कौन से सितारे बरसा रहे हैं योगी आदित्यनाथ पर आशीर्वाद, जानें

bell icon Sat, May 28, 2022
टीम एस्ट्रोयोगी टीम एस्ट्रोयोगी के द्वारा
Yogi Adityanath Kundli 2022:योगी आदित्यनाथ कुंडली के अनुसार, कैसा होगा 2022 से 2025 का समय?

योगी आदित्यनाथ भारतीय राजनीति के जाने-माने नेता है जिन्होंने अपनी नेतृत्व क्षमता के दम पर भारतीय राजनीति को नई दिशा दी है। योगी जी अब जल्द ही 50 वर्ष के होने जा रहे है इसलिए इनके जन्मदिन के अवसर पर हम बताएँगे कि आने वाले साल कैसे रहेंगे योगी आदित्यनाथ के लिए?     

भारतीय राजनीति हमेशा से ही आम लोगों के लिए चर्चा का विषय रही है। हमारे देश की राजनीति ने दुनिया को ऐसे अनेक शक्तिशाली नेता दिए है जिन्होंने अपने दम से संसार को प्रभावित किया है। ऐसी ही शख्सियतों में से एक है उत्तर प्रदेश के दूसरी बार मुख्यमंत्री चुने गए योगी आदित्यनाथ। इस साल योगी आदित्यनाथ जी अपना 50वां जन्मदिन मनाएंगे लेकिन उनकी कुंडली में ऐसा क्या राज़ छुपा है जिसने उन्होंने भारतीय राजनीति का चमकता सितारा बनाया, आइये जानते है। 

कौन से ग्रह-नक्षत्रों ने बनाया योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री

  1. नाम: अजय सिंह बिष्ट उर्फ़ योगी आदित्यनाथ 
  2. योगी आदित्यनाथ की उम्र: 49 साल
  3. योगी आदित्यनाथ की जन्म तिथि: 5 जून 1972
  4. जन्म का समय: 12:00:00
  5. जन्म स्थान: गढ़वाल, उत्तराखंड

योगी आदित्यनाथ की राशि

यह भी पढ़ें:👉 क्या कहती है गूगल सीईऔ सुंदर पिचाई की कुंडली 2022 के लिए? जानें 

योगी आदित्यनाथ का पारिवारिक जीवन

योगी आदित्यनाथ का जन्म पंचूर गांव में साधारण परिवार में हुआ था जो की उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले में स्थित है। योगी जी का वास्तविक नाम अजय सिंह बिष्ट था लेकिन गोरखनाथ पीठ के पूर्व महंत अवैद्यनाथ की शरण में एक बार जाने से ये फिर वही के होकर रह गये और इस तरह इनका नाम योगी आदित्यनाथ हुआ। 

इनके राजनीतिक करियर की शुरुआत छात्र जीवन से ही हो गई थी। योगी आदित्यनाथ ने अपना पहला चुनाव भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के टिकट पर अपने गोरखनाथ पीठ के महंत और आध्यात्मिक गुरु अवैद्यनाथ की सीट गोरखपुर से लड़ा था जिसमें इन्हें जीत हासिल हुई। इस चुनाव के बाद से उन्हें कभी भी हार का मुँह नहीं देखना पड़ा।

  • योगी आदित्यनाथ के पिता: आनंद सिंह बिष्ट
  • योगी आदित्यनाथ की माता: सावित्री देवी
  • योगी आदित्यनाथ के भाई: महेंद्र सिंह बिष्ट, शैलेन्द्र मोहन और एक अन्य
  • योगी आदित्यनाथ की बहन: शशि एवं 2 अन्य    

2022 से 2025 के लिए क्या कह रही है योगी आदित्यनाथ की कुंडली?

