सूर्य ग्रहण 2020 जानें राशिनुसार क्या पड़ेगा प्रभाव

20 जून 2020

21 जून को वर्ष 2020 का पहला सूर्यग्रहण लगेगा। सूर्य और चंद्र ग्रहण दोनों ही शुभ कार्यों के लिये अशुभ माने जाते हैं। यह खंडग्रास सूर्य ग्रहण भारत में भी दिखाई देगा। जिस कारण यह बड़े स्तर पर भारतीयों को भी प्रभावित करेगा। इस ग्रहण का सूतक 12 घंटे पहले शनिवार की शाम से 10 बजकर 27 मिनट से शुरू हो जाएगा, जिसके कारण मंदिर 21 जून को बंद रहेंगे। 

 

खास बात यह है कि इस बार सूर्य ग्रहण वाले दिन कुल 6 ग्रह वक्री रहेंगे जिससे पूरे विश्व में उथल-पुथल रहेगी। यह ग्रहण विश्व में आर्थिक मंदी की ओर संकेत कर रहे हैं और भविष्य में बड़ी प्राकृतिक आपदा आने की संभावना भी है। ज्योतिष के अनुसार एक महीने में जब भी 2 से अधिक ग्रहण लगते हैं तो विश्व को कष्टों का सामना करना पड़ता है। वहीं जिन जातकों की कुंडली में ग्रहण दोष है? या फिर कुंडली के अनुसार सूर्य मुख्य रूप से प्रभाव डाल रहे हैं तो ऐसे में ग्रहण के कारण पीड़ित सूर्य की दशा व अन्य ग्रहों की स्थिति विभिन्न राशियों को जरूर प्रभावित करेगी। एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्या सिम्मी इस बारे में क्या कहती हैं आइये जानते हैं।

 

12 राशियों पर प्रभाव -

मेष राशि 

राशि से पराक्रम भाव में पड़ने वाला कंकण सूर्य ग्रहण आपका आर्थिक पक्ष मजबूत करेगा।  कार्य व्यापार में उन्नति होगी। आपके साहस एवं शौर्ये की सराहना तो होगी ही, आपके द्वारा लिए गए निर्णय सफल रहेंगे।  

  • उपाय के तौर पर गुड़ का दान करें।  

 

वृषभ राशि 

राशि से धनभाव में पड़ने वाला ये सूर्य ग्रहण पारिवारिक कलह एवं मानसिक अशांति दे सकता है। स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा, अपनी आंखों का खास ख्याल रखें। परिवार में अलगाव न पैदा होने दें। किसी को भी कर्ज देने से बचे। ऑफिस का काम करने के बाद सीधे घर पर ही आएं और विवादों से दूर रहे।   

  • उपाए के तौर पर सफेद रंग की मिठाई का दान करें। 

 

मिथुन राशि 
आपकी राशि पर लगने वाला ग्रहण आपके लिए सर्वाधिक कष्ट कारक सिद्ध हो सकता है, इसलिए अपनी ज़िद एवं आवेश पर नियंत्रण रखते हुए स्वभाव में चिड़चिड़ापन ना आने दें।  यात्रा सावधानीपूर्वक करें वाहन दुर्घटना से बचें कार्य क्षेत्र में भी उच्चाधिकारियों से मधुर सबंध बनाये रखें।

  • उपाए के तौर पर हरी मूंग की दाल का दान करें।  

 

कर्क राशि 

राशि से व्यय भाव में पड़ने वाला यह ग्रहण आपके स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डालेगा। अपनी आंखों का ध्यान रखें। कोर्ट कचहरी के मामले बाहर ही सुलझा लें तो बेहतर रहेगा। किसी सम्बन्धी अथवा मित्र के द्वारा कष्टकारी समाचार मिल सकता है। यात्रा भी करनी पड़ सकती है। 

  • उपाय के तौर पर मसूर की दाल का दान करें।  

सिंह राशि 

राशि से लाभ भाव मे पड़ने वाला ये ग्रहण आपके भाग्य के लिए अच्छा है। ये आपके भाग्य उन्नति के नए रास्ते बनाएगा। आपके आय के साधनों में वृद्धि होगी। 

