Skip Navigation Links
मंगल राशि परिवर्तन - राशिनुसार होंगे ये बदलाव



मंगल राशि परिवर्तन - राशिनुसार होंगे ये बदलाव

राशिचक्र की 12 राशियों में मेष एवं वृश्चिक राशियों के स्वामी मंगल को एक क्रूर ग्रह माना जाता है। मंगल ऊर्जा के, युद्ध के प्रतीक हैं। स्वभाव में क्रोध की वृद्धि करते हैं। हालांकि मंगल शुभ प्रभाव भी डालते हैं लेकिन मंगल को मंगल के लिये कम अमंगल के लिये अधिक जाना जाता है। यही कारण है कि मंगल का गोचर ज्योतिषीय दृष्टि से बहुत अहमियत रखता है। 27 अगस्त को मंगल का परिवर्तन हो रहा है। मंगल कर्क राशि से परिवर्तित होकर सिंह राशि में प्रवेश करेंगें। आइये जानते हैं मंगल का यह राशि परिवर्तन सभी 12 राशियों को कैसे प्रभावित करेगा।

मेष – राशि स्वामी मंगल का परिवर्तन पंचम स्थान में हो रहा है जो कि आपके लिये संतान, शिक्षा एवं प्रेम संबंधों का स्थान है। निम्न राशि कर्क को छोड़कर सिंह राशि में मंगल का आना आपके लिये सकारात्मक रहने के आसार हैं। संतान का सुख आपको मिल सकता है। यदि नया घर या वाहन खरीदने के लिये प्रयासरत हैं तो इस समय बात बन सकती है। कार्यक्षेत्र में बदलाव के इच्छुक जातकों के लिये भी यह समय अच्छा कहा जा सकता है। विद्यार्थियों को भी इस समय सकारात्मक परिणाम मिलने के आसार हैं।

वृषभ – वृषभ राशि वालों के लिये मंगल पराक्रम स्थान से सुखभाव में प्रवेश कर रहे हैं। मंगल का यह राशि परिवर्तन आपके लिये काफी सकारात्मक परिणाम लेकर आ सकता है। पैतृक संपत्ति से आपको लाभ मिल सकता है। यदि नया वाहन या नया घर लेने के लिये प्रयासरत हैं या फिर स्वयं का कोई व्यवसाय शुरु करने के इच्छुक हैं तो यह समय आपके लिये बिल्कुल उचित है। माता का स्वास्थ्य बेहतर होने से भी आपको सुख का अनुभव हो सकता है।

मिथुन - मिथुन जातकों के लिये मंगल का परिवर्तन तृतीय भाव में हो रहा है जो कि आपके पराक्रम का स्थान है। मंगल का यह परिवर्तन आपके आपके पराक्रम में वृद्धि करने वाला तो है ही साथ ही भविष्य के लिये भी आपको काफी शुभ संकेत मिल सकते हैं। छोटे भाई-बहनों के साथ भी आपके संबंध काफी बेहतर रह सकते हैं साथ ही उनकी किसी उपलब्धि से आप स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर सकते हैं। कामकाज के सिलसिले में आपको छोटी-मोटी यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं।

कर्क – आपकी राशि से मंगल का परिवर्तन दूसरे स्थान में हो रहा है। धन भाव में मंगल के आगमन से धन प्राप्ति के योग आपके लिये बन रहे हैं। विशेषकर ससुराल पक्ष से आपको संपत्ति प्राप्त होने के योग बन रहे हैं। हालांकि आपके अपने परिवार में चचेरे भाइयों के साथ वाद-विवाद हो सकता है जिससे आपके संबंध भी बिगड़ सकते हैं। कुल मिलाकर मंगल का यह परिवर्तन आपके जीवन में मिलेजुले परिणाम लेकर आ सकता है।

सिंह – अपनी नीच राशि कर्क को छोड़कर मंगल आपकी ही राशि में प्रवेश कर रहे हैं। यह समय आपके आत्मविश्वास में वृद्धि करने वाला रह सकता है। साथ ही खर्च कम होने से आपकी आर्थिक स्थिति भी बेहतर हो सकती है। लंबे समय से यदि कोई कार्य अधूरा पड़ा है, कोई वस्तु आपको व्यर्थ नज़र आ रही है तो इस समय लंबित कार्य पूरे एवं व्यर्थ नज़र आने वाली वस्तु आपके लिये उपयोगी हो सकती है। कार्यक्षेत्र के लिये भी समय आपके अनुकूल रहने के आसार हैं सरकारी क्षेत्र से भी काम काज के सिलसिले में आपको लाभ मिलने के आसार हैं।