योगी आदित्यनाथ की कुंडली कुंभ लग्न की है और इनकी चंद्र राशि कुंभ है। वर्तमान समय में योगी जी की कुंडली में बुध की महादशा चल रही हैं जो 23 जून 2008 से लेकर 23 जून 2025 तक चलेगी। गुरु की अंतर्दशा 7 जुलाई 2020 से लेकर 13 अक्टूबर 2022 तक है और मंगल की प्रत्यंतर दशा 24 अप्रैल 2022 से लेकर 11 जून 2022 तक रहने वाली है। 

  • जैसा कि योगी आदित्यनाथ जी की कुंडली में बुध की महादशा है। इनकी कुंडली का बुध अस्त होकर कुंडली के चौथे भाव वृषभ राशि में स्थित है, तो इस महादशा के दौरान योगी जी को अचानक धन हानि हो सकती है और स्वास्थ्य भी बिगड़ सकता है।
  • इस महादशा में योगी आदित्यनाथ जी को अशुभ और शुभ दोनों ही परिणाम प्राप्त होंगे। इस महादशा की अवधि के अंतर्गत जातक के व्यवहार और बुद्धि में सकारात्मक परिवर्तन होंगे। 
  • योगी आदित्यनाथ जी बहुत सलीके से अपना कर्तव्य और कामकाज संभालेंगे। इस दौरान पारिवारिक वातावरण अच्छा रहेगा, परिवारजन, मित्र और भाई बंधुओं के साथ अच्छे संबंध रहेंगे। 
  • इस समय योगी जी को धन से जुड़ें खर्चों को नियंत्रित करना चाहिए। संचार के क्षेत्र में शुभ समाचार प्राप्त होने के योग बनेंगे और करियर में योगी आदित्यनाथ को नाम और शोहरत की प्राप्ति होगी। 

जब योगी आदित्यनाथ की कुंडली में होगी शनि की प्रत्यंतर दशा

  • अगर योगी आदित्यनाथ के लिए साल 2023 को देखा जाए, तो 2023 में शनि की प्रत्यंतर दशा 13 अक्टूबर 2022 से लेकर 17 मार्च 2023 तक चलेगी। 
  • योगी जी शनि के चौथे भाव में वृषभ राशि में अस्त है। ऐसे में जातक को इस समय के मध्य या अंतराल के दौरान करियर यानी पेशेवर जीवन व आर्थिक मामलों में जातक की गति पहले की तुलना में धीमी पड़ सकती है। योगी जी को कार्यस्थल पर दबाव की वजह से कार्य में अधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। 

बुध की प्रत्यंतर दशा होगी शुरू 

इस अवधि के बाद बुध की प्रत्यंतर दशा प्रारंभ होगी। बुध की प्रत्यंतर दशा 17 मार्च 2023 से लेकर 4 अगस्त 2023 के मध्य रहने वाली है। इस समय में योगी जी के जीवन में बेहतर सुधार होगा और आप अपने पेशेवर जीवन में अच्छा निर्णय ले पाएंगे, साथ ही आप अपने कार्यक्षेत्र में लोगों से प्रेम, सम्मान व सराहना प्राप्त करेंगे। 

2023 में केतु की दशा 

  • योगी आदित्यनाथ जी की कुंडली में केतु की प्रत्यंतर दशा रहेगी और यह प्रत्यंतर दशा 4 अगस्त 2023 से लेकर मार्च 2024 तक चलेगी। अभी योगी जी की कुंडली के छठे घर में कर्क राशि में केतु विराजमान है। 
  • केतु समग्र है और योगी जी की कुंडली में इसकी स्थिति सामान्य है। केतु की ये स्थिति योगी आदित्यनाथ के भीतर उत्साहजनक स्थिति उत्पन्न करेगी।
  • यदि हम विस्तारपूर्वक योगी आदित्यनाथ के लिए साल 2023 का विश्लेषण करें, तो 17 मार्च 2023 तक का समय आपके जीवन में थोड़ी समस्या लाएगा, लेकिन इसके बाद का समय योगी जी के जीवन में धीरे-धीरे ऊर्जा लेकर आएगा। 
  • कार्यक्षेत्र में योगी जी को सम्मान की प्राप्ति होगी और आप अपने कार्यक्षेत्र में निष्ठापूर्वक कार्य करेंगे ऐसी स्थिति नजर आ रही है।

योगी आदित्यनाथ जी को एस्ट्रोयोगी के परिवार की तरफ से जन्मदिन ही हार्दिक शुभकामनाएं!

 

अगर आप भी देश के प्रसिद्ध ज्योतिषियों से अपनी जन्म कुंडली का व्यक्तिगत विश्लेषण कराना चाहते है, तो अभी संपर्क करें। 

✍️ By- टीम एस्ट्रोयोगी

chat Support Chat now for Support
chat Support Support