एस्ट्रो लेख

कन्यादान - क्यो...

वैसे तो विवाह संस्कार में अनेक रस्में अदा की जाती है। कुछ हंसी ठिठोली की रस्में होती हैं तो कुछ धर्म कर्म की तो कुछ बहुत ही खास रस्में होती हैं जिनका वर-वधु सहित दोनों के परिवारों ...

और पढ़ें ➜

शनि शिंगणापुर म...

जब भी जातक की कुंडली की बात की जाती है तो सबसे पहले उसमें शनि की दशा देखी जाती है। शनि अच्छा है या बूरा यह जातक के भविष्य के लिये बहुत मायने रखता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार शनि मह...

और पढ़ें ➜

घर की बगिया लाए...

एक खूबसूरत-सा आशियाना और घर के आस पास सुंदर सजीली बगिया। ऐसा हरा भरा घर किसी के लिए भी एक सपने का सच होने जैसा ही है। नवग्रहों की शांति के लिए आपने पूरे मन से कई तंत्र-मन्त्र, जप-त...

और पढ़ें ➜

एक ऐसा मंदिर जह...

भारत मंदिरों का देश है। यहाँ आपको गली-गली और चौराहे पर अलौकिक और चमत्कारिक मंदिर मिल जायेंगे। भारत का कोई मंदिर अपने नाम के लिए, तो कोई अपनी महिमा के लिए विख्यात होता है। भारत मे क...

और पढ़ें ➜

इन 5 वास्तु उपा...

जीवन में कई बार हम कड़ी मेहनत के बाद भी सफलता प्राप्त नहीं कर पाते हैं। निराश जिंदगी और हताश दिल से हम निरंतर खुद को और अपनी किस्मत को कोसते रहते हैं। लेकिन कई बार हमारी छोटी-छोटी भ...

और पढ़ें ➜

गणेश रूद्राक्ष ...

जीवन में अक्सर निर्णायक मोड़ आते रहते हैं जो हमारे जीवन की दशा व दिशा बदल कर रख देते हैं। यदि इन निर्याणक मोड़ों पर हम सही निर्णय लेते हैं तो सकारात्मक परिवर्तन होते हैं और अगर हमा...

और पढ़ें ➜

जानें रत्न धारण...

जीवन में सब कुछ अच्छा ही अच्छा हो, कुछ अनिष्ट न हो, सुख मिले, समृद्धि मिले, तन, मन और धन से हमें कोई परेशानी न हो ऐसी चाहत किसकी नहीं होती और भला कौन इसके लिये प्रयासरत नहीं रहता। ...

और पढ़ें ➜

आपका राशि चक्र ...

हर राशि के व्यक्तियों का व्यक्तित्व एक दुसरे से विभिन्न ही होता है| अक्सर आप भी महसूस करते होंगे कि कुछ कार्य आपको तो पसंद है किन्तु आपके परम मित्र को उस कार्य में ज़रा भी रूचि नही...

और पढ़ें ➜

पुखराज के लाभ -...

जब जातक की कुंडली में ग्रहों की स्थिति कमजोर हो उनके जीवन में उक्त ग्रह के शुभ प्रभाव कम हो जाते हैं जिससे कई बार तो जीवन में उथल-पुथल तक मिल जाती है। ऐसे में कमजोर ग्रहों को मजबूत...

और पढ़ें ➜

मंगल दोष - जाने...

ग्रहों में मंगल पृथ्वी का निकटतम पड़ोसी ग्रह है। सौरमंडल में यह सातवाँ सबसे बड़ा ग्रह है। इसका व्यास 6794 किलोमीटर है जो कि पृथ्वी के व्यास का लगभग आधा है। यह ग्रह सदैव मनुष्य के ल...

और पढ़ें ➜

राम रक्षा स्तोत...

मान्यता है कि प्रभु श्री राम का नाम लेकर पापियों का भी हृद्य परिवर्तित हुआ है। श्री राम के नाम की महिमा अपरंपार है। श्री राम शरणागत की रक्षा करते हैं। वैसे तो दु:खों से छुटकारा पान...

और पढ़ें ➜

आध्यात्मिकता और...

आध्यात्मिकता' शायद इस शब्द का अर्थ आजकल की युवा पीढ़ी को ज्ञात भी नहीं होगा। उनकी समझ से आध्यात्मिकता का अर्थ है मंदिर में बैठ कर भगवान के सामने भजन करना या कोई धर्म कांड। लेकिन सच...

और पढ़ें ➜

आपका राशि चक्र ...

हर राशि के व्यक्तियों का व्यक्तित्व एक दुसरे से अलग ही होता है| अक्सर आप भी सोचते होंगे कि कुछ काम आपको तो पसंद है लेकिन आपके खास दोस्त को उस काम में ज़रा भी मज़ा नहीं आता है| तो आ...

और पढ़ें ➜

ब्रेक-अप के बाद

ज़िन्दगी नाम है कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी हिम्मत के साथ आगे बढ़ने का| उस दर्द के एहसास को अपने भीतर दबाये रख मुस्कुराने का| जब आप दूसरों के सामने खुद को खुली किताब की तरह रख...

और पढ़ें ➜

पन्ना रत्न - ज्...

पन्ना यह शब्द तो आपने सुन्ना ही होगा। हीरे और मोती की तरह ही पन्ना भी एक प्रकार का रत्न है। इसे मरकत मणि, जमरन, एमराल्ड विभिन्न भाषाओं में भिन्न नामों से जाना जाता है। पन्ना आभूषणो...

और पढ़ें ➜

राहू केतु – कैस...

राहू केतु जिन्हें खगोलशास्त्री बेशक ग्रह न मानते हैं लेकिन ज्योतिष शास्त्र में इन्हें बहुत प्रभावी माना जाता है। जन्म से वक्री राहू-केतु छाया ग्रह माने जाते हैं। एक राशि में दोनों ...

और पढ़ें ➜

पंच महापुरुष यो...

ज्योतिष शास्त्र जातक के पैदा होने के समय ग्रहों की दशा व दिशा के आधार पर न सिर्फ उसके भविष्य के बारे मे पूर्वकथन करने में सक्षम हैं वरन जातक के आंतरिक एवं बाह्य व्यक्तित्व का अनुमा...

और पढ़ें ➜

IPL 2017 – MI v...

आईपीएल के दसवें सीज़न में मुबंई एक के बाद एक लगातार मिली जीत से खुश है तो आरसीबी आईपीएल 2017 की अंकतालिका में नीचले पायदान पर है और प्ले ऑफ में जाने की संभावनाओं पर भी उसके लिये वि...

और पढ़ें ➜

चंद्र ग्रह - कै...

चंद्रमा, चांद, चंद्र, सुधाकर, सुधांशु जैसे अनेक नामों से हम एक ऐसे ग्रह के बारे में जानते हैं जो हमें सूर्य के बाद सबसे करीब दिखाई देता है। सबसे चमकीला दिखाई देता है। भले ही वह रोश...

और पढ़ें ➜

खाटू श्याम मंदि...

निर्धन को धनवान का, निर्बल को बलवान और इंसा को भगवान का सहारा मिलना चाहिये। हिम्मत वाले के हिमायती तो राम बताये ही जाते हैं लेकिन हारे हुए बिल्कुल हताश निराश व्यक्ति का सहारा बाबा ...

और पढ़ें ➜