कन्या – कन्या जातकों को मंगल के राशि परिवर्तन के कारण थोड़ा संभल कर रहने की आवश्यकता है हो सकता है इस समय आपको अपेक्षानुसार परिणाम न मिलें। दरअसल मंगल आपकी राशि से 12वें स्थान में प्रवेश करेंगें। यह समय दुर्घटना के संकेत कर रहा है विशेषकर जलने-कटने की संभावना जिस कार्य में हो उससे या तो दूर रहें या फिर पूरी सावधानी से उक्त कार्यों को अंजाम दें। संक्रामक रोग की चपेट में आने की भी संभावना है इसलिये खाने-पीने में सावधानी रखें साथ ही सार्वजनिक स्थल (अस्पताल आदि) पर भी मास्क इत्यादि का प्रयोग करें। उन पदार्थों का सेवन करें जो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकें। जीवन साथी के साथ अपने व्यवहार को विनम्र रखें, मनमुटाव हो सकता है। काम काज के सिलसिले में घर से दूर भी आपको जाना पड़ सकता है जो कि आपके साथी की नाराजगी का कारण भी हो सकता है। आपके पराक्रम में इस समय कमी हो सकती है।

तुला – तुला राशि वालों के लिये मंगल लाभ स्थान में प्रवेश करेंगें। मंगल का यह परिवर्तन आपके लिये धन प्राप्ति के योग तो बनाएगा ही साथ ही अविवाहित जातकों के रिश्ते की बात भी सिरे चढ़ सकती है। इस समय आपकी ऊर्जा, आपके पराक्रम में वृद्धि होने की संभावना है। बड़े भाई या अपने वरिष्ठ कर्मियों के साथ व्यवहार में विनम्रता रखें वाद-विवाद से आपकी छवि पर नकारात्मक असर पड़ सकता है।

वृश्चिक – राशि स्वामी मंगल का परिवर्तन आपकी राशि से दसवें स्थान पर हो रहा है जो कि आपका कर्मक्षेत्र है। सिंह राशि में मंगल का आना रक्षाक्षेत्र में करियर बनाने के इच्छुक जातकों के लिये शुभ परिणाम लेकर आ सकता है। इंजीनियरिंग के क्षेत्र से जुड़े जातकों को भी इस समय सफलता मिल सकती है। कुल मिलाकर काम काज के सिलसिले में आपको सुखद परिणाम मिल सकते हैं।

धनु – अष्टम स्थान से परिवर्तित होकर मंगल आपकी राशि से भाग्य स्थान में प्रवेश कर रहे हैं। मंगल का यह परिवर्तन आपके जीवन में काफी सुखद बदलाव लेकर आ सकता है। इस समय रोजगार की तलाश में जुटे जातकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध हो सकते हैं साथ ही पहले से नौकरी कर रहे जातक यदि वर्तमान क्षेत्र से असंतुष्ट हैं तो उन्हें भी नौकरी बदलने के बेहतर अवसर मिल सकते हैं। माता-पिता सहित घर के बड़े-बुजूर्गों का भी इस समय भरपूर सहयोग आपको मिल सकता है। धार्मिक कार्यों की ओर भी आपका रूझान होने के आसार हैं। यदि लंबे समय से किसी धार्मिक स्थल की यात्रा के इच्छुक हैं तो यात्रा पर जाने के लिये समय उचित है।

मकर – मंगल का परिवर्तन आपके लिये कुछ खास उत्साहजनक नहीं है। आपकी राशि से आठवें स्थान में मंगल प्रवेश कर रहे हैं। अपनी सेहत का विशेष रूप से ध्यान रखें। जलने-कटने या फिर दुर्घटनावश कोई चोट लगने की संभावनाएं भी हैं। कार्यस्थल पर भी आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है साथ ही धन हानि के संकेत भी अष्टम मंगल आपके लिये कर रहे हैं। कुल मिलाकर आपके लिये सलाह है कि सतर्क रहें व मंगल की शांति के उपाय करें।

