Ank Jyotish: जन्म तिथि का आपके भविष्य पर प्रभाव

Tue, Jun 25, 2024
टीम एस्ट्रोयोगी
 टीम एस्ट्रोयोगी के द्वारा
Tue, Jun 25, 2024
Team Astroyogi
 टीम एस्ट्रोयोगी के द्वारा
article view
480
Ank Jyotish: जन्म तिथि का आपके भविष्य पर प्रभाव

Ank Jyotish: क्या आप जानते हैं कि आपकी जन्मतिथि भी आपका भविष्य बता सकती है? जी हां, हैरान मत होइए, इसे अंक ज्योतिष कहते हैं। इस पद्धति में मूलांक और भाग्यांक के जरिए आप अपना भविष्य जान सकते हैं। जन्म तिथि, जन्म माह और जन्म वर्ष का कुल योग भाग्यांक कहलाता है। आज एस्ट्रोयोगी के बेस्ट ज्योतिषियों के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि कैसे अंक ज्योतिष के जरिए आप अपना भाग्य जान सकते हैं।

जन्म तिथि का महत्व

जन्म तिथि का ज्योतिष और अंक ज्योतिष (Ank Jyotish) में काफी महत्व होता है। यह न केवल आपके व्यक्तित्व को प्रभावित करती है, बल्कि आपके जीवन पथ को भी निर्धारित करती है। जन्म तिथि और जीवन पथ का गहरा संबंध होता है। अंक ज्योतिष के अनुसार, आपकी जन्म तिथि आपके जीवन की दिशा और लक्ष्य को प्रभावित करती है।

क्या है मूलांक?

उदाहरण के लिए, अगर आपकी जन्म तारीख 23 मार्च है, तो आपकी जन्म तारीख के अंकों का योग 2+3=5 होता है। यानी उस व्यक्ति का मूलांक 5 कहा जाएगा। अगर किसी व्यक्ति की जन्मतिथि 22 है, तो उसका मूलांक 2+2=4 होगा।

क्या होता है भाग्यांक?

इसमें जन्मतिथि, जन्म माह और जन्म वर्ष का कुल योग निकाला जाता है। जैसे अगर किसी का जन्म 22-04-1996 को हुआ है, तो इन सभी अंकों का योग उसका भाग्यांक कहलाएगा। उदाहरण के लिए, 2+2+0+4+1+9+9+6=33 और 3+3=6 यानी इसका भाग्यांक 6 है। आइए जानें आपका भविष्य:

जन्म तिथि और जीवन पथ

जन्म तिथि और जीवन पथ का गहरा संबंध होता है। अंक ज्योतिष के अनुसार, आपकी जन्म तिथि आपके जीवन की दिशा और लक्ष्य को प्रभावित करती है।

जन्म तिथि के अनुसार व्यक्तित्व

अंक ज्योतिष के माध्यम से आपकी जन्म तिथि (Date Of Birth) आपके व्यक्तित्व के विभिन्न पहलुओं को उजागर करती है। यह आपको अपने स्वभाव, आदतें और जीवन के प्रति दृष्टिकोण को समझने में मदद करती है।

एस्ट्रोयोगी ऐप पर एस्ट्रोलॉजर्स से कंसल्ट करना एकदम आसान है। अभी ऐप डाउनलोड करें और एक सरल और सहज अनुभव का आनंद लें। 

मूलांक-1

जन्म तिथियाँ: 1, 10, 19, 28

विशेषताएँ: मूलांक 1 (Mulank 1) के लोग नेतृत्व क्षमता वाले, आत्मविश्वासी और स्वतंत्र विचारधारा के होते हैं। आप लोग अपनी राह खुद बनाते हैं और किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार रहते हैं। इनका स्वभाव दृढ़ और साहसी होता है।

उपाय: आपको केसर का तिलक लगाना चाहिए।

मूलांक-2

जन्म तिथियाँ: 2, 11, 20, 29

विशेषताएँ: मूलांक 2 (Mulank 2) के लोग संवेदनशील, सहानुभूतिपूर्ण और कलात्मक स्वभाव के होते हैं। आप लोग दूसरों की भावनाओं को अच्छी तरह समझते हैं और उनके साथ सहयोग करने में विश्वास रखते हैं। चंद्रमा के प्रभाव से इनकी कल्पनाशक्ति प्रबल होती है।

