वृषभ राशि में बुध! क्या होगा असर आपकी राशि पर? जानिए

बुध ग्रह राशि चक्र में तीसरी और छठी राशि मिथुन व कन्या के स्वामी हैं। बुध वाणी के कारक माने जाते हैं। बुध का राशि परिवर्तन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार एक बड़ी घटना माना जाता है। प्रत्येक राशि के अनुसार बुध जिस भी घर में स्थित होते हैं उसी के अनुसार परिणाम भी लेकर आते हैं। 18 मई 2019 शनिवार की रात्रि लगभग 11 बजकर 42 मिनट पर बुध मेष राशि से परिवर्तित होकर वृषभ राशि में आ जायेंगें। वृषभ राशि में बुध के सूर्य के साथ आने से बुधादित्य योग भी बन रहा है। ऐसे में बुध सभी 12 राशियों पर क्या प्रभाव डाल रहे हैं? आइये जानते हैं।

यह राशिफल सामान्य ज्योतिषीय आकलन के अनुसार बनाया गया है। बुध का यह गोचर आपकी कुंडली के अनुसार आपके लिये क्या परिणाम लेकर आएगा? अगर आप लाइफ के किसी भी फिल्ड में कुछ नेगेटिव फील कर रहे हैं तो इससे कैसे निजात मिलेगी? एस्ट्रोयोगी पर इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से आप इस बारे में गाइडेंस ले सकते हैं। अभी बात करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें और हमें +91-99-990-91-091 पर कॉल करें।

किन राशियों के लिये लाभकारी है वृषभ राशि में बुधादित्य योग

मेष

बुध का परिवर्तन मेष राशि से दूसरे भाव में हो रहा है जो कि इनका मित्र घर है। धन से संबंधित चिंताए कुछ समय के लिये दूर हो सकती हैं। आपके कार्यक्षेत्र में आपकी योग्यता में भी निखार आने की संभावना है। बुध आपकी राशि में छठे घर का स्वामी होने के कारण स्वास्थ्य संबंधी ध्यान आपको रखने की आवश्यकता है रोग व शत्रु आपको परेशान कर सकते हैं। इस स्थिति का सामना कैसे किया जा सकता है? एस्ट्रोयोगी पर इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से आप इस बारे में गाइडेंस ले सकते हैं। अभी बात करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें और हमें +91-99-990-91-091 पर कॉल करें।

वृषभ

बुध का परिवर्तन आपकी ही राशि में हो रहा है। आपके लिये बुध का परिवर्तन काफी सारे बदलाव लाने वाला रह सकता है। आपकी संचार क्षमता का विकास होगा, स्वभाव में मधुरता व वाणी में मिठास बने रहने के आसार हैं। कार्यक्षेत्र व धन के क्षेत्र में भी आपको लाभ मिल सकता है। लंबे समय से जो चिंताएं बनी हुई हैं उनसे निजात मिल सकती है। विद्यार्थियों के लिये प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता मिलने की संभावनाएं हैं।

मिथुन

मिथुन राशि से बुध का परिवर्तन 12वें घर में हो रहा है। अचानक से खर्चों में वृद्धि हो सकती है। इस समय किसी से ऋण न लें और किसी क्षेत्र में अगर बड़े धन का उपयोग कर रहे हों तो उसे काफी समझदारी व जांच-परख के बाद ही करें। स्वास्थ्य के प्रति भी सचेत रहने की आवश्यकता है। कार्यक्षेत्र में काम का बोझ बढ़ सकता है। चौथे घर का स्वामी होने के कारण बुध माता के प्रति प्रेम में वृद्धि करने वाला रह सकता है।

कर्क

कर्क राशि से बुध का परिवर्तन एकादश भाव में हो रहा है। लंबे समय से रूके हुए कार्य बनने व धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। लाभ घर में बुध आदित्य युति होने से व्यापार क्षेत्र में बड़ी सफलता के संकेत बन रहे हैं। आपकी मेहनत का उचित ईनाम मिलने की प्रबल संभावनाएं हैं। सफलता के साथ-साथ संयम भी रखें ताकि लंबे समय तक आप इसे बनाये रखें।

सिंह

सिंह राशि से बुध का परिवर्तन दशम घर में हो रहा है। बेरोजगार व्यक्तियों के लिये रोजगार के अच्छे अवसर आ सकते हैं। व्यापारी वर्ग के लिये अच्छे कार्य के संकेत हैं। लाभीष्ट बुध होने से हर क्षेत्र में लाभ के संकेत बन रहे हैं। पिता के साथ संबंधों में अनबन हो सकती है। अपनी बुद्धिमता से रिश्तों का निर्वाह भी करें। संचित धन का प्रयोग देखभाल कर करें।

कन्या

कन्या राशि से बुध का परिवर्तन नवम घर में हो रहा है जो कि आपकी राशि में भाग्यवर्धक समय की ओर संकेत करता है। इस समय जो जातक जीवन में जोखिम उठाना चाहते हैं उनके लिये यह समय उपयुक्त है। आपके कार्यक्षेत्र में आपको अधिक कार्य दिया जा सकता है और यही चीज़ आपकी योग्यता को दर्शाने का समय भी है। लंबे समय से चले आ रहे रोग से भी आपको निज़ात मिल सकती है। विद्यार्थियों के लिये भी यह समय उत्तम बना रहेगा।