  • उपाय के तौर पर गुड़ या कपड़ों का दान करें। 


कन्या राशि 

राशि से दशम भाव मे पड़ने वाला यह सूर्य ग्रहण आपके पिता के स्वास्थ्य पर विपरीत असर डाल सकता है। इसीलिए अपने पिता का ध्यान रखें। कार्य स्थल पर परेशानी आ सकती है। 

  • उपाय के तौर पर साबुत हरी मूंग की दाल का दान करें।  

 

तुला राशि 

राशि से भाग्य स्थान मे पड़ने वाला यह ग्रहण आपके कामों मे रूकावट ला सकता है। संतान संभावित परेशानी आ सकती है अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखे। 

  • उपाय के तौर पर सफ़ेद वस्त्र और वस्तुओं का दान गरीबों को करें।  


वृश्चिक राशि 

राशि से अष्टम भाव में पड़ने वाला यह ग्रहण आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। आपको पेट सम्बन्धित परेशानी आ सकती है। आपका रुका हुआ धन आपको वापस मिल सकता है। कार्य स्थल पर कोई भी निर्णय सोच समझ कर लें, अन्यथा परेशानी आ सकती है।

  •  उपाय के तौर पर सात प्रकार के अनाज का दान करें। 

 

धनु राशि 

राशि से सत्तम भाव में पड़ने वाला यह ग्रहण आपके पारिवारिक जीवन में कठिनाई ला सकता है इसलिए आपस में प्रेम पूर्वक रहे और झगड़ों से बचें। यात्रा पर अधिक खर्च हो सकता है, किसी सम्बन्धी से कोई दुःखद समाचार प्राप्त हो सकता है।

  • उपाय के तौर पर पीले रंग के वस्त्रो का दान करें। 


मकर राशि 

राशि से छठे भाव में पड़ने वाला सूर्य ग्रहण मिला जुला फल देगा। आपके शत्रु आपको तंग कर सकते है। अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें, सेहत से संबंधित परेशानी आ सकती है। कोर्ट कचहरी से संबंधित परेशानियाँ आ सकती हैं।  

  • उपाय के तौर पर उड़द की दाल का दान करें।

 

कुंभ राशि 

राशि से पंचम भाव में पड़ने वाला यह ग्रहण रोमांस के मामलो में उदासीनता लाएगा। प्रेम विवाह के निर्णय में कुछ विलम्ब हो सकता है। संतान संबंधी चिंता भी आपको परेशान कर सकती है। विद्यार्थियों के लिए यह समय काफी सावधानी बरतने का है। पढ़ाई में की गयी लापरवाही नुक़सानदेह साबित हो सकती है इसलिए ध्यान दें।  

  • उपाय के तौर पर सरसों के तेल का दान करें। 

मीन राशि 

राशि से चतुर्थ भाव में पड़ने वाला यह ग्रहण आपको पारिवारिक कलह एवं मानसिक अशांति देगा। किन्तु कहीं न कहीं आपका आर्थिक पक्ष मजबूत भी करेगा। यात्रा सावधानी पूर्वक करें और सामान चोरी होने से बचाएं। विदेशी कंपनियों से सर्विस आदि के लिए वीज़ा का आवेदन करना चाह रहे हैं तो अवसर अच्छा है, इसका फायदा ज़रूर उठाएं। 

  • उपाय के तौर पर चने की दाल का दान करें।  

 

संबंधित लेख

सूर्य ग्रहण 2020   |   चंद्र ग्रहण 2020   |   चंद्र दोष – कैसे लगता है चंद्र दोष क्या हैं उपाय   |  पंचक - क्यों नहीं किये जाते इसमें शुभ कार्य ?   |    कुंडली में कालसर्प दोष और इसके निदान के सरल उपाय    |

सूर्य नमस्कार से प्रसन्न होते हैं सूर्यदेव   |   शनिदेव - क्यों रखते हैं पिता सूर्यदेव से वैरभाव

एस्ट्रो लेख

MI vs RCB - मुंबई इंडियंस vs रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का मैच प्रेडिक्शन

शरद पूर्णिमा 2020 में इन खास योगों के साथ होगी अमृत वर्षा

SRH vs DC - सनराइजर्स हैदराबाद vs दिल्ली कैपिटल्स का मैच प्रेडिक्शन

KKR vs KXIP - कोलकाता नाइट राइडर्स vs किंग्स इलेवन पंजाब का मैच प्रेडिक्शन

Chat now for Support
Support