एस्ट्रो लेख

माँ कात्यायनी -...

नवरात्रि के छठे दिन आदिशक्ति श्री दुर्गा के छठे रूप कात्यायनी की पूजा-अर्चना का विधान है। महर्षि कात्यायन की तपस्या से प्रसन्न होकर आदिशक्ति ने उनके यहां पुत्री के रूप में जन्म लिय...

और पढ़ें ➜

तुला राशि में श...

भोर का तारा नाम से मशहूर शुक्र ज्योतिषशास्त्र में अहम स्थान रखते हैं। इन्हें लाभ का कारक माना जाता है। कला में पारंगत अधिकांश वही जातक मिलते हैं जिनकी कुंडली में शुक्र का अच्छे हों...

और पढ़ें ➜

नरक चतुर्दशी 20...

कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी यानि अमावस्या से पूर्व आने वाला दिन जिसे हम छोटी दिवाली के रूप में मनाते हैं। क्या आप जानते हैं इस दिन के महत्व को। शायद बहुत कम लोग इस बारे म...

और पढ़ें ➜

माँ स्कंदमाता -...

नवरात्रि में पांचवें दिन स्कंदमाता की पूजा-अर्चना की जाती है। शास्त्र बताते हैं कि इनकी कृपा से मूढ़ भी ज्ञानी हो जाता है। स्कंद कुमार कार्तिकेय की माता के कारण इन्हें स्कंदमाता नाम...

और पढ़ें ➜

पचमठा मंदिर - इ...

हिंदू धर्म में कई तरह के तीज-त्योहार मनाए जाते हैं। इन त्योहारों में होली, दिवाली और रक्षाबंधन ऐसे प्रमुख पर्व हैं जिनको पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाता है। वहीं इस बार 27 अक्टूब...

और पढ़ें ➜

माँ कूष्माण्डा ...

नवरात्र-पूजन के चौथे दिन कूष्माण्डा देवी के स्वरूप की ही उपासना की जाती है। जब सृष्टि की रचना नहीं हुई थी उस समय अंधकार का साम्राज्य था, तब देवी कुष्मांडा द्वारा ब्रह्माण्ड का जन्म...

और पढ़ें ➜

माँ चंद्रघंटा -...

माँ दुर्गाजी की तीसरी शक्ति का नामचंद्रघंटाहै। नवरात्रि उपासनामें तीसरे दिन की पूजा का अत्यधिक महत्व है और इस दिन इन्हीं के विग्रह कापूजन-आराधन किया जाता है। इस दिन साधक का मन 'मणि...

और पढ़ें ➜

माँ ब्रह्मचारिण...

नवरात्र पर्व के दूसरे दिन माँ  ब्रह्मचारिणी की पूजा-अर्चना की जाती है। साधक इस दिन अपने मन को माँ के चरणों में लगाते हैं। ब्रह्म का अर्थ है तपस्या और चारिणी यानी आचरण करने वाली। इस...

और पढ़ें ➜

नवरात्रों में ड...

नवरात्र व्रत का धार्मिक महत्व तो है ही, इसका वैज्ञानिक महत्व भी है जो स्वास्थ्य की दृष्टि से काफी लाभदायक है। नवरात्रों के दौरान घर पर किया जाने वाला विधिवत हवन भी स्वास्थ्य के लिए...

और पढ़ें ➜

जानें नवरात्रों...

नवरात्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से प्रारम्भ होते हैं। चैत्र नवरात्र हों या शारदीय नवरात्र नौ दिनों तक मां भगवती की पूजा का उत्सव चलता है। लोग मां से मनोकामनायें पूर्ण करने की उ...

और पढ़ें ➜

गोवर्धन 2019 -...

दिवाली के पर्व के बाद कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को गोवर्धन पूजा का पर्व मनाया जाता है। आमतौर पर यह पर्व अक्सर दिवाली के आगामी दिवस पर ही पड़ता है किन्तु कभीकभार दिवाली औ...

और पढ़ें ➜

जानें 2019 में ...

मां दुर्गा को शक्ति की देवी माना जाता है। इसलिए सर्व इच्छाओं की पूर्ति करने वाली होने से परम पुरुषार्थ मोक्ष की प्राप्ति के लिए नौ दिन तक उनके अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है। ...

और पढ़ें ➜

शारदीय नवरात्र ...

वैसे तो पूरे वर्ष में मां दुर्गा यानि देवी की पूजा का पर्व वर्ष में चार बार आता है लेकिन साल में दो बार ही मुख्य रूप से नवरात्रि पूजा की जाती है। प्रथम नवरात्रि चैत्र मास में शुक्ल...

और पढ़ें ➜

कन्या से तुला म...

ज्योतिषशास्त्र में बुध ग्रह को विवेक यानि ज्ञान का कारक माना जाता है। लेखन व प्रकाशन के क्षेत्र से भी इनका संबंध माना जाता है। बुध ग्रह अक्सर सूर्य के साथ-साथ या आस-पास ही रहते हैं...

और पढ़ें ➜

राशिनुसार देवी...

मां शक्ति की आराधना का पर्व शारदीय नवरात्रि पर्व 29 सितंबर से शुरू होने वाला है। ऐसे में हम आपके लिए मां दुर्गा को प्रसन्न करने की सरल व प्रभावी मार्ग बताने जा रहे हैं। जिससे आप मा...

और पढ़ें ➜

अखंड ज्योति - न...

नवरात्रि का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है। साल में हम 2 बार देवी की आराधना करते हैं। चैत्र नवरात्रि चैत्र मास के शुक्ल प्रतिपदा को शुरु होती है और रामनवमी पर यह खत्म होती है, वहीं ...

और पढ़ें ➜

माँ शैलपुत्री -...

देवी दुर्गा के नौ रूप होते हैं। दुर्गाजी पहले स्वरूप में 'शैलपुत्री' के नाम से जानी जाती हैं। ये ही नवदुर्गाओं में प्रथम दुर्गा हैं। पर्वतराज हिमालय के घर पुत्री रूप में उत्पन्न हो...

और पढ़ें ➜

भैया दूज 2019 -...

भाई-बहन के प्रेम, स्नेह का प्रतीक भैया दूज दिवाली के जगमगाते पर्व के दो दिन बाद मनाया जाता है| भारत में ‘रक्षा बंधन’ के अलावा यह दूसरा पर्व है जो भाई-बहन का स्नेह प्रतीक है| इस पर्...

और पढ़ें ➜

कन्या राशि में ...

मेष एवं वृश्चिक राशियों के स्वामी मंगल क्रूर ग्रहों में से एक माने जाते हैं। मंगल जहां किसी का मंगल कर सकते हैं वहीं भारी अमंगल की आशंका भी उनसे रहती है। 25 सितंबर  को मंगल कन्या र...

और पढ़ें ➜

धनतेरस 2019 - र...

इस बार 5 दिवसीय महापर्व दीपावली की शुरूआत 25 अक्टूबर यानि धनतेरस के दिन से हो रही है। भारतीय शास्त्रों के अनुसार, धनतेरस के दिन भगवान धनवंतरी की पूजा होती है, इस दिन लोग सोना-चांदी...

और पढ़ें ➜