उपाय: मंदिर में चावल दान करें।

मूलांक-3

जन्म तिथियाँ: 3, 12, 21, 30

विशेषताएँ: मूलांक 3 (Mulank 3) के लोग बुद्धिमान, महत्वाकांक्षी और साहसी होते हैं। ये लोग जीवन में बड़ी सफलताएँ प्राप्त करने के लिए मेहनत करते हैं। इनका स्वभाव मृदुभाषी और मिलनसार होता है।

उपाय: पीपल के वृक्ष को जल दें।

मूलांक-4

जन्म तिथियाँ: 4, 13, 22, 31

विशेषताएँ: मूलांक 4 (Mulank 4) के लोग व्यावहारिक, तर्कसंगत और मेहनती होते हैं। ये लोग किसी भी कार्य को सही ढंग से करने में विश्वास रखते हैं और अनुशासन को प्राथमिकता देते हैं। राहु के प्रभाव से इनका जीवन कुछ उतार-चढ़ाव भरा हो सकता है।

उपाय: गले में पीले रंग का धागा पहनें।

यह भी पढ़ें: राहु केतु का गोचर दो राशियों के लिए होगा खास

मूलांक-5

जन्म तिथियाँ: 5, 14, 23

विशेषताएँ: मूलांक 5 (Mulank 5) के लोग उत्साही, मिलनसार और बुद्धिमान होते हैं। ये लोग नई-नई चीजों को सीखने और अनुभव करने के लिए उत्सुक रहते हैं। बुध के प्रभाव से ये लोग अच्छे वक्ता और योजनाकार होते हैं।

उपाय: दुर्गा मां की प्रतिमा पर पीले रंग के फूलों की माला चढ़ाएं।

मूलांक-6

जन्म तिथियाँ: 6, 15, 24

विशेषताएँ: मूलांक 6 (Mulank 6) के लोग सौंदर्यप्रिय, विनम्र और कलात्मक स्वभाव के होते हैं। ये लोग अपने जीवन में सामंजस्य और संतुलन बनाए रखने में विश्वास रखते हैं। शुक्र के प्रभाव से इनका जीवन प्रेम और सौंदर्य से भरा होता है।

उपाय: गाय का घी मंदिर में दान करें।

मूलांक-7

जन्म तिथियाँ: 7, 16, 25

विशेषताएँ: मूलांक 7 (Mulank 7) के लोग गहरे विचारक, आध्यात्मिक और स्वतंत्र स्वभाव के होते हैं। ये लोग जीवन के गूढ़ रहस्यों को समझने में रुचि रखते हैं। केतु के प्रभाव से इनका जीवन आध्यात्मिकता की ओर अग्रसर होता है।

उपाय: केले का दान मंदिर में करें।

मूलांक-8

जन्म तिथियाँ: 8, 17, 26

विशेषताएँ: मूलांक 8 (Mulank 8) के लोग गंभीर, संयमी और अनुशासनप्रिय होते हैं। ये लोग अपने जीवन में कठिनाइयों का सामना धैर्य और दृढ़ता से करते हैं। शनि के प्रभाव से इनका जीवन संघर्षपूर्ण हो सकता है, लेकिन ये लोग मेहनत से सफलता प्राप्त करते हैं।

उपाय: कौए को नमकीन गाठिया खिलाएं।

मूलांक-9

जन्म तिथियाँ: 9, 18, 27

विशेषताएँ: मूलांक 9 (Mulank 9) के लोग ऊर्जावान, साहसी और स्वतंत्र विचारधारा के होते हैं। ये लोग किसी भी कार्य को पूर्ण करने के लिए संकल्पित रहते हैं। मंगल के प्रभाव से इनका स्वभाव जोशीला और दृढ़ होता है।

उपाय: तांबे के लोटे से सूर्य को जल दें।

अंक ज्योतिष के जरिए आप अपनी जन्मतिथि से न केवल अपने व्यक्तित्व को समझ सकते हैं, बल्कि अपने भविष्य की दिशा भी तय कर सकते हैं। एस्ट्रोयोगी के एक्सपर्ट एस्ट्रोलॉजर से परामर्श लें और अपनी जीवन यात्रा को सफल बनाएं।

article tag
Numerology
article tag
Numerology
नये लेख

आपके पसंदीदा लेख

अपनी रुचि का अन्वेषण करें
आपका एक्सपीरियंस कैसा रहा?
facebook whatsapp twitter
ट्रेंडिंग लेख

ट्रेंडिंग लेख

और देखें

यह भी देखें!