Skip Navigation Links
यदि आपमें दिखाई देते हैं ये लक्षण तो सपने होंगे सच


यदि आपमें दिखाई देते हैं ये लक्षण तो सपने होंगे सच

जीवन में अपने मुकाम को कौन नहीं हासिल करना चाहता? किसे अपने सपनों से प्यार नहीं होता? लेकिन ये सपने सच होंगे या नहीं यह आप पर, आपकी क्षमताओं पर आपकी प्रतिभाओं पर निर्भर करता है। अपनी प्रतिभा के अनुसार ही लक्ष्य आप तय करते हैं तो आप समय रहते अपने उद्देश्यों को हासिल कर लेते हैं। लेकिन यदि आप अपनी प्रतिभाओं को पहचान ही नहीं पाते हैं तो फिर हो सकता है आप अपनी मंजिल ही विपरीत चुन लें और एक मोड़ पर आकर ठहर जायें और आपको अहसास हो कि यह तो तुम्हारी मंजिल नहीं थी। वहां से वापसी करना आपके लिये बहुत मुश्किल हो जाता है। इतना सब होने के बाद यदि आपको अपनी सही मंजिल का रास्ता मिल भी जाये तो जो समय, जो ऊर्जा आप पहले लगा चुके हैं उसकी भरपाई कर पाना बहुत मुश्किल है। लेकिन व्यक्ति सफल होगा कि नहीं उसके व्यक्तित्व में नीहित लक्षणों को देखकर इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। इन लक्षणों को कोई भी अपने जीवन में अपनाकार कामयाबी के झंडे गाड़ सकता है। तो आइये आपको बताते हैं इन लक्षणों के बारे में –

  1. रचनात्मकता – रचनात्मकता एक ऐसी चीज़ है जिसके जरिये आप किसी भी क्षेत्र में कठोर परिश्रम वाले कार्य भी बहुत ही सहजता व आसानी से कर लेते हैं। कोई व्यक्ति रचनात्मक है या नहीं इसका अंदाजा वह अपने काम करने के तरीके से लगा सकता है। क्या उसे दिमाग में एक काम को करने के अनेक विचार पनपते हैं, क्या वह मुश्किल काम को आसान बनाने के तरीके निकाल लेता है, क्या वह किसी भी कार्य को करने से पहले उसके दूरगामी परिणाम भांप लेता है, क्या आपके विचारों दूसरे आपका मजाक उड़ाते हैं या वे आपसे डरने लगते हैं यदि आपमें इनमें से कोई भी लक्षण है तो निस्संदेह आप रचनात्मक हैं। रचनात्मक व्यक्ति कुछ भी नया करने से घबराते नहीं हैं और ना ही हार के डर से लड़ने से पहले हथियार डालते।
  2. आत्मविश्वास – आत्मविश्वास यानि कि स्वंय पर विश्वास एक ऐसा गुण है यदि जातक में यह आ जाये तो अधिकतर कामयाबी तो उसे वैसे ही मिल जाती है। वहीं यह बात भी पक्के तौर पर कही जा सकती है कि जिसे खुद पर विश्वास होता है वह किसी भी प्रकार की कड़ी मेहनत करने से नहीं कतराता। कुलमिलाकर कहा जा सकता है कि जिसमें आत्मविश्वास कूट-कूट कर भरा हो उसे सफलता अवश्य मिलती है बशर्ते वह आत्मविश्वास की अति वह अहं के भाव से बचे।
  3. सकारात्मकता – सकारात्मक सोच रखने वाला इंसान अपनी हार को भी अगले कदम में जीत के लिये एक सबक के तौर पर लेता है। वह अपनी कामयाबी के प्रति हमेशा आशान्वित रहता है। इसी सोच की बदौलत उसकी छवि से लोग प्रभावित होते हैं और लक्ष्यों की प्राप्ति में उसके सहायक होते हैं। जो लोग सकारात्मक नजरिया रखते हैं सुख-समृद्धि व सफलता के प्रति उनका नज़रिया भी एकदम अलग होता है।

कुल मिलाकर आपकी सफलता की चाबी आपकी रचनात्मकता आपके आत्मविश्वास और सकारात्मक सोच पर निर्भर करती है यदि आपमें ये गुण नहीं है तो आज ही अपने आप में छोटे-छोटे परिवर्तनों के जरिये इन्हें अपनाना शुरु करें। अपने कार्यों में रचनात्मकता, निर्णयों में आत्मविश्वास, परिणामों में सकारात्मकता रखें। कामयाबी कदम चूमेगी।

संबंधित लेख

धन पाने के लिये दूध से करें ये ज्योतिषीय उपाय   |   इस दिशा में दीपक लौ देती है धन लाभ   |   स्वस्तिक से मिलते हैं धन वैभव और सुख समृद्धि   |   

यदि चाहते हैं घर में सुख शांति तो अपनायें ये उपाय   |   कुंडली के वह योग, जो व्यक्ति को बनाते हैं धनवान !   |   हनुमान यज्ञ से प्राप्त होता है धन और यश   |   

इन 5 वास्तु उपायों की मदद से प्राप्त हो सकता है धन   |   अपने धन और संपत्ति के लिए विख्यात 5 मंदिर   |   इन 7 आदतों से दूर हो जाती हैं धन की देवी लक्ष्मी जी

जानिये, राशि के अनुसार धन प्राप्ति के मंत्र




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

राहू राशि परिवर्तन – क्या लायेगा आपके जीवन में बदलाव

राहू राशि परिवर्तन...

18 अगस्त गुरुवार 2017 को प्रात:काल 5 बजकर 53 मिनट मिथुन के चंद्रमा के साथ कर्क राशि में प्रविष्ट होंगे जिसका प्रत्येक राशि पर अलग-अलग प्रभाव ...

और पढ़ें...
राहु और केतु ग्रहों को शांत करने के सरल उपाय

राहु और केतु ग्रहो...

राहु-केतु ग्रहों को छाया ग्रह के नाम से जाना जाता है। ज्योतिष की दुनिया में इन दोनों ही ग्रहों को पापी ग्रह भी बोला जाता है। इन दोनों ग्रहों ...

और पढ़ें...
अजा एकादशी 2017 - जानें एकादशी व्रत की पूजा विधि व मुहूर्त

अजा एकादशी 2017 - ...

हिंदु कैलेंडर के हिसाब से प्रत्येक चंद्रमास में दो पक्ष होते हैं एक कृष्ण पक्ष और एक शुक्ल पक्ष। दोनों पक्षों में पंद्रह तिथियां होती हैं। कृ...

और पढ़ें...
सूर्य ग्रहण 2017

सूर्य ग्रहण 2017

ग्रहण इस शब्द में ही नकारात्मकता झलकती है। एक प्रकार के संकट का आभास होता है, लगता है जैसे कुछ अनिष्ट होगा। ग्रहण एक खगोलीय घटना मात्र नहीं ह...

और पढ़ें...
सूर्य ग्रहण 2017 जानें राशिनुसार क्या पड़ेगा प्रभाव

सूर्य ग्रहण 2017 ज...

21-22 अगस्त को वर्ष 2017 का दूसरा सूर्यग्रहण लगेगा। सूर्य और चंद्र ग्रहण दोनों ही शुभ कार्यों के लिये अशुभ माने जाते हैं। पहला सूर्यग्रहण हाल...

और पढ़ें...