2019 में कैसे रहेंगें सिनेमा के सितारे

सिनेमा का भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर में मनोरंजन का मुख्य स्त्रोत है। भारतीय सिनेमा के तो कहने ही क्या। क्षेत्रीय सिनेमा तो वर्तमान में हिंदी सिनेमा पर हावी भी होता जा रहा है। भारतीय दर्शक अपने पसंदीदा अभिनेता की फिल्म का बड़ी बेसब्री से इंतजार करते हैं लेकिन जब कोई नया अभिनेता या निर्माता अपने कदम सिने जगत में रखता है तो उसे भी दर्शक रातों रात सिर पर उठा लेते हैं। और 2018 में तो यह खूब देखा गया कि अपने आप में सुपर स्टार माने जाने वाले तीनों खान चारों खाने चित्त हो चुके हैं। सलमान खान की रेस 3 हो या फिर आमिर खान व अमिताभ बच्चन की ठग ऑफ हिंदोस्तान, शाहरूख खान की जीरो का हश्र भी कुछ अच्छा नहीं रहा। कुल मिलाकर साल 2018 में सिनेमा जगत ने काफी उतार चढ़ाव देखे हैं। अब सवाल यह है कि साल 2019 सिनेमा के लिये कैसा रहने वाला है। वर्ष आरंभ के समय ग्रहों की दशा दिशा के अनुसार एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों का क्या कहना है आइये जानते हैं।


सिनेमा के सितारे हैं बुलंद

नये साल यानि 2019 का आगमन कन्या लग्न में हो रहा है। लग्न स्वामी वर्ष कुंडली के अनुसार वर्ष लग्न से पराक्रम भाव में विराजमान हैं जोकि फिल्म जगत के लिये अगर लग्न से देखा जाये तो काफी अच्छा रहने के आसार हैं। भारत की कुंडली के अनुसार राशि स्वामी चंद्रमा हैं। चंद्रमा को कला का कारक भी माना जाता है। वर्ष कुंडली के अनुसार चंद्रमा धन भाव में  के हैं। जो कि साफ संकेत कर रहे हैं कि 2019 में कुछ नये चेहरों का उदय बॉलीवुड में हो सकता है। साथ ही उम्मीद की जा सकती है कि इस वर्ष फिल्म जगत नई उपलब्धियां हासिल करे।

आपको कोई उपलब्धि इस साल हासिल होगी की नहीं पढ़ें अपना वार्षिक राशिफल 2019


फिल्मों को लेकर विवाद की संभावनाएं हैं कम

2018 में जिस प्रकार से बड़े बजट की फिल्में कोई खास प्रभाव नहीं छोड़ पाई और छोटे बजट लेकिन अच्छी कहानी वाली फिल्मों को दर्शकों का भरपूर समर्थन मिला उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि 2019 में फिल्म निर्माताओं व निर्देशकों को अच्छी पटकथा के साथ पर्दे पर उतरना पड़ेगा। इस लिहाज से 2019 में सिनेमा से बेहतर मनोरंजन की उम्मीद लगा सकते हैं। ज्योतिषीय दृष्टि से देखें तो कला के घर के स्वामी बृहस्पति व चंद्रमा गजकेसरी योग बना रहे हैं जो कि इस साल को काफी शुभ बनाते हैं। वहीं चंद्रमा शुक्र के साथ लग्न से दूसरे स्थान पर मौजूद हैं जो कि धन का स्थान है। इसका संकेत है कि आर्थिक तौर पर भी इस साल फिल्में अच्छा प्रदर्शन कर सकती हैं। इस साल कुछ कलाकार व कुछ रचनाएं अपनी विशिष्ट छाप छोड़ने में भी कामयाब रह सकते हैं। 


2019 में रीलिज़ होने वाली बड़ी फिल्में

2019 सिनेमा के लिये काफी अच्छा रहने के आसार हैं। लेकिन सिने प्रेमियों की यह उत्सुकता भी होगी कि आखिर आने वाले समय में कौनसी फिल्में हैं जो उन्हें देखने को मिलेंगी। तो हम यहां बॉलीवुड की उन प्रमुख फिल्मों के नाम बता रहे हैं जो इस साल रीलिज़ होने वाली हैं।

