपका संचार कौशल प्रभावशाली होगा और आपके रिश्तों में मिठास आएगी। विद्यार्थियों के लिए यह गोचर शुभ माना गया है।  
  3. मिथुन राशि: मिथुन राशि से बुध का परिवर्तन 12वें घर में हो रहा है। इस गोचर के कारण व्यापारी वर्ग के लोग तनाव महसूस कर सकते हैं। आपको चीजों को होल्ड पर रखना चाहिए और कुछ भी नया शुरू नहीं करना चाहिए। इस अवधि के दौरान आपको ध्यान या योग करना चाहिए ताकि आप चीजों को स्पष्ट समझ पाएं और तनाव को कम कर सकें। इस अवधि के दौरान विदेश यात्रा के योग भी बन रहे हैं। विद्यार्थियों को परीक्षा में सफलता मिलने की संभावना है। 
  4. कर्क राशि: कर्क राशि से बुध का परिवर्तन एकादश भाव में हो रहा है। यह गोचर शुभ और अनुकूल फल लेकर आएगा। व्यापारी वर्ग को लाभ प्राप्त होगा। पेशेवर जातकों को उनकी मेहनत का फल मिलेगा। हालांकि आपको पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में संचार में सकारात्मक बदलाव लाने की आवश्यकता है। लव लाइफ में आपके सुधार होगा हालांकि वैवाहिक जीवन में मामूली वाद-विवाद की स्थिति पैदा हो सकती है। इसके अलावा, नौकरीपेशा और व्यापारियों को कई नए अवसर प्राप्त होंगे।
  5. सिंह राशि:  सिंह राशि से बुध का परिवर्तन दशम घर में हो रहा है। व्यावसायिक रूप से यह अवधि आपके लिए अनुकूल रहेगी। आपकी रचनात्मकता और संगठनात्मक कौशल में वृद्धि होगी और आप सभी कार्य कुशलता और उत्पादकता के साथ पूरा कर पाएंगे। आपके कार्य क्षेत्र में आपके अधिकारी आपके सभी कार्यों में आपका साथ देने वाले हैं। रोमांटिक जीवन में शांति और सद्भाव कायम रहेगा। वित्त के मामले में स्थिरिता बनी रहेगी और आप निवेश भी कर सकते हैं। 
  6. कन्या राशि: कन्या राशि से बुध का परिवर्तन नवम घर में हो रहा है। इस गोचर के दौरान आपको कड़ी मेहनत और प्रयासों के बाद ही परिणाम प्राप्त होंगे। व्यावसायिक रूप से, आपको अपनी सामाजिक स्थिति में वृद्धि के साथ नए नौकरी के प्रस्ताव और वित्तीय लाभ प्राप्त होंगे। इसके अलावा आप भाई-बहनों की आर्थिक मदद भी ले सकते हैं। इस अवधि के दौरान विदेश में उच्च शिक्षा की इच्छा बढ़ेगी। मीडिया, मनोरंजन और ग्लैमर फील्ड से जुड़े जातकों को इस अवधि में सफलता मिलेगी। इस गोचर के कारण, आपका झुकाव कला, लेखन और अभिनय की ओर बढ़ सकता है। 
  7. तुला राशि: तुला राशि से बुध का परिवर्तन अष्टम भाव में हो रहा है। इस गोचर के दौरान आप कुछ नया खोजने की कोशिश करेंगे। आपको पैतृक संपत्ति से लाभ भी मिल सकता है। रिलेशनशिप में आपको अधिक समझ और ध्यान देने की जरूरत होगी। इस समय के दौरान, धन की हानि होने की संभावना है, लेकिन साथ ही कुछ गुप्त धन भी प्राप्त किया जा सकता है। इस समय आपका धन खर्च होगा लेकिन आपका आर्थिक पक्ष मजबूत बना रहेगा। पेशेवर जातकों को यह सलाह दी जाती है कि आपको अपने वरिष्ठों के साथ बहस नहीं करनी चाहिए वरना आप बड़ी मुसीबत में पड़ सकते हैं। इस पारगमन के दौरान अपने पर्सनल और प्रोफेशनल जीवन में एक स्पष्ट दृष्टिकोण अपनाएं। 
