Skip Navigation Links
मेष राशि में बुध - किसे देंगे लाभ व किन्हें मिलेगी तरक्की


मेष राशि में बुध - किसे देंगे लाभ व किन्हें मिलेगी तरक्की

बुध का मेष राशि में परिवर्तन हो रहा है। 3 मार्च से बुध मीन राशि में गोचर कर रहे हैं जहां वे 23 मार्च को वक्री हुए व उसके पश्चात 15 अप्रैल को पुन: उनकी चाल में बदलाव हुआ और वे मार्गी होकर गोचर करने लगे। मीन राशि में बुध को नीच राशि का माना जाता है। ज्योतिष शास्त्र में बुध को तकनीक, गणित, कम्यूनिकेशन स्किल, वाणी आदि का कारक माना जाता है। मीन राशि में बुध के रहते संभव है कुछ जातकों को अपनी लाइफ के विभिन्न पहलुओं में काफी कुछ बदलाव महसूस हुए हों। 9 मई को बुध अपनी राशि बदलकर मेष राशि में प्रवेश कर रहे हैं। ऐसे में मीन राशि से मेष में बुध का गोचर राशिनुसार आपके लिये कैसे परिणाम लेकर आ रहा है आइये जानते हैं।


मेष में बुध का गोचर – ये होगा असर सभी राशियों पर

मेष

बुध का परिवर्तन आपकी ही राशि में हो रहा है। संभव है इस समय आपका रुझान आध्यात्मिक क्रियाओं की ओर कम ही रहे। गीत-संगीत में आपकी रूचि बढ़ने के आसार हैं। बुध का यह राशि परिवर्तन मेष राशि वालों को अपनी सेहत के प्रति सचेत रहने के संकेत कर रहा है साथ ही फाइनेंशियल डीसीज़न भी आपको सोच समझकर लेने की आवश्यकता रहेगी। कुल मिलाकर हेल्थ और वेल्थ के मामले में बुध कमजोर हैं। आपके स्वाभाव में भी उतार-चढ़ाव इस दौरान होते रहेंगें।

वृषभ

वृषभ राशि वालों के लिये बुध व्यय भाव में प्रवेश कर रहे हैं। 12वें भाव में बुध हानि के संकेत कर रहे हैं। इस समय आपको अपनी मेंटल हेल्थ पर थोड़ा ध्यान रखने की आवश्यकता रहेगी। ध्यान व योग क्रियाओं के लिये समय निकालना आपको राहत दे सकता है। आपके खर्चों में बढ़ोतरी की संभावना है नियंत्रित करने का प्रयास करें।

मिथुन

बुध आपकी राशि के स्वामी भी हैं। राशि स्वामी बुध का आपकी राशि से लाभ घर में आना आपके लिये सौभाग्यशाली कहा जा सकता है। बुध के कर्मभाव में नीच होकर गोचर करने से आपको कामकाज के दौरान जिन परेशानियों का सामना करना पड़ा है उनसे आपको राहत मिल सकती है और आपके कामकाजी जीवन में तेजी आ सकती है। रूके हुए कार्य पूरे होने के आसार हैं। गत दिनों किये गये निवेश से भी लाभ मिलने के आसार हैं। किसी चर्चित हस्ति से मुलाकात का अवसर मिल सकता है। कुल मिलाकर यह समय आपके लिये अनुकूल कहा जा सकता है।

कर्क

कर्क राशि वालों के बुध का प्रवेश कर्मभाव में हो रहा है। जो जातक किसी नई परियोजना में निवेश करना चाहते हैं, व्यवसाय में परिवर्तन करना चाहते हैं उनके लिये बुध बेहतर अवसर लेकर आ सकते हैं। अपने करियर की शुरुआत करने जा रहे जातकों को भी नई जॉब का ऑफर आ सकता है। इस समय आप कुछ अलग करने के बारे में सोच सकते हैं। आपके जहन में नये-नये आइडियाज़ आ सकते हैं। विशेषकर स्टॉक, शेयर मार्किट से जुड़े जातकों के लिये हमारी सलाह है कि बहकावों में आने और ख़याली पुलाव पकाने से बचने का प्रयास करें।