कुंभ – कुंभ जातकों के लिये मंगल का परिवर्तन सप्तम स्थान में हो रहा है। मंगल इस समय आपके लिये काफी सुखद परिणाम लेकर आ सकते हैं। इस समय अविवाहित जातकों के लिये विवाह के योग बन सकते हैं। जो विवाहित दंपत्ति संतान की कामना रखते हैं उन्हें भी खुशखबरी मिल सकती है। हालांकि कुंभ प्रेमी युगलों के लिये यह समय असमंजस वाला रहेगा, हो सकता है आप अपने रिश्ते को निर्णायक मोड़ देने की स्थिति में फिलहाल न हों। जो जातक कार्यक्षेत्र में परिवर्तन के इच्छुक हैं उन्हें भी अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

मीन – मीन जातकों के लिये मंगल का परिवर्तन अमंगलकारी रह सकता है। मंगल आपके छठे घर में प्रवेश करेंगें जो कि आपका रोग व शत्रु का स्थान है। इस समय आपके प्रतिद्वंदियों की संख्या बढ़ सकती है। हो सकता है कार्यस्थल पर भी कोई सहकर्मी आपसे ईर्ष्या के कारण आपको नीचा दिखाने का प्रयास करे या आपकी छवि को नुक्सान पंहुचाने के लिये वरिष्ठ अधिकारियों से चुगली करे। आपके लिये सलाह है कि उनसे उलझने की बजाय अपने काम से काम रखकर अपनी मेहनत और रचनात्मकता से उनकी बोलती बंद करें। किसी अदालती मामले में फैसले का इंतजार कर रहे हैं तो वह आपके पक्ष में आ सकता है। यदि व्यवसाय में पैसे की दिक्कत सामने आ रही है तो इस समय मंगल के प्रभाव से आपको कर्ज मिल सकता है। साथ ही किसी पुराने कर्ज के बढ़ने की संभावना भी बन सकती है।

मंगल के नकारात्मक प्रभावों से बचने के लिये अपनी कुंडली के अनुसार एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों से जानें सरल ज्योतिषीय उपाय। अभी परामर्श करने के लिये यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें

मंगल दोष - जानें कुंडली में मंगल दोष निवारण के उपाय   |   मूंगा रत्न – मंगल की पीड़ा को हर लेता है मूंगा   |   युद्ध देवता मंगल का कैसे हुआ जन्म पढ़ें पौराणिक कथा




एस्ट्रो लेख संग्रह से अन्य लेख पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

शुक्र अस्त - अब 3 फरवरी के बाद बजेंगी शहनाइयां!

शुक्र अस्त - अब 3 ...

विवाह के लिये सर्दियों का मौसम बहुत ही अच्छा माना जाता है। क्योंकि ऐसा मानना है कि सर्दियों के मौसम खाने पीने से लेकर ओढ़ने पहनने व संजने संव...

और पढ़ें...
पौष अमावस्या – 12 साल बाद बन रहा है अद्भुत संयोग!

पौष अमावस्या – 12 ...

धार्मिक दृष्टि से पौष मास का बहुत ही खास महत्व होता है। इस माह में अक्सर सूर्य धनु राशि में विचरण करते हैं। इस कारण आध्यात्मिक उन्नति के लिये...

और पढ़ें...
खर मास - क्या करें क्या न करें

खर मास - क्या करें...

भारतीय पंचाग के अनुसार जब सूर्य धनु राशि में संक्रांति करते हैं तो यह समय शुभ नहीं माना जाता इसी कारण जब तक सर्य मकर राशि में संक्रमित नहीं ह...

और पढ़ें...
गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 भविष्यवाणी

गुजरात विधानसभा चु...

गुजरात चुनाव 2017 में अब बहुत समय नहीं बचा है 9 दिसंबर को प्रथम चरण का मतदान होगा तो 14 दिसंबर को दूसरे व अंतिम चरण का। 18 दिसंबर को यह पता च...

और पढ़ें...
अस्त शनि से मिल सकता है भंसाली की पद्मावती को लाभ !

अस्त शनि से मिल सक...

संजय लीला भंसाली हिंदी सिनेमा के जाने-माने चेहरे हैं। बड़े-बड़े सेट, बड़ी स्टार कास्ट और बड़े तामझाम से सजी फिल्मों के निर्माण व निर्देशन के ...

और पढ़ें...