एस्ट्रो लेख

हनुमान जी के इस...

क्या आपने कभी सुना या पढ़ा है कि भगवान भी अपने भक्त को किसी मांग के पूरा होने की गारंटी दे सकते हैं। जी हाँ, अपने ऐसा कभी सोचा भी नहीं होगा। लेकिन कर्नाटक राज्य के गुलबर्गा क्षेत्र ...

और पढ़ें ➜

जानिये, राशि के...

आज जिस युग में हम जी रहे हैं, वहां धन अर्थात पैसा एक मौलिक आवश्यकता बन चुका है।  तभी तो बोला जाता है कि “बाप बड़ा ना भईया, सबसे बड़ा रुपईया।” आपने कभी कल्पना की है कि अगर आपकी जेब मे...

और पढ़ें ➜

कलयुग में ब्रह्...

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्। उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥ शिव सत्य है और शिव ही परम ब्रह्म है। शिव भगवान अजन्मी हैं, हिन्दू शास्त्रों में श...

और पढ़ें ➜

जानें विष्णु के...

भगवान विष्णु के दशावतार बताये जाते हैं जिनमें 9 अवतार रूप धारण कर चुके हैं जबकि दसवें अवतार का जन्म लेना अभी बाकि है। मान्यता है कि विष्णु का दसवां अवतार कल्कि होगें जो कलयुग के अं...

और पढ़ें ➜

15 अप्रैल तक शु...

ज्योतिष शास्त्र में शुक्र ग्रह को सौंदर्य का, भाग्य का, प्रेम का कारक ग्रह माना जाता है। शुक्र चाहे राशि परिवर्तन करें, मार्गी हों या किसी भी राशि में वक्री आपकी राशि को भाव के अनु...

और पढ़ें ➜

क्या हैं श्री क...

भगवान विष्णु के अवतारों के बारे में तो आपने सुना होगा और साथ ही यह भी सुना होगा कि सभी अवतारों में भगवान श्री कृष्ण श्रेष्ठ अवतार थे क्योंकि वे संपूर्ण कला अवतार थे जबकि बाकि जन्मो...

और पढ़ें ➜

वित्तीय राशिफल ...

वैसे तो नया साल जनवरी से शुरु होता है लेकिन साल की सही मायने में शुरूआत तो वित्तीय वर्ष के साथ होती है। हो सकता है गत वित्तीय वर्ष में नोटबंदी से आपका आर्थिक जीवन प्रभावित हुआ हो। ...

और पढ़ें ➜

धन के लिये घर ल...

भारतीय वास्तु शास्त्र हो या चीनी वास्तु शास्त्र फेंगशुई, घर में सुख शांति व समृद्धि लाने के अनेक उपाय बताये गये हैं। सुख-शांति व समृद्धि के लिये धन एक बहुत ही जरूरी तत्व है। इसलिये...

और पढ़ें ➜

होली पर है चंद्...

होली का पर्व फाल्गुन पूर्णिमा को मनाया जाता है। होली का त्यौहार कई मायनों में खास होता है लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस होली पर राहु चंद्रमा के साथ रहेंगें जिससे चंद्र ग्रहण द...

और पढ़ें ➜

मांगलिक दोष - म...

मांगलिक यह शब्द सुनते ही विवाह का लड्डू किरकिरा नज़र आने लगता है। जिसके साथ विवाह होना है यदि उसकी कुंडली में यह दशा मौजूद हो तो वह जीवनसाथी नहीं जीवनघाती लगने लगता है। लेकिन बहुत ...

और पढ़ें ➜

क्या आप जानते ह...

घर से ऑफिस के लिए निकलते वक़्त आप सबसे पहले क्या सोचते हैं? यही ना कि “काश आज हम जल्दी ऑफिस पहुँच जायें! यार आज रास्ते में जाम और ट्रेफिक ना मिले.” और यह सोचने से होता क्या है? रास्...

और पढ़ें ➜

मां दुर्गा के 1...

मां दुर्गा जो इस चराचर जगत में शक्ति की संचारक हैं, जिनकी सत्ता से ही तमाम देवता शक्तिवान हैं।  मान्यता है कि मां दुर्गा का स्मरण मात्र करने से ही मां कष्टों का निवारण कर देती हैं।...

और पढ़ें ➜

यहां होती है श्...

कंस बहुत ही अत्याचारी और क्रूर था यह तो सभी जानते हैं। यह भी जानते हैं कि उसने सिंहासन पाने की खातिर अपने पिता तक को नहीं बख्शा। जिस बहन को वह अपने प्राणों से भी ज्यादा प्यार करता ...

और पढ़ें ➜

क्या होता अगर म...

महाभारत के बारे में तो आप जानते ही होंगे। आपने इसे पढ़ा नहीं होगा तो देखा जरूर होगा। देखा भी नहीं होगा तो भी लोगों की जुबानी इसकी कहानी व इसके पात्रों से आप जरूर परिचित होंगे। हिंद...

और पढ़ें ➜

हस्तरेखा और विव...

परिवार किसी भी व्यक्ति के जीवन में बहुत ही अहम भूमिका निभाता है और बिना विवाह के परिवार का बनना संभव नहीं है। वैसे भी एक उम्र के बाद हर व्यक्ति चाहे पुरुष हो अथवा महिला की इच्छा हो...

और पढ़ें ➜

बारिश की पूर्व ...

क्या आप कल्पना कर सकते हैं किसी ऐसे भवन की जिसकी छत चिलचिलाती धूप में टपकने लगे। बारिश की शुरुआत होते ही जिसकी छत से पानी टपकना बंद हो जाए। ये घटना है तो हैरान कर देने वाली लेकिन स...

और पढ़ें ➜

ब्रज की होली - ...

होली फाल्गुन मास का सबसे खास और हिंदू वर्ष का सबसे अंतिम त्यौहार होता है। अंतिम इसलिये क्योंकि फाल्गुन पूर्णिमा हिंदू वर्ष का अंतिम दिन माना जाता है और अगले दिन यानि चैत्र प्रतिपदा...

और पढ़ें ➜

कंस वध – कब और ...

मामा का रिश्ता देखता जाये तो बहुत ही सम्मान जनक रिश्ता होता है। मामा शब्द की ध्वनि में मां शब्द की ध्वनि का दो बार उच्चारण होता है। लेकिन हिंदूओं के पौराणिक इतिहास में दो मामा ऐसे ...

और पढ़ें ➜

दानवीर कर्ण थे ...

कर्ण जिन्हें सूर्यपुत्र, राधेय, वासुसेना, अंगराज, जैसे कई नामों से जाना जाता है, कर्ण जोकि अर्जुन से श्रेष्ठ धनुर्धर और महान यौद्धा था। जिसे धृतराष्ट्र के सारथी अधिरथ व उनकी पत्नी ...

और पढ़ें ➜

धन प्राप्ति के ...

भगवान श्री कृष्ण की अपने भक्तों पर विशेष अनुंकपा होती है। वे सखा के रूप में सुदामा का उद्धार करते हैं तो अर्जुन के सारथी बन उन्हें कर्तव्य पालन की प्रेरणा भी देते हैं। वे प्रेम में...

और पढ़ें ➜