लव कम्पेटिबिलिटी मिथुन महिला कन्या पुरुष


मिथुन
Kundli mtaching
कन्या

हमेशा आनंद पाने के हिसाब से ये एक अच्छा योग साबित नहीं होता। दोनों ही राशियों का स्वामी ग्रह बुध होने के कारण लम्बे समय में दोनों ही एक दूसरे से कुछ ज्यादा ही अपेक्षाएं रखने लग जाते हैं। मिथुन राशि वालों का तत्व हवा है तथा कन्या राशि का तत्व पृथ्वी है, इसलिए आप दोनों में बहुत कम समानताएँ होती हैं। मिथुन के मूड में बार-बार बदलाव आना उतना ही बुरा होता है जितना कि कन्या राशि वालों का जल्दी-जल्दी आत्मविश्लेषण करना। इसके कारण इन दोनों में बातचीत कम ही हो पाती है। मिथुन राशि का स्वामी ग्रह बहुत तार्किक होता है, वहीं कन्या राशि में ये विश्लेषणात्मक तथा इच्छा रखने वाला होता है। मिथुन की हमेशा बदलाव को चाहने की इच्छा वास्तविकता में रहने वाली कन्या राशि वालों के लिए कई बार बहुत अधिक हो जाती है। एक बात जो दोनों में एक जैसी होती है वो ये है कि दोनों को ही अच्छे कपड़े पहनने का शौक होता है, दोनों ही सफाई पसंद होते हैं, दोनों अच्छे दोस्त होते हैं तथा दोनों ही कला के क्षेत्र से जुड़े रहते हैं। और इन्हीं बातों के आधार पर ये संबंध चल पाता है। अगर ऊपरी रूप से देखा जाए तो दोनों राशि के लोगों में कोई समानता दिखाई नहीं देती, सिवाय इसके कि दोनों ही राशियों का स्वामी बुध ग्रह होता है, जिसके कारण दोनों की ही मानसिक, सामाजिक व व्यावसायिक जरूरतें एक जैसी ही होती हैं। अगर कन्या मिथुन की विश्लेषणात्मक योजनाओं को माने व मिथुन, कन्या के तर्क को माने तो इनका संबंध लंबा चल सकता है।


अन्य राशियों के साथ अपनी लव कम्पेटिबिलिटी जानें

chat support Support
chat support
Chat Now for Support