Skip Navigation Links
बुध गोचर – बुध का परिवर्तन मेष से वृषभ राशि में



बुध गोचर – बुध का परिवर्तन मेष से वृषभ राशि में

बुध ग्रह राशि चक्र में तीसरी और छठी राशि मिथुन व कन्या के स्वामी हैं। बुध वाणी के कारक माने जाते हैं। बुध का राशि परिवर्तन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार एक बड़ी घटना माना जाता है। प्रत्येक राशि के अनुसार बुध जिस भी घर में स्थित होते हैं उसी के अनुसार परिणाम भी लेकर आते हैं। 3 जून रात्रि लगभग 8 बजकर 1 मिनट पर बुध मेष राशि से परिवर्तित होकर वृषभ राशि में आ जायेंगें। ऐसे में बुध का अन्य राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा? आइये जानते हैं।

मेष

बुध का परिवर्तन मेष राशि से दूसरे भाव में हो रहा है जो कि इनका मित्र घर है। धन से संबंधित चिंताए कुछ समय के लिये दूर हो सकती हैं। आपके कार्यक्षेत्र में आपकी योग्यता में भी निखार आने की संभावना है। बुध आपकी राशि में छठे घर का स्वामी होने के कारण स्वास्थ्य संबंधी ध्यान आपको रखने की आवश्यकता है रोग व शत्रु आपको परेशान कर सकते हैं।

वृषभ

बुध का परिवर्तन आपकी ही राशि में हो रहा है। आपके लिये बुध का परिवर्तन काफी सारे बदलाव लाने वाला रह सकता है। आपकी संचार क्षमता का विकास होगा, स्वभाव में मधुरता व वाणी में मिठास बने रहने के आसार हैं। कार्यक्षेत्र व धन के क्षेत्र में भी आपको लाभ मिल सकता है। लंबे समय से जो चिंताएं बनी हुई हैं उनसे निजात मिल सकती है। विद्यार्थियों के लिये प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता मिलने की संभावनाएं हैं।

मिथुन

मिथुन राशि से बुध का परिवर्तन 12वें घर में हो रहा है। अचानक से खर्चों में वृद्धि हो सकती है। इस समय किसी से ऋण न लें और किसी क्षेत्र में अगर बड़े धन का उपयोग कर रहे हों तो उसे काफी समझदारी व जांच-परख के बाद ही करें। स्वास्थ्य के प्रति भी सचेत रहने की आवश्यकता है। कार्यक्षेत्र में काम का बोझ बढ़ सकता है। चौथे घर का स्वामी होने के कारण बुध माता के प्रति प्रेम में वृद्धि करने वाला रह सकता है।

कर्क

कर्क राशि से बुध का परिवर्तन एकादश भाव में हो रहा है। लंबे समय से रूके हुए कार्य बनने व धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। लाभ घर में बुध आदित्य युति होने से व्यापार क्षेत्र में बड़ी सफलता के संकेत बन रहे हैं। आपकी मेहनत का उचित ईनाम मिलने की प्रबल संभावनाएं हैं। सफलता के साथ-साथ संयम भी रखें ताकि लंबे समय तक आप इसे बनाये रखें।

सिंह

सिंह राशि से बुध का परिवर्तन दशम घर में हो रहा है। बेरोजगार व्यक्तियों के लिये रोजगार के अच्छे अवसर आ सकते हैं। व्यापारी वर्ग के लिये अच्छे कार्य के संकेत हैं। लाभीष्ट बुध होने से हर क्षेत्र में लाभ के संकेत बन रहे हैं। पिता के साथ संबंधों में अनबन हो सकती है। अपनी बुद्धिमता से रिश्तों का निर्वाह भी करें। संचित धन का प्रयोग देखभाल कर करें।

कन्या

कन्या राशि से बुध का परिवर्तन नवम घर में हो रहा है जो कि आपकी राशि में भाग्यवर्धक समय की ओर संकेत करता है। इस समय जो जातक जीवन में जोखिम उठाना चाहते हैं उनके लिये यह समय उपयुक्त है। आपके कार्यक्षेत्र में आपको अधिक कार्य दिया जा सकता है और यही चीज़ आपकी योग्यता को दर्शाने का समय भी है। लंबे समय से चले आ रहे रोग से भी आपको निज़ात मिल सकती है। विद्यार्थियों के लिये भी यह समय उत्तम बना रहेगा।

तुला

तुला राशि से बुध का परिवर्तन अष्टम भाव में हो रहा है बुध के साथ सूर्य अष्टम होने से आपके स्वभाव में उग्रता आ सकती है। अग्नि आदि से आपको ख़तरा हो सकता है। सेहत के प्रति लापरवाही न बरतें अन्यथा यह आपके लिये आगे चलकर पीड़ादायक हो सकता है। अचानक खर्च बढ़ने से आर्थिक स्थिति कमजोर हो सकती है। भाग्य का सहयोग बुध के परिवर्तन में कम ही रहेगा।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि से बुध का परिवर्तन सातवें घर में हो रहा है। दांपत्य जीवन में काफी उतार-चढ़ाव आने की संभावनाएं हैं। यह समय आपकी शारीरिक कमजोरी को भी दर्शाता है। प्रेमी युगलों के लिये भी यह समय बहुत अनुकूल नहीं है। अष्टम भाव के स्वामी होने के कारण रोग आदि का भय भी बना रह सकता है। कार्यक्षेत्र में लाभ का संकेत आपके लिये खुशियों का अवसर ला सकता है।