सिंह

आपकी राशि से बुध का परिवर्तन भाग्य स्थान हो रहा है जो कि आपके लिये अच्छे समय के संकेत कर रहा है। बुध आपकी फाइनेंशियल कंडीशन में सुधार के संकेत तो कर ही रहे हैं साथ ही रोमांटिक लाइफ में आपके लिये अच्छे योग बन रहे हैं। यदि अभी तक आप एकांत प्रिय जीवन व्यतीत कर रहे हैं तो आपको ऐसा पार्टनर अपनी लाइफ में मिल सकता है जो आगामी समय में आपके लिये काफी हेल्पफुल रहे।

कन्या

राशि स्वामी बुध आपकी राशि से अष्टम भाव में आ रहे हैं। इस समय आपको अपनी सेहत का ध्यान रखने की आवश्यकता रहेगी। आपकी पर्सनल लाइफ प्रोफेशनल लाइफ को प्रभावित कर सकती है। इस समय आपको अपनी प्रोफेशनल लाइफ में विशेष रूप से सतर्क रहने की आवश्यकता रहेगी। काम में एकाग्रता रखें। लापरवाही आपको मंहगी पड़ सकती है। बढ़ते हुए खर्च भी आपकी चिंता बढ़ा सकते हैं। संभव है इस समय आपका मूड भी अपसेट रहे। हमारी सलाह है कि इस समय संयम व विवेक से काम लेने में ही भलाई है।

तुला

तुला राशि वालों के लिये बुध का परिवर्तन सप्तम भाव में हो रहा है। बुध का यह गोचर आपकी पर्सनल लाइफ में परेशानियों के संकेत कर रहा है। अपने लाइफ पार्टनर की सेहत का ध्यान रखने की आवश्यकता है। उनकी सेहत के प्रति लापरवाही आपको चिंतित कर सकती है। हालांकि आपका स्वास्थ्य अच्छा रहने के आसार हैं। प्रोफेशनल लाइफ में यह समय आपके लिये सकारात्मक परिणाम लेकर आ सकता है। कार्योन्नति की उम्मीद कर सकते हैं।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि वालों के लिये बुध का छठे घर में आना आपकी सेहत के लिये अच्छा कहा जा सकता है। गत दिनों यदि किसी रोग से ग्रस्त रहे हैं तो राहत मिल सकती है। इस समय आपको अपने प्रतिस्पर्धियों से सचेत रहने की आवश्यकता रहेगी। आपके लिये सलाह है कि इधर-उधर की बातें सुनने कि बजाय अपने काम से काम रखें। कार्यस्थल पर सहकर्मियों के साथ आपके संबंध मधुर रहने के आसार हैं जिससे संभव है आप अपने लक्ष्यों को हासिल कर लें।

धनु

आपकी राशि से बुध का परिवर्तन पंचम भाव में हो रहा है। इस समय आपको पर्सनल लाइफ में मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। शिक्षा, संतान व प्रेम संबंध के मामले में विशेष रूप से सचेत रहें। इस दौरान आपको किसी सामाजिक समारोह में शामिल होना पड़ सकता है। इस समय आपके लिये नाम व प्रसिद्धि पाने के योग भी बन रहे हैं। इस समय आप अपने विवेकपूर्ण निर्णयों से दूसरों को अपना मुरीद बना सकते हैं।

मकर

आपकी राशि से बुध सुख भाव में आ रहे हैं। जो जातक लंबे समय से अपना घर होने का सपना संजो रहे हैं। उनके लिये बहुत ही अच्छे योग बन रहे हैं। यह समय आपके लिये नये घर में प्रवेश करने का है। घर की साज-सज्जा कर अपने घर में कुछ बदलाव भी कर सकते हैं। दोस्तों व परिजनों का इस दौरान आपको सहयोग मिलने के आसार हैं। आस-पड़ोस में भी लोगों से आपके संबंधों में सुधार आयेगा। यदि किसी के साथ मतभेद चल रहा है तो वह दूर होने के आसार हैं।

