मनचाहा जीवनसाथी पाने का फेंगशुई फंडा

प्यार में हारा, प्यार का मारा व्यक्ति अपने प्यार को पाने के लिये कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहता है और रहे भी क्यों न प्यार आखिर सुखी जीवन की एक मूलभूत जरूरत जो है। प्यार के बिना जीवन नीरस, बेरंग या यूं कहें कि जीवन जीवन ही नहीं लगता। भारतीय ज्योतिष तो इस तरह के मामलों में आपकी मदद करता ही है लेकिन आजकल चीनी वास्तु भी काफी लोकप्रिय हो रहा है। चीनी वास्तुशास्त्र यानि की फेंगशुई का नाम आपने सुना होगा। फेंगशुई में एक ऐसे तरीके को बताया गया है जिसे आजमाकर आप अपने प्यार को हासिल करने का प्रयास कर सकते हैं। हालांकि फेंगशुई के इस नुस्खे की करामात कितनी सही है यह तो आप प्रयोग करने के बाद ही जान सकते हैं फिलहाल फेंगशुई में यकीन रखने वालों के लिये हम पेश कर रहे हैं फेंगशुई का वो तरीका जिसे आजमाकर आपको अपना मनचाहा साथी मिल सकता है।

 

कैसे मिलेगा मनचाहा प्यार फेंगशुई अनुसार


फेंगशुई में चंद्रमा को बहुत ही शुभ माना जाता है। खासकर प्रेम, विवाह के मामले में तो फेंगशुई में यकीन रखने वाले चंद्रमा को ही इसका कारक मानते हैं। हालांकि चांद की तो आम जीवन में भी तुलना अपने प्यार से की ही जाती है और भारतीय ज्योतिष में भी चंद्रमा को मन का कारक माना जाता है। फेंगशुई के अनुसार अपना मनचाहा पार्टनर पाने के लिये आपको चंद्रमा के साथ ही यह प्रयोग करना होगा।

 

बुलबुले उड़ाने से मिलेगा मनचाहा प्यार


फेंगशुई का यह प्रयोग बहुत ही आसान और रोमांचक भी है। बच्चे तो अक्सर इसे करते रहते हैं। जब भी आप मस्ती करने के मूड में होते हैं तब आप भी इसे आजमां सकते हैं। आपको करना बस इतना है कि जब आसमान में पूर्ण चंद्रमा दिखाई दे रहा हो जो कि पूर्णिमा को ही दिखाई देता है। उस समय आपको पानी में साबुन मिलाकर एक स्ट्रा से बुलबुले बनाकर चंद्रमा की ओर उड़ा दें। अपने प्रियतम या अपनी प्रेयसी को पाने की सिद्दत ऐसी हो कि बुलबुलों में आपको उनका चेहरा नज़र आये या फिर आप पहले से ही अपने साथी के साथ प्रेम संबंध में हैं और चाहते हैं कि वही आपका जीवनसाथी बनें तो ऐसे में आप अपने साथी को सामने बैठाकर साबुन के पानी के बुलबुले चंद्रमा की ओर उड़ायें व उनमें से अपने साथी का चेहरा देखें। फेंगशुई के जानकार ऐसा यकीन रखते हैं कि आपका यह प्रयोग आपकी मनोकामना को पूर्ण करता है और अपने साथी के साथ रहने का आपका सपना पूरा होता है। तो देर किस बात की है इस पूर्णमासी पर बुलबुले उड़ाएं आसमान में चमकते चांद के साथ अपने चांद का दिदार करें। 

यह भी पढ़ें

प्यार की पींघें बढानी हैं तो याद रखें फेंग शुई के ये लव टिप्स   |   जानिये, दाम्पत्य जीवन में कलह और मधुरता के योग   | 

वैलेंटाइन डे   |   किस डे   |   हग डेप्रोमिस डे   |   चॉकलेट डे   |   वैलेंटाइन वीक   |   रोज़ डे  |   प्रपोज डे   |   प्रेमियों के लिये कैसा रहेगा 2017   |   

कुंडली में प्रेम   |   कुंडली में विवाह योग   |   कुंडली में संतान योग   |   पढ़ें अपनी प्रेम प्रोफाइल   |   पढ़ें साल की लव रिपोर्ट   |   दैनिक लव राशिफल   |

एस्ट्रो लेख

पितृपक्ष के दौर...

भारतीय परंपरा और हिंदू धर्म में पितृपक्ष के दौरान पितरों की पूजा और पिंडदान का अपना ही एक विशेष महत्व है। इस साल 13 सितंबर 2019 से 16 दिवसीय महालय श्राद्ध पक्ष शुरु हो रहा है और 28...

और पढ़ें ➜

श्राद्ध विधि – ...

श्राद्ध एक ऐसा कर्म है जिसमें परिवार के दिवंगत व्यक्तियों (मातृकुल और पितृकुल), अपने ईष्ट देवताओं, गुरूओं आदि के प्रति श्रद्धा प्रकट करने के लिये किया जाता है। मान्यता है कि हमारी ...

और पढ़ें ➜

श्राद्ध 2019 - ...

श्राद्ध साधारण शब्दों में श्राद्ध का अर्थ अपने कुल देवताओं, पितरों, अथवा अपने पूर्वजों के प्रति श्रद्धा प्रकट करना है। हिंदू पंचाग के अनुसार वर्ष में पंद्रह दिन की एक विशेष अवधि है...

और पढ़ें ➜

भाद्रपद पूर्णिम...

पूर्णिमा की तिथि धार्मिक रूप से बहुत ही खास मानी जाती है विशेषकर हिंदूओं में इसे बहुत ही पुण्य फलदायी तिथि माना जाता है। वैसे तो प्रत्येक मास की पूर्णिमा महत्वपूर्ण होती है लेकिन भ...

और पढ़ें ➜