चांदी के इन उपायों से हो सकती है आपकी चांदी

चांदी एक मूल्यवान धातु मानी जाती है। सोने के पश्चात चांदी की धातु कीमती मानी जाती है। चांदी का महत्व सिर्फ आभूषणों के लिहाज से तो है साथ ही चांदी को पवित्र धातु भी माना जाता है जिस कारण उसका धार्मिक महत्व भी काफी अधिक है। देवी देवताओं को अर्पित करने के लिहाज से भी चांदी का इस्तेमाल सोने के विकल्प के रूप में होता है, दूसरा इसकी कीमत सोने से कम होने के कारण आर्थिक रूप से थोड़ी कमजोर हैसियत रखने वालों के लिये भी यह सरल सुलभ होती है। इतना ही नहीं चांदी हमारी सेहत के लिये भी काफी लाभदायक मानी जाती है। आपने खाने पीने की वस्तुओं पर खास तौर पर मिठाईयों में चांदी के वर्क के इस्तेमाल को जरूर देखा होगा। लेकिन चांदी सिर्फ सेहत के लिये ही नहीं और भी धार्मिक कर्मकांडों में उपयोगी है। चांदी के ज्योतिषीय उपाय आपकी किस्मत भी चमका सकते हैं, कैसे? आइये जानते हैं।

अपनायें चांदी के ये उपाय

धन प्राप्ति के उपाय – घर में वायव्य कोण यानि उत्तर और पश्चिम दिशा का मध्य कोण इस स्थान पर मिट्टी के किसी साफ सुथरे बर्तन में चांदी के सिक्कों को लाल कपड़े में बांधकर रखें व इस बर्तन को चावल या गेंहू आदि किसी अन्न से भर दें। मान्यता है कि इससे घर में धन का आगमन होने लगता है।

चांदी के बर्तन भी देते हैं लाभ – कुछ दशक पहले तक घरों में आम तौर पर चांदी के बर्तन पाये जाते थे, लेकिन समय के साथ साथ चांदी और कांस्य और पीतल का स्थान अब स्टील के बर्तनों ने लिया है। लेकिन चांदी के बर्तन हमारे स्वास्थ्य के लिये तो लाभदायक थे ही साथ ही मान्यता है कि इनसे घऱ में सुख शांति व संपन्नता भी आती है। इसलिये आप भी अपने घर में कोई शुभ अवसर देख कर चांदी का कोई बर्तन अवश्य खरीदकर लायें।

पदौन्नति भी दिलाती है चांदी – चांदी न सिर्फ घर में रखने से सुख-समृद्धि लेकर आती है बल्कि यदि चांदी के चौकोर टुकड़े को आप अपनी जेब में रखें तो मान्यता है कि इससे नौकरी में आपकी पदौन्नति की संभावनाएं प्रबल हो जाती हैं। वहीं यदि आप व्यवसायी हैं तो अपनी जेब में चांदी से बना छोटा सा हाथी रख सकते हैं मान्यता है कि यह आपको व्यवसाय में तरक्की व लाभ सुनिश्चित करता है।

बिमारी से निजात – यदि आप या आपका कोई परिजन बिमारी से पीड़ित है तो दवा-दारू के साथ चांदी के इस टोटके को भी आजमा कर देखें। गोमती चक्र को लेकर उसे चांदी की तार में पिरोयें व रोगी के पलंग के सिरहाने बांध दें, मान्यता है कि जल्द ही रोगी के स्वास्थ्य में लाभ मिलने लगता है। 

उपरोक्त उपाय वैदिक ज्योतिष में सामान्य तौर पर कारगर माने जाते हैं लेकिन यह उपाय आपके लिये पूरी तरह कारगर हों इसके लिये विद्वान ज्योतिषाचार्यों से अवश्य परामर्श करें। एस्ट्रोयोगी पर देश के जाने-माने ज्योतिषाचार्यों से आप घर बैठे बात कर सकते हैं। अभी बात करने के लिये यहां क्लिक करें।

संबंधित लेख

नवरात्रि ज्योतिष उपाय - कर्ज मुक्ति के ये उपाय नवरात्र में अपनाये   |   हथेली के वो निशान जो बनाते हैं धनवान   |   यदि चाहते हैं घर में सुख शांति तो अपनायें ये उपाय

ना करें ऐसी नादानी कि फिर जाये किये पर पानी   |   इस दिशा में दीपक लौ देती है धन लाभ   |   धन पाने के लिये दूध से करें ये ज्योतिषीय उपाय

क्या हैं मोटापा दूर करने के ज्योतिषीय उपाय   |   इन 5 वास्तु उपायों की मदद से प्राप्त हो सकता है धन   |   स्वस्थ रहने के 5 सरल वास्तु उपाय

एस्ट्रो लेख

बसंत पंचमी पर क...

जब खेतों में सरसों फूली हो/ आम की डाली बौर से झूली हों/ जब पतंगें आसमां में लहराती हैं/ मौसम में मादकता छा जाती है/ तो रुत प्यार की आ जाती है/ जो बसंत ऋतु कहलाती है। सिर्फ खुशगवार ...

और पढ़ें ➜

चक्रवर्ती सम्रा...

गणतंत्र दिवस का चक्रवर्ती सम्राट भरत से क्या कनेक्शन है बता रहे हैं पंडित मनोज कुमार द्विवेदी।   आइये आपको ले चलते हैं द्वापर युग के चक्रवर्ती सम्राट भरत के हस्तिनापुर राजदरबार, ...

और पढ़ें ➜

इस वैलेंटाइन रा...

रूठना मनाना है प्यार, साथ निभाना है प्यार, हंसना-रोना है प्यार, प्यार मिले तो सुहाना है संसार...प्यार एक ऐसी भावना है जिसे शब्दों से जाहिर नहीं किया जा सकता है इसे केवल महसूस किया ...

और पढ़ें ➜

Saturn Transit ...

निलांजन समाभासम् रवीपुत्र यमाग्रजम । छाया मार्तंड संभूतं तं नमामी शनैश्वरम ।। Saturn Transit 2020 - सूर्यपुत्र शनिदेव 24 जनवरी 2020 को भारतीय समय दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर धनु राशि ...

और पढ़ें ➜