  8. वृश्चिक राशि : वृश्चिक राशि से बुध का परिवर्तन सातवें घर में हो रहा है। दांपत्य जीवन में काफी उतार-चढ़ाव आने की संभावनाएं हैं। सिंगल लोगों को कोई नया साथी मिल सकता है। व्यवसाय या किसी साझेदारी में रहने वाले जातकों के लिए लाभ का समय है। नया व्यापार या साझेदारी शुरू करने के लिए यह समय अनुकूल है। इस अवधि के दौरान, कुछ व्यापारियों के मान-सम्मान में वृद्धि होगी। आपके जीवनसाथी को भी आपसे मुनाफ़ा मिलेगा।
  9. धनु राशि: धनु राशि से बुध का परिवर्तन छठे घर में हो रहा है। इस गोचर के दौरान व्यापारी वर्ग को अपने व्यापार के विस्तार की योजनाओं पर ध्यान देने की जरूरत है। नौकरीपेशा जातक अच्छा प्रदर्शन करेंगे और लाभ प्राप्त करेंगे। रिलेशनशिप में आपको बुद्धिमानी और संयम के साथ संचार करना होगा वरना झगड़े हो सकते हैं। 
  10. मकर राशि: मकर राशि से बुध का परिवर्तन पंचम भाव में हो रहा है जो कि शिक्षा, प्रेम संबंध और संतान का घर माना जाता है। इस पारगमन के दौरान प्रेमी युगल विवाह बंधन में बंध सकते हैं। विद्यार्थियों के लिए यह समय अनुकूल रहेगा। आपको सलाह दी जाती है कि बहस न करें वरना आपके करीबी आपसे रुष्ठ हो सकते हैं। पेशेवर जातकों का ट्रांसफर हो सकता है साथ ही उनका प्रमोशन भी हो सकता है। आपको आपकी मेहनत और लग्न की वजह से अधिकारियों से सराहना प्राप्त होगी। सट्टे या लॉटरी से आपको अच्छा लाभ होगा।
  11. कुंभ राशि: कुंभ राशि से बुध का परिवर्तन चतुर्थ भाव में हो रहा है जो कि सुख संपत्ति माता आदि का घर है। इस गोचर के दौरान संतान पक्ष को लेकर चिंता रहेगी। विद्यार्थियों को पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। पेशेवर जातकों को कार्यस्थल पर कुछ उतार-चढ़ाव या संघर्ष का सामना करना पड़ सकता है। रिलेशनशिप के मामले में, यह गोचर आपके लिए फायदेमंद रहेगा क्योंकि प्यार और रोमांस के अच्छे अवसर होंगे और आप अपने साथी के साथ अपने संबंधों को और मजबूत कर पाएंगे।
  12. मीन राशि: आपकी राशि से बुध तीसरे घर में परिवर्तन कर रहा है। इस गोचर के दौरान आपके संचार कौशल में सुधार होगा। आर्थिक रूप से, इस अवधि में सुधार होने की संभावना है। पेशे से संबंधित यात्राएं आपको लाभ दिलाएंगी। रिश्ते में आपको पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम और अधिक समझदारी दिखाने की जरूरत है। कार्यस्थल पर प्रशंसा पाने के लिए अवधि से पहले कार्य समाप्त करने की आवश्यकता है। 


यह राशिफल सामान्य ज्योतिषीय आकलन पर आधारित है। व्यापक और सटीक मूल्यांकन के लिये अन्य ग्रहों स्थिति भी निर्भर करती है। हमारी सलाह है कि अपनी कुंडली के अनुसार ग्रहों के प्रभाव को जानने के लिये एस्ट्रोयोगी पर इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से गाइडेंस लें।

 

यह भी पढ़ें

ग्रह गोचर 2021   |   बुध कैसे बने चंद्रमा के पुत्र ? पढ़ें पौराणिक कथा   |  बुध गोचर 2021

 

Chat now for Support
Support