तुला

तुला राशि से बुध का परिवर्तन अष्टम भाव में हो रहा है बुध के साथ सूर्य अष्टम होने से आपके स्वभाव में उग्रता आ सकती है। अग्नि आदि से आपको ख़तरा हो सकता है। सेहत के प्रति लापरवाही न बरतें अन्यथा यह आपके लिये आगे चलकर पीड़ादायक हो सकता है। अचानक खर्च बढ़ने से आर्थिक स्थिति कमजोर हो सकती है। भाग्य का सहयोग बुध के परिवर्तन में कम ही रहेगा। आपके लिये बुध का यह गोचर कैसे लाभकारी रह सकता है? एस्ट्रोयोगी पर इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से आप इस बारे में गाइडेंस ले सकते हैं। अभी बात करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें और हमें +91-99-990-91-091 पर कॉल करें।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि से बुध का परिवर्तन सातवें घर में हो रहा है। दांपत्य जीवन में काफी उतार-चढ़ाव आने की संभावनाएं हैं। यह समय आपकी शारीरिक कमजोरी को भी दर्शाता है। प्रेमी युगलों के लिये भी यह समय बहुत अनुकूल नहीं है। अष्टम भाव के स्वामी होने के कारण रोग आदि का भय भी बना रह सकता है। कार्यक्षेत्र में लाभ का संकेत आपके लिये खुशियों का अवसर ला सकता है।

धनु

धनु राशि से बुध का परिवर्तन छठे घर में हो रहा है। जो कि आपकी सफलता की गति को कम कर सकता है। अचानक आपके कार्य में शत्रु बाधाएं उत्पन्न कर सकते हैं। आपके हाथ में आयी हुई चीज़ें भी हाथ से निकलने का भय बना रहेगा। रोग आदि के प्रति लापरवाही न बरतें, लक्षण दिखाई देते ही चिकित्सीय परामर्श अवश्य लें। कुछ समय तक कार्यों की गति थोड़ी मंद पड़ सकती है।

मकर

मकर राशि से बुध का परिवर्तन पंचम भाव में हो रहा है जो कि शिक्षा, प्रेम संबंध और संतान का घर माना जाता है। बुध सम ग्रह होने के कारण इन क्षेत्रों से संबंधित लाभ देने का योग बना रहा है। आप अपने बुद्धि कौशल से अपने जीवन की परीक्षाओं में सफल हो सकते हैं और भाग्य स्थान का स्वामी पंचम में होने से भाग्य का भी आपको भरपूर सहयोग मिलने की उम्मीद है। लंबी यात्राओं के योग भी बन रहे हैं।

कुंभ

कुंभ राशि से बुध का परिवर्तन चतुर्थ भाव में हो रहा है जो कि सुख संपत्ति माता आदि का घर है। कठिन परिश्रम से किये गये कार्य का फल मिलने के योग बन रहे हैं। बुध आदित्य युति होने से आपकी कीर्ति से अपने कुल व रिश्तेदारों में आपका सम्मान बढ़ाने वाला भी है। आपकी राशि से अष्टम भाव का स्वामी होने के कारण गाड़ी चलाने व यात्रा के समय सावधानी रखें।

मीन

आपकी राशि से बुध तीसरे घर में परिवर्तन कर रहा है। अपने पराक्रम को सही दिशा और सही मंजिल की ओर ले जाने में बुध आपका साथ देगा। कार्य में पदोन्नति व धनोन्नति का योग बन रहा है। सप्तम भाव के स्वामी होने से दांपत्य जीवन में भी मधुरता आने के आसार हैं। रूठे हुए जीवनसाथी को मनाने का यह उपयुक्त समय है। विद्यार्थियों के लिये भी बुध का परिवर्तन उत्तम रहने के आसार हैं।

यह राशिफल सामान्य ज्योतिषीय आकलन के अनुसार बनाया गया है। बुध का यह गोचर आपकी कुंडली के अनुसार आपके लिये क्या परिणाम लेकर आएगा? अगर आप लाइफ के किसी भी फिल्ड में कुछ नेगेटिव फील कर रहे हैं तो इससे कैसे निजात मिलेगी? एस्ट्रोयोगी पर इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से आप इस बारे में गाइडेंस ले सकते हैं। अभी बात करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें और हमें +91-99-990-91-091 पर कॉल करें।

यह भी पढ़ें

ग्रह गोचर 2019   |   बुध कैसे बने चंद्रमा के पुत्र ? पढ़ें पौराणिक कथा   |  बुध गोचर 2019

 

एस्ट्रो लेख

भविष्यफल 2020 -...

नया साल हर किसी के लिए एक नई उमंग, नया उत्साह और नई-नई योजनाएं लेकर आता है। नये साल के साथ हर किसी को नई उम्मीद भी जुड़ी होती है। आमतौर पर नए साल को लेकर लोग जीवन में दुख के दिन दू...

और पढ़ें ➜

बुध का वृश्चिक ...

इस 05 दिसंबर को बुध सुबह10 बजकर 46 मिनट पर राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। इस समय बुध तुला राशि में हैं परंतु 05 दिसंबर 2019 को यह राशि बदलकर वृश्चिक राशि में आ जाएंगे। जिसका आपके ऊ...

और पढ़ें ➜

स्कंद षष्ठी 201...

यदि आपके घर में कोई बहुत लंबे समय से बीमार है? आपको हमेशा पैसों की तंगी बनी रहती है? कड़ी मेहनत के बाद भी आपके संतान को सफलता नहीं मिलती है तो आपको हर माह हिंदू कैलेंडर के अनुसार. ...

और पढ़ें ➜

विवाह पंचमी 201...

देवी सीता और प्रभु श्री राम सिर्फ महर्षि वाल्मिकी द्वारा रचित रामायण की कहानी के नायक नायिका नहीं थे, बल्कि पौराणिक ग्रंथों के अनुसार वे इस समस्त चराचर जगत के कर्ता-धर्ता भगवान श्र...

और पढ़ें ➜