कुंभ

आपकी राशि से बुध का परिवर्तन तीसरे स्थान में हो रहा है। जो जातक किसी प्रोफेशनल कोर्स में प्रवेश पाना चाहते हैं उनके लिये यह समय काफी अच्छे संकेत कर रहा है। पराक्रम भाव में बुध आपको अपनी सेहत का ध्यान रखने के प्रति आगाह कर रहे हैं। साथ ही अपनी फाइनेंशियल कंडीशन पर भी नज़र बनाये रखें। अनावश्यक खर्चों से जितना हो सके बचने का प्रयास करें।

मीन

मीन राशि से ही बुध का परिवर्तन हो रहा है। धन भाव में बुध के आने से यह समय आपके लिये धन लाभ के योग बना रहा है। इस समय आप उत्साह से भरे रहेंगें। आपकी संचार कुशलता में भी गज़ब का सुधार होने के आसार हैं। इस समय आपकी बातों का जादू सर चढ़ कर बोल सकता है। मीडिया क्षेत्र से जुड़े जातकों के लिये विशेष रूप से सौभाग्यशाली समय रह सकता है। यदि धन निवेश करने का विचार बना रहे हैं तो समय बहुत अच्छा है। धन लाभ की उम्मीद कर सकते हैं।


बुध का यह गोचर आपकी कुंडली के अनुसार नेगेटिव है या पोजीटिव? गाइडेंस लें इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से। परामर्श करने के लिये यहां क्लिक करें।


यह भी पढ़ें

ग्रह गोचर 2018   |   बुध कैसे बने चंद्रमा के पुत्र ? पढ़ें पौराणिक कथा   |  बुध गोचर 2018




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

शुक्र मार्गी - शुक्र की बदल रही है चाल! क्या होगा हाल? जानिए राशिफल

शुक्र मार्गी - शुक...

शुक्र ग्रह वर्तमान में अपनी ही राशि तुला में चल रहे हैं। 1 सितंबर को शुक्र ने तुला राशि में प्रवेश किया था व 6 अक्तूबर को शुक्र की चाल उल्टी हो गई थी यानि शुक्र वक्र...

और पढ़ें...
वृश्चिक सक्रांति - सूर्य, गुरु व बुध का साथ! कैसे रहेंगें हालात जानिए राशिफल?

वृश्चिक सक्रांति -...

16 नवंबर को ज्योतिष के नज़रिये से ग्रहों की चाल में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव हो रहे हैं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार ग्रहों की चाल मानव जीवन पर व्यापक प्रभाव डालती है। इस द...

और पढ़ें...
कार्तिक पूर्णिमा – बहुत खास है यह पूर्णिमा!

कार्तिक पूर्णिमा –...

हिंदू पंचांग मास में कार्तिक माह का विशेष महत्व होता है। कृष्ण पक्ष में जहां धनतेरस से लेकर दीपावली जैसे महापर्व आते हैं तो शुक्ल पक्ष में भी गोवर्धन पूजा, भैया दूज ...

और पढ़ें...
गोपाष्टमी 2018 – गो पूजन का एक पवित्र दिन

गोपाष्टमी 2018 – ग...

गोपाष्टमी,  ब्रज  में भारतीय संस्कृति  का एक प्रमुख पर्व है।  गायों  की रक्षा करने के कारण भगवान श्री कृष्ण जी का अतिप्रिय नाम 'गोविन्द' पड़ा। कार्तिक शुक्ल ...

और पढ़ें...
देवोत्थान एकादशी 2018 - देवोत्थान एकादशी व्रत पूजा विधि व मुहूर्त

देवोत्थान एकादशी 2...

देवशयनी एकादशी के बाद भगवान श्री हरि यानि की विष्णु जी चार मास के लिये सो जाते हैं ऐसे में जिस दिन वे अपनी निद्रा से जागते हैं तो वह दिन अपने आप में ही भाग्यशाली हो ...

और पढ़ें...