नामकरण शुभ मुहूर्त 2020 - शुभ तिथि और नक्षत्र में रखे अपने बच्चे का नाम

हिंदू धर्म में जातक के जन्म से लेकर मृत्यु तक 16 तरह के संस्कारों का प्रावधान है, लेकिन आजकल मॉर्डन माता-पिता बिना नामकरण संस्कार के ही बच्चे का नाम रख देते हैं। दरअसल मॉर्डन माता-पिता को नहीं पता होता है कि किसी नवजात का नाम रखना कितना महत्वपूर्ण होता है क्योंकि नवजात के नाम से ही उसके कार्मों का पता चलता है क्योंकि कहावत है कि जैसा नाम वैसा काम। इसलिए हिंदू धर्म में नाम रखने के लिए भी एक समारोह किया जाता है जिसे नामकरण संस्कार के नाम से जाना जाता है। ज्योतिष के अनुसार, जातक का जन्म जिस नक्षत्र में हुआ है उसके अनुसार ही नाम रखना चाहिए।  

 

विधिविधान के साथ नामकरण संस्कार करने के लिए आप हमारे ज्योतिषाचार्यों से परामर्श कर सकते हैं। ज्योतिषियों से बात करने के लिये यहां क्लिक करें।

 

नामकरण संस्कार शुभ मुहूर्त 2020

हिंदू परंपरा के अनुसार, जातक के जन्म के 11वें या 12वें दिन नामकरण संस्कार संपन्न करा लेना चाहिए। यह संस्कार सूतक के बाद ही संपन्न कराया जाता है। तिथि के मुताबिक, चतुर्थी, नवमी और चतुर्दशी और अमावस्या तिथि को यह संस्कार नहीं करना चाहिए। वहीं हफ्ते में सोमवार, बुधवार, गुरुवार और शुक्रवार का दिन शुभ माना जाता है। इसके अलावा अश्वनी, शतभिषा, स्वाति, चित्रा, रेवती, हस्त, पुष्य, रोहिणी, मृगशिरा और अनुराधा, उत्तराषाढ़ा, उत्तराफ़ाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, श्रवण नक्षत्रों को नामकरण संस्कार के लिए बेहद शुभ माना जाता है। ज्योतिष के आधार पर, जातक के इस संस्कार में दो नाम रखे जाते हैं, पहला गुप्त नाम और दूसरा प्रचलित नाम। यदि किसी बच्चे का जन्म 2020 में हुआ है और आप उसका नाम रखने की सोच रहे हैं तो हम आपको नामकरण संस्कार समारोह के शुभ मुहूर्त के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।


नामकरण संस्कार के शुभ मुहूर्त -

  • जनवरी माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - 02,08,15,16,17,20,27,29,30 और 31 जनवरी 2020 को नामकरण संस्कार का शुभ मुहूर्त है। 

  • फरवरी माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - फरवरी में 07,13,14,21,24,26 और 28 तारीख को नामकरण के लिये शुभ मुहूर्त निकल सकता है।

  • मार्च माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - 05,06,11,013,19,20,25,26 और 30  तिथि मार्च में नामकरण के लिये शुभ रहेंगी। 

  • अप्रैल माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - 03,06,08,09,16,17,20,23,27,29 और 30 तारीख अप्रैल में नामकरण संस्कार के लिये उपयुक्त हैं। 

  • मई माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त -04,08,13,14,18,20,25,27 और 28 मई को नामकरण के शुभ मुहूर्त हैं। 

  • जून माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त -  01,03,10,11,12,15,17,19,22 और 24 जून को नामकरण संस्कार के लिए शुभ तिथि है।

  • जुलाई माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - 02,09,16,17,27,29 और 30 को जुलाई माह में नाम रखने के लिए शुभ मुहूर्त निकल सकते हैं।  

  • अगस्त माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - 05,06,10,13,14,17,21,24 और 31 अगस्त में नामकरण के लिए शुभ तिथि हैं। 

  • सितंबर माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - सितंबर माह में 02,04,09,14,17,18 एवं 28 नामकरण संस्कार के लिए शुभ मुहूर्त हैं। 

  • अक्टूबर माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - अक्टूबर माह में  नामकरण के लिए 02, 08,15,19,23,26,28 व 29 शुभ मुहूर्त हैं। 

  • नवंबर माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त - 06,12,13,16,19,20,25,26,27  और 30 नवंबर में नामकरण के लिेए शुभ तिथि हैं।

  • दिसंबर माह में नामकरण का शुभ मुहूर्त -  02,09,10,11, 17,18,24,25 और 31 तारीख को नामकरण संस्कार के लिए शुभ माना गया है। 

 

संबंधित लेख 

विवाह शुभ मुहूर्त 2020 । गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त 2020 । मुंडन मुहूर्त 2020 । वाहन खरीद शुभ मुहूर्त । नामकरण संस्कार – हिंदू धर्म में पंचम संस्कार है नामकरण

एस्ट्रो लेख

हिन्दू-मुस्लिम ...

“जिस बाग में तरह-तरह के फूल हों, उसकी खूबसूरती अद्भुत होती है“ -स्वामी विवेकानंद हमारे देशरूपी बाग में अनेक धर्मों ने फूलों की तरह खिलकर इसे खूबसूरत गुलदस्ते का रूप दिया है। यही...

और पढ़ें ➜

श्री हनुमान जयन...

प्रभु श्री राम के भक्त, संकट मोचन, महावीर, बजरंग बलि हनुमान की महिमा सबसे न्यारी हैं। सूरज को निगलना, पर्वत को उठाकर उड़ना, रावण की सोने की लंका को फूंकना कितने ही ऐसे असंभव लगने व...

और पढ़ें ➜

हनुमान जी के इस...

क्या आपने कभी सुना या पढ़ा है कि भगवान भी अपने भक्त को किसी मांग के पूरा होने की गारंटी दे सकते हैं। जी हाँ, अपने ऐसा कभी सोचा भी नहीं होगा। लेकिन कर्नाटक राज्य के गुलबर्गा क्षेत्र ...

और पढ़ें ➜

गंधमादन पर्वत -...

श्री हनुमान चालीसा में गोस्वामी तुलसीदास ने भी लिखा है कि – ‘चारो जुग परताप तुम्हारा है परसिद्ध जगत उजियारा।’ इस चौपाई में साफ संकेत है कि हनुमान जी ऐसे देवता है, जो हर ...

और पढ़ें ➜