हिंदी सिनेमा में 2019 का आगाज़ बहुत ही शानदार रहने की उम्मीद की जा सकती है। जनवरी महीने में ही 'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर', 'ठाकरे', 'मणिकर्णिका', 'सुपर 30' जैसी फिल्में रीलिज़ हो रही है। कंगना रानौत की मणिकर्णिका में वे बतौर निर्देशक भी काम कर रही हैं। वहीं सुपर 30 में ऋतिक रोशन हैं। दोनों की रीलिज़ डेट भी एक है। कंगना और ऋतिक अब बड़े पर्दे पर भी एक दूसरे के आमने सामने होंगे। वहीं पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के कार्यकाल पर बनी द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर व शिव सेना के संस्थापक रहे बाल ठाकरे के जीवन पर बनी ठाकरे अपने ट्रेलर से ही चर्चा में आ चुकी हैं। मनमोहन के रूप में अनुपम खेर काफी वायरल हो रहे हैं तो ठाकरे के रूप में नवाजुद्दीन सिद्दिकी भी ठाकरे जैसी ही छवि छोड़ रहे हैं।

इसके अलावा 2019 में अक्षय कुमार की केसरी, वरुण धवन, संजय दत्त व माधुरी अभिनित कलंक, रणबीर कपूर व आलिया भट्ट और अमिताभ की ब्रह्मास्त्र, सलमान खान की भारत के साथ-साथ किक-2 या दबंग-3  भी इस साल रीलिज़ हो सकती हैं। इसके अलावा भी काफी फिल्में हैं जो इस 2019 में धमाल मचाने को तैयार हैं। 

यह आकलन एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों द्वारा किया गया एक सामान्य आकलन है यदि आप अपना व्यक्तिगत भविष्यफल जानना चाहते हैं तो हमारे ज्योतिषाचार्यों से परामर्श कर सकते हैं। ज्योतिषाचार्यों से परामर्श करने के लिये यहां क्लिक करें।


संबंधित लेख

प्रेमियों के लिये कैसा रहेगा 2019   |   साल 2019 में किस क्षेत्र में बढ़ेंगें रोजगार के अवसर  

2019 क्या लायेगा अच्छे दिन?   |   भारत खेल 2019 - खेलों के लिये कैसा है 2019   |   2019 में क्या कहती है भारत की कुंडली 

2019 में कैसे रहेंगे भारत-पाक संबंध? क्या कहता है ज्योतिष?   |   विद्यार्थियों के लिये कैसा रहेगा साल 2019

एस्ट्रो लेख

मार्गशीर्ष – जा...

चैत्र जहां हिंदू वर्ष का प्रथम मास होता है तो फाल्गुन महीना वर्ष का अंतिम महीना होता है। महीने की गणना चंद्रमा की कलाओं के आधार पर की जाती है इसलिये हर मास को अमावस्या और पूर्णिमा ...

और पढ़ें ➜

देव दिवाली - इस...

आमतौर पर दिवाली के 15 दिन बाद यानि कार्तिक माह की पूर्णिमा के दिन देशभर में देव दिवाली का पर्व मनाया जाता है। इस बार देव दिवाली 12 नवंबर को मनाई जा रही है। इस दिवाली के दिन माता गं...

और पढ़ें ➜

कार्तिक पूर्णिम...

हिंदू पंचांग मास में कार्तिक माह का विशेष महत्व होता है। कृष्ण पक्ष में जहां धनतेरस से लेकर दीपावली जैसे महापर्व आते हैं तो शुक्ल पक्ष में भी गोवर्धन पूजा, भैया दूज लेकर छठ पूजा, ग...

और पढ़ें ➜

तुला राशि में म...

युद्ध और ऊर्जा के कारक मंगल माने जाते हैं। स्वभाव में आक्रामकता मंगल की देन मानी जाती है। पाप ग्रह माने जाने वाले मंगल अनेक स्थितियों में मंगलकारी परिणाम देते हैं तो बहुत सारी स्थि...

और पढ़ें ➜