एस्ट्रो लेख

हरिद्वार – हरि ...

भारत में धार्मिक स्थलों का जब भी जिक्र आता है तो एक स्थल, एक नाम बरबस ही अपनी और आकर्षित करता है। एक ऐसी नगरी जिसे धर्मनगरी माना जाता है। एक ऐसा स्थल जहां मां गंगा पथरीले रास्तों स...

और पढ़ें ➜

हाथ में तलवार औ...

मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले में श्री रणजीत हनुमान मंदिर में पूरे साल लाखों लोग जीत का आशीर्वाद लेने आते हैं। हनुमान जी के इस मंदिर के बारे में बोला जाता है कि यहाँ जीत प्रसाद के रूप ...

और पढ़ें ➜

हिंदू देवी देवत...

कुछ भ्रम लोगों में ऐसे फैल चुके होते हैं कि एक समय के बाद वे सच लगने लगते हैं। लोगों को सच्चाई से रुबरु करवाने के बाद भी वे बने रहते हैं। ऐसा ही एक भ्रम है हिंदू देवी-देवाओं की संख...

और पढ़ें ➜

धार्मिक स्थलों ...

हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई या फिर दुनिया के अन्य धर्म। सभी धर्मों में धार्मिक स्थलों का महत्व बहुत अधिक माना जाता है। हम किसी भी धार्मिक स्थल पर जाते हैं तो हम अपने अंदर एक आंतरिक श...

और पढ़ें ➜

शिव मंदिर – भार...

सावन का महीना आ चुका है और इस पावन महीने में भगवान शिव की आराधना करने का पुण्य बहुत अधिक मिलता है। शिवभक्तों के लिये तो यह महीना बहुत खास होता है। हरिद्वार से बम-बम भोले के जयकारे ...

और पढ़ें ➜

शनिदेव - कैसे ह...

अक्सर शनि का नाम सुनते ही शामत नजर आने लगती है, सहमने लग जाते हैं, शनि के प्रकोप का खौफ खा जाते हैं। कुल मिलाकर शनि को क्रूर ग्रह माना जाता है लेकिन असल में ऐसा है नहीं। ज्योतिषशास...

और पढ़ें ➜

ब्रह्म मुहूर्त ...

यह तो सभी जानते हैं कि दिन और रात का चक्कर 24 घंटे में पूरा होता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि इन 24 घंटों में हर 48वें मिनट में मुहूर्त बदलता है। अब आप मुहूर्त के बारे में सोच रहे...

और पढ़ें ➜

शक्तिपीठ की कहा...

हिंदू धर्म के पुराणों के अनुसार दुनियाभर में देवी की 51 शक्तिपीठ हैं। हालांकि देवीभागवत में 108 व देवी गीता में 72 तो तंत्रचूडामणि में 52 शक्ति पीठ बताए गए हैं। इन शक्तिपीठों में स...

और पढ़ें ➜

देवीपाटन का मां...

भारत के धार्मिक स्थल विशेषकर मंदिर एक से बढ़कर एक रहस्य अपने में समेटे हुए हैं। ऐसा ही एक मंदिर है उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जनपद के पाटन गांव में सिरिया नदी के तट पर स्थित मां पाटे...

और पढ़ें ➜

शिरडी साई बाबा ...

पूरी दुनिया में आध्यात्मिकता की अलख जगाने में भारत का अहम योगदान है। भारत के मंदिर आध्यात्मिकता के केंद्र माने जाते हैं। स्थापत्य कला के भी एक से बढ़ कर एक नमूने इन मंदिरों, मंदिर ...

और पढ़ें ➜

हिंदू क्यों करत...

शंख हिंदू धर्म में बहुत ही पवित्र माना जाता है। जैसे इस्लाम में अज़ान देकर अल्लाह या खुदा का आह्वान किया जाता है उसी तरह हिंदूओं में शंख ध्वनि से भी देवताओं का आह्वान किया जाता है।...

और पढ़ें ➜

श्री कृष्ण - भक...

बचपन से लेकर मृत्यु तक यदि किसी देवता का जीवन चमत्कारों से भरा है तो वो हैं स्वंय भगवान विष्णु के अवतार भगवान श्री कृष्ण जी। जो कभी सखा तो कभी प्रेमी कभी रक्षक तो कभी मार्गदर्शक बन...

और पढ़ें ➜

गणेश परिवार की ...

भगवान गणेश विघ्नहर्ता माने जाते हैं। किसी भी कार्य के करने से पहले सर्वप्रथम भगवान गणेश का नाम लिया जाता है यहां तक शुरुआत करने को ही श्री गणेश कहा जाता है। गणपति की महिमा को सभी ज...

और पढ़ें ➜

सुख समृद्धि और ...

प्रभु श्री राम के भक्त हनुमान की महिमा को तो सभी जानते हैं। बजरंग बलि हनुमान संकट मोचन कहलाते हैं। उन्हें प्रसन्न करने के अनेक माध्यम हैं। इन्हीं में एक है हनुमान चालीसा। आइये जानत...

और पढ़ें ➜

भगवान विष्णु को...

वैसे तो पूरे भारतवर्ष को ही तीर्थों का स्थल कहा जाये तो कुछ भी गलत नहीं होगा। चूंकि हिंदू धर्म के मानने वालों की संख्या बहुतायत में है इसलिये हिंदुओं की आस्था के केंद्र भी अधिक मिल...

और पढ़ें ➜

शुभ मुहूर्त - क...

कौन नहीं चाहता कि जो भी काम वह करे उसमें सफलता हासिल हो और उसके सकारात्मक परिणाम मिलेंं। आप भी जब किसी कार्य की शुरुआत करने के बारे में सोचते हैं तो समय और परिस्थितियों का आकलन करत...

और पढ़ें ➜

शनिदेव - क्यों ...

शनिदेव जिन्हें आम तौर पर क्रूर माना जाता है असल में वे वैसे हैं नहीं वे तो न्याय प्रिय देवता हैं जो पापियों को उनके पाप का दंड देते हैं। ज्योतिष के अनुसार शनिदेव और सूर्यदेव की आपस...

और पढ़ें ➜

रामेश्वरम धाम –...

चार दिशाओं में स्थित चार धाम हिंदुओं की आस्था के केंद्र ही नहीं बल्कि पौराणिक इतिहास का आख्यान भी हैं। जिस प्रकार धातुओं में सोना, रत्नों में हीरा, प्राणियों में इंसान अद्भुत होते ...

और पढ़ें ➜

स्वस्तिक – बहुत...

हिंदू धर्म में बहुत सारे देवी-देवता हैं और इन देवी-देवताओं के बहुत सारे प्रतीक चिन्ह भी हैं। इसी प्रकार तमाम देवी-देवताओं को प्रसन्न करने के लिये मंत्र भी हैं। इसी प्रकार ऊं की ध्व...

और पढ़ें ➜

कुंडली में ये श...

भले ही विज्ञान ग्रहों को सिर्फ सौर परिवार का हिस्सा मानता हो, लेकिन ज्योतिषशास्त्र की दृष्टि से ये सिर्फ सौर परिवार का हिस्सा नहीं हैं, बल्कि समस्त चराचर जगत की गतिविधियां इनसे प्र...

और पढ़ें ➜