धनु

धनु राशि से बुध का परिवर्तन छठे घर में हो रहा है। जो कि आपकी सफलता की गति को कम कर सकता है। अचानक आपके कार्य में शत्रु बाधाएं उत्पन्न कर सकते हैं। आपके हाथ में आयी हुई चीज़ें भी हाथ से निकलने का भय बना रहेगा। रोग आदि के प्रति लापरवाही न बरतें, लक्षण दिखाई देते ही चिकित्सीय परामर्श अवश्य लें। कुछ समय तक कार्यों की गति थोड़ी मंद पड़ सकती है।

मकर

मकर राशि से बुध का परिवर्तन पंचम भाव में हो रहा है जो कि शिक्षा, प्रेम संबंध और संतान का घर माना जाता है। बुध सम ग्रह होने के कारण इन क्षेत्रों से संबंधित लाभ देने का योग बना रहा है। आप अपने बुद्धि कौशल से अपने जीवन की परीक्षाओं में सफल हो सकते हैं और भाग्य स्थान का स्वामी पंचम में होने से भाग्य का भी आपको भरपूर सहयोग मिलने की उम्मीद है। लंबी यात्राओं के योग भी बन रहे हैं।

कुंभ

कुंभ राशि से बुध का परिवर्तन चतुर्थ भाव में हो रहा है जो कि सुख संपत्ति माता आदि का घर है। कठिन परिश्रम से किये गये कार्य का फल मिलने के योग बन रहे हैं। बुध आदित्य युति होने से आपकी कीर्ति से अपने कुल व रिश्तेदारों में आपका सम्मान बढ़ाने वाला भी है। आपकी राशि से अष्टम भाव का स्वामी होने के कारण गाड़ी चलाने व यात्रा के समय सावधानी रखें।

मीन

आपकी राशि से बुध तीसरे घर में परिवर्तन कर रहा है। अपने पराक्रम को सही दिशा और सही मंजिल की ओर ले जाने में बुध आपका साथ देगा। कार्य में पदोन्नति व धनोन्नति का योग बन रहा है। सप्तम भाव के स्वामी होने से दांपत्य जीवन में भी मधुरता आने के आसार हैं। रूठे हुए जीवनसाथी को मनाने का यह उपयुक्त समय है। विद्यार्थियों के लिये भी बुध का परिवर्तन उत्तम रहने के आसार हैं।

आपकी कुंडली के अनुसार बुध ग्रह आपके लिये किस तरह लाभकारी हो सकते हैं जानने के लिये एस्ट्रोयोगी पर देश के प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्यों से परामर्श करें। अभी बात करने के लिये यहां क्लिक करें।




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

शुक्र अस्त - अब 3 फरवरी के बाद बजेंगी शहनाइयां!

शुक्र अस्त - अब 3 ...

विवाह के लिये सर्दियों का मौसम बहुत ही अच्छा माना जाता है। क्योंकि ऐसा मानना है कि सर्दियों के मौसम खाने पीने से लेकर ओढ़ने पहनने व संजने संव...

और पढ़ें...
पौष अमावस्या – 12 साल बाद बन रहा है अद्भुत संयोग!

पौष अमावस्या – 12 ...

धार्मिक दृष्टि से पौष मास का बहुत ही खास महत्व होता है। इस माह में अक्सर सूर्य धनु राशि में विचरण करते हैं। इस कारण आध्यात्मिक उन्नति के लिये...

और पढ़ें...
खर मास - क्या करें क्या न करें

खर मास - क्या करें...

भारतीय पंचाग के अनुसार जब सूर्य धनु राशि में संक्रांति करते हैं तो यह समय शुभ नहीं माना जाता इसी कारण जब तक सर्य मकर राशि में संक्रमित नहीं ह...

और पढ़ें...
गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 भविष्यवाणी

गुजरात विधानसभा चु...

गुजरात चुनाव 2017 में अब बहुत समय नहीं बचा है 9 दिसंबर को प्रथम चरण का मतदान होगा तो 14 दिसंबर को दूसरे व अंतिम चरण का। 18 दिसंबर को यह पता च...

और पढ़ें...
अस्त शनि से मिल सकता है भंसाली की पद्मावती को लाभ !

अस्त शनि से मिल सक...

संजय लीला भंसाली हिंदी सिनेमा के जाने-माने चेहरे हैं। बड़े-बड़े सेट, बड़ी स्टार कास्ट और बड़े तामझाम से सजी फिल्मों के निर्माण व निर्देशन के ...

और पढ़ें...