क्या आप भी जन्मे हैं सितंबर महीने में? तो जानिए अपना स्वभाव

07 सितम्बर 2020

ज्योतिषशास्त्र में माना जाता है कि हर दिन और हर महीना का एक खास महत्व रखता है। यही विशिष्टता इनमें जन्में लोगों के अंदर के गुण और स्वभाव में देखी जा सकती है। अभी सितंबर का महीना चल रहा है तो ऐसे में हम आपको सितंबर के महीने में जन्में व्यक्तियों के व्यक्तित्व और उनके स्वभाव के बारे में बताएंगे। सितंबर में पैदा हुए लोगों की राशि कन्या होती है, जिसका स्वामी बुध होता है। 

 

द्वि स्वभाव की होती है कन्या राशि

ज्योतिषशास्त्र में कहा जाता है कि कन्या राशि द्वि-स्वभाव की होती है। बुध के सूर्य, गुरु और चंद्र मित्र होते हैं और शनि शत्रु बताए जाते हैं। यही वजह है कि इस राशिवालों की सूर्य, चंद्र और गुरु राशि प्रधान व्यक्तियों से काफी अच्छी दोस्ती होती है।

यदि जन्म के महीने के अनुसार जानना चाहते हैं अपना स्वभाव तो एस्ट्रोयोगी  पर देश के जाने माने एस्ट्रोलॉजर्स से लें गाइडेंस। अभी बात करने के लिये यहां क्लिक करें।

 

सितंबर में जन्मे लोगों का स्वभाव

ज्योतिषशास्त्र की बात करें तो कन्या राशि के लोग वैसे तो काफी उदार स्वभाव के होते हैं। इसके साथ ही ये खुद को काफी महत्व देते हैं। यही कारण है कि कोई इनके खिलाफ कुछ कह दे तो ये इनसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं होता।इसके साथ ही ये लोग सनकी स्वभाव के भी होते हैं। यानी अगर इन्होंने कुछ करने की ठान ली तो उसको बिना करे पीछे नहीं हटते हैं। इन लोगों में किसी के पीछे पड़ने की प्रवृति होती है। अगर इसमें सुधार हो जाए तो ऐसे लोग शानदार माने जाएंगे।

 

सितंबर में जन्म लेने वाले लोगों की विशेषताएं-

 

1. काम को लेकर सनकी होते हैं ये लोग

सितंबर में जन्म अर्थात कन्या राशि के लोगों में किसी भी चीज को सीखने की ललक काफी होती है। अपने आप को आगे बढ़ाना भी इनको बखूबी आता है। इनके अंदर की लगन ऐसी है कि अगर ठान लें तो 24 घंटे भी बिना खाए-पीए काम करते रहें। इनकी सनक ही ऐसी है कि जो काम सोच लिया उसे तो बस पूरा करके ही दम लेना है। हालांकि, इनमें एक खराब आदत ये है कि इन्हें अपने हर काम की गुणगान सुनना पसंद है, अगर तारीफ न हो तो ये बुरा मान जाते हैं। यही वजह है कि कई चाटुकार आपकी इस आदत का फायदा उठा लेते हैं।

 

2. गुस्सैल और तानाशाही का संगम

इस राशि के लोगों में काफी गुस्सा भरा होता है। इनके खिलाफ किसी ने जरा सी कोई बुरी बात कही तो इनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच जाता है। हालांकि, इन्हें ऐसी गलतफहमी होती है कि इनसे ज्यादा विनम्र कोई भी नहीं है। इनके रग-रग में तानाशाही समाई होती है। 

 

3. स्वार्थी और अहंकारी

ये लोग काफी एनर्जेटिक यानी उर्जावान होते हैं, लेकिन अक्सर इनमें अहंकार भरा होता है। बाकी बातें छोड़े इन्हें तो अपने प्यार का इजहार करने में भी अहंकार बाधा डालता है। इसके साथ ही ये लोग अपनी तरक्की के लिए स्वार्थी भी होते हैं। इनके सबसे करीबी और घनिष्ट दोस्तों को भी कभी पता नहीं चल पाता है कि इनके दिल में कब क्या चल रहा होता है। हालांकि, जब बात अपने काम की हो तो दूसरों के पीछे पड़कर किस तरह काम लेना है, ये इन्हें बिल्कुल अच्छी तरह पता है। इन्हें अपने करीबियों से अपने लिए काफी अपेक्षाएं रहती हैं। 

 

4. अप टू डेट रहने की आदत और मेहनती

कन्या राशि वाले खुद को समय के साथ ढालने में माहिर होते हैं। इनकी अप टू डेट रहने की आदत ऐसी है कि इनका सभी काम अप-टू-मार्क होता है। इस राशि के लोग काफी मेहनती भी होते हैं। अपने लक्ष्य को पाने के लिए इन्हें काफी संघर्ष भी करना पड़ता है। लेकिन, इनकी हिम्मत कभी भी चुनौतियों के आगे हिलती नहीं है।

 

कन्या राशि वालों की आर्थिक और करियर की स्थिति

अपनी मेहनत के दम पर ये कुछ भी हासिल कर सकते हैं। इन लोगों का दिमाग कंप्यूटर की तरह तेज होता है। गुपचुप तरीके से ये लोग योजना बनाते हैं और अचानक सफलता से सभी लोगों को चौंका देते हैं। अपने करियर के मामले में ये लोग हमेशा शीर्ष स्थान प्राप्त करते हैं। हालांकि, फिर भी किसी एक क्षेत्र में इनको खालीपन हाथ लग सकता है। ऐसे में देखा गया है कि सिंतबर के लोग असंतुष्ट प्राणी भी होते हैं। अगर हर समय इनको कुछ नया नहीं मिलता है तो ये अपने आप में ही काफी कुंठित भी रहते हैं। देखा गया है कि सितंबर में जन्मे लोग बेहतरीन सिंगर, राइटर, एडिटर या साइंटिस्ट निकलते हैं। इन क्षेत्रों में इनको अपार सफलता मिलती है। 

 

कन्या राशि वालों का संबंध और पार्टनर के मामले में भाग्य

कन्या राशि के लोग रोमांटिक स्वभाव के होते हैं। करियर में टॉप रहने के बावजूद ये लोग प्यार के मामले में फिसड्डी होते हैं। यही नहीं अगर प्यार भरपूर रहता है तो भी उसकी मंजिल शादी तक नहीं मिल पाती है।दरअसल, इस राशि की लड़कियां इधर की उधर करने में काफी माहिर होती हैं। साथ ही सुंदरता का भंडार होने के बावजूद भी प्यार के मामले में ये लोग कमजोर ही निकलते हैं। कन्या राशि की लड़कियां सच्चे प्यार की परख किए बिना किसी गलत के लिए सबकुछ लुटा देती हैं। इस राशि के लोगों में यौन इच्छाएं भी प्रबल रहती हैं। इन्हें अपने प्यार के मामले में किसी तरह की रोकटोक पसंद नहीं है। ये लोग अपने पार्टनर के लिए हमेशा ईमानदार रहते हैं।

 

बात अन्य रिश्तों की करें तो इनकी फैमिली इनके लिए लकी चार्म होती है। फैमिली ही ताकत और फैमिली ही इनकी सबसे बड़ी कमजोरी होती है। ये लोग अपनी फैमिली के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं। फैमिली का साथ हो तो ये किसी भी हालात से लड़ सकते हैं।

एस्ट्रो लेख

ज्येष्ठ पूर्णिमा 2021 – वट पूर्णिमा व्रत का महत्व व पूजा विधि

आषाढ़ माह 2021 – जानें आषाढ़ माह के व्रत व त्यौहार

कबीर जयंती 2021 – जात जुलाहा नाम कबीरा

शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन - जानिए किन राशियों की बदलने वाली है किस्मत

Chat